शुक्रवार, जनवरी 22, 2021
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 96: तमिल थलाइवाज़ और पुनेरी पलटन का मैच टाई,...

प्रो कबड्डी मैच 96: तमिल थलाइवाज़ और पुनेरी पलटन का मैच टाई, लगातार 11 मैचों से तमिल को नहीं मिल रही जीत

बुधवार को पुणे के श्री शिव छत्रपति स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, महालुंगे, बालेवाड़ी में खेला गया 96वें मुक़ाबला पुनेरी पलटन और तमिल थलाइवाज़ के बीच टई हो गया। तमिल को अब पिछले 11 मैचों में एक भी जीत नहीं मिली है, जो प्रो कबड्डी इतिहास में उनका सबसे ख़राब दौर है। पुनेरी के लिए इस मैच में एक बार फिर हीरो रहे मनजीत जिन्होंने अपने करियर का चौथा सुपर-10 किया और उनका बख़ूबी साथ निभाया एक और रेडर पंकज मोहिते ने, पंकज को भी 8 रेड प्वाइंट्स मिले। जबकि डिफ़ेंस में पुनेरी के लिए अमित कुमार ने 3 टैकल प्वाइंट्स लिए, उन्हें एक रेड प्वाइंट भी मिला। तमिल की ओर से राहुल चौधरी (3 रेड प्वाइंट्स और एक टैकल प्वाइंट) एक बार फिर फ़्लॉप रहे जबकि अजीत कुमार ने लाजवाब प्रदर्शन करते हुए सुपर-10 भी पूरा किया और कुल 18 रेड प्वाइंट्स लिया।

वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में जानिए किन दो भारतीय मुक्केबाज़ों ने पदक कर दिए हैं पक्के

पहले हाफ़ की शुरुआत में ही मेज़बान पुनेरी पलटन ने अपने इरादे साफ़ कर दिए थे, और 7वें मिनट में ही तमिल को ऑलआउट करते हुए बढ़त बना ली थी। पहले हाफ़ की बड़ी क़ामयाबी पुनेरी के लिए ये भी रही कि राहुल चौधरी को पुनेरी के डिफ़ेंडरों ने पूरी तरह से शांत रखा और सिर्फ़ दो रेड प्वाइंट्स ही लेने दिए। पुनेरी की ओर से मनजीत और पंकज मोहिते ने बेहतरीन प्रदर्शन किया जबकि तमिल ने हाफ़ टाइम तक 9 असफल टैकल किए जो उनके लिए अच्छा नहीं रहा। हालांकि शब्बीर बापू ने तमिल के लिए पहले हाफ़ में तीन टैकल प्वाइंट्स ले लिए थे। हाफ़ टाइम तक पुनेरी पलटन 18-12 से मैच में कहीं आगे थी।

मुम्बा ने इस सरदार के दम पर यूपी को दी शिकस्त, युवा अभिषेक भी रहे असरदार

दूसरे हाफ़ में तमिल थलाइवाज़ ने कमाल की वापसी करते हुए मैच में छाप छोड़ने की कोशिश में लगे थे। और इसमें सबसे बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे थे अजीत कुमार, जिन्होंने सुपर-10 लेते हुए तमिल को मैच में बनाए रखा था। पुनेरी के लिए अगर रेडिंग डिपार्टमेंट की ज़िम्मेदारी मनजीत और पंकज मोहिते की थी तो डिफ़ेंस में इस मैच में अमित कुमार काफ़ी अच्छा कर रहे थे। आख़िरी 10 मिनटों में तमिल 7 अंकों से पीछे थी और राहुव चौधरी का न चलना उनके लिए वापसी की राह को और भी मुश्किल बना रही थी। मनजीत ने अपना सुपर-10 करते हुए तमिल को क़रीब क़रीब मैच से अब बाहर कर दिया था और लग रहा था कि पुनेरी आसानी से मैच जीत जाएगी लेकिन आख़िरी एक मिनट में 6 अंकों का फ़ासला बर्बाद करते हुए पुनेरी ऑलआउट हो गई और एक आसान जीत टाई में बदल गई।

जानिए किन स्टार डिफ़ेंडर के नाम है प्रो कबड्डी इतिहास में ‘डबल हाई फ़ाइव’

वीवो प्रो कबड्डी सीज़न-7 में इन दोनों के बीच ये लगातार दूसरा टाई मुक़ाबला है। गुरुवार को यानी 19 सितंबर को पुणे के श्री शिव छत्रपति स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, महालुंगे, बालेवाड़ी में एक ही मैच खेला जाएगा जहां बंगाल वॉरियर्स और हरियाणा स्टीलर्स की बीच होगी टक्कर।

भारत की दो महिला पहलवान, एक ने दिलाया पदक कल दूसरी रच सकती है इतिहास