शनिवार, सितम्बर 26, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 130: फ़ज़ेल अत्राचली के रिकॉर्ड प्रदर्शन के दम पर...

प्रो कबड्डी मैच 130: फ़ज़ेल अत्राचली के रिकॉर्ड प्रदर्शन के दम पर मुम्बा ने हरियाणा को हराया

गुरुवार को ग्रेटर नोएडा के शहीद विजय सिंह पथिक स्पोर्ट्स कॉमप्लेक्स में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के मैच नंबर 130 में यू मुम्बा ने हरियाणा स्टीलर्स को 39-33 से हरा दिया। इस जीत के हीरो रहे मैच में हाई फ़ाइव के साथ 8 टैकल प्वाइंट्स लेने वाले फज़ेल अत्राचली, जो प्रो कबड्डी इतिहास में 300 टैकल प्वाइंट्स लेने वाले तीसरे और पहले विदेशी खिलाड़ी भी बने। उनके अलावा अजिंक्य कापरे और डॉन्ग जियोन ली को 9-9 रेड प्वाइंट्स हासिल हुए। हरियाणी की ओर से विनय ने सुपर-10 करते हुए 11 रेड प्वाइंट्स लिए जबकि डिफ़ेंस में रवि को 4 टैकल प्वाइंट्स मिले।

EXCLUSIVE: ड्राइवर के बेटे से नवीन एक्सप्रेस बनने की कहानी, नवीन कुमार की कहानी

पहले हाफ़ में यू मुम्बा और हरियाणा स्टीलर्स दोनों ही टीमों का डिफ़ेंस कमाल का दिख रहा था। मुम्बा से अगर सुल्तान फ़ज़ेल अत्राचली ज़बर्दस्त लय में थे तो हरियाणा से रवि भी रंग में थे। इस हाफ़ में दो बड़े इतिहास भी बने, पहले फ़जेल अत्राचली ने करियर में 300 टैकल प्वाइंट्ल करने वाले तीसरे खिलाड़ी बने तो तुरंत ही बाद संदीप नरवाल ने भी प्रो कबड्डी करियर में 300 टैकल प्वाइंट्स हासिल करने वाले चौथे खिलाड़ी बन गए थे। उधर रवि कुमार ने भी इस सीज़न में अपना 50 टैकल प्वाइंट्स पूरा कर लिया। यानी डिफ़ेंडरों के नाम रहा ये पहला हाफ़, जहां फ़ज़ल ने अपना 20वां और सीज़न का तीसरा हाई फ़ाइव भी पूरा कर लिया था तो रवि 4 टैकल प्वाइंट्स ले चुके थे। हाफ़ टाइम तक दोनों टीमों का स्कोर 15-15 से बराबर था।

EXCLUSIVE: भारतीय तीरंदाज़ी संघ खिलाड़ियों के साथ कर रहा है खिलवाड़ !

दूसरे हाफ़ में हरियाणा ने शानदार शुरुआत की थी और कुछ ही देर में यू मुम्बा को ऑलआउट करते हुए बढ़त बना ली थी। लेकिन मुम्बा की ओर से अजिंक्य कापरे ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए मुम्बा को मैच में वापस ला दिया था, और देखते ही देखते अब मुम्बा बढ़त ले चुका था। संदीप नरवाल का भी हाई फ़ाइव पूरा हो गया था और अचानक मुम्बा का दबदबा बढ़ गया था। हालांकि इस बीच विनय ने अपना सुपर-10 पूरा करते हुए हरियाणा को मैच में बनाए रखा था। लेकिन मुम्बा के कप्तान फ़ज़ेल अत्राचली पूरे शबाब पर थे और पहले हाफ़ में लिए हाई फ़ाइव को वह डबल हाई फ़ाइव की तरफ़ मोड़ते नज़र आ रहे थे। मैच में अब 4 मिनट का समय बचा था और फ़ज़ेल 8 टैकल प्वाइंट्स ले चुके थे जबकि मुम्बा 3 अंकों से आगे थी। यहां से फिर मुम्बा ने बढ़त नहीं गंवाई और व्हिसल बजने के साथ ही मुम्बा ने मुक़ाबला 6 अंकों से जीत लिया।

परदीप नरावाल के 4 वैसे रिकॉर्ड जो उन्हें बनाता है प्रो कबड्डी का बादशाह

प्रो कबड्डी इतिहास में हरियाणा स्टीलर्स पर यू मुम्बा की ये 8 मैचों में पांचवी जीत है, जबकि इस सीज़न में पहली जीत। इस जीत के साथ यू मुम्बा अब चौथे पायदान पर आ गए हैं, जबकि हारने के बावजूद हरियाणा नंबर-3 पर क़ायम है।

शुक्रवार यानी 11 अक्टूबर को ग्रेटर नोएडा के शहीद विजय सिंह पथिक स्पोर्ट्स कॉमप्लेक्स में दो मुक़ाबले खेले जाएंगे जहां पहली टक्कर यू मुम्बा और दबंग दिल्ली के बीच होगी तो इस सीज़न के आख़िरी लीग मुक़ाबले में मेज़बान यूपी योद्धा के सामने बेंगलुरु बुल्स की चुनौती होगी।