शनिवार, सितम्बर 26, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 116: मुम्बा की तमिल पर जीत के साथ ही...

प्रो कबड्डी मैच 116: मुम्बा की तमिल पर जीत के साथ ही पटना और गुजरात भी आधिकारिक तौर पर बाहर

सोमवार को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के मैच नंबर 116 में यू मुम्बा ने तमिल थलाइवाज़ को 36-32 से हरा दिया। इस जीत के साथ ही मुम्बा की उम्मीद जहां प्ले ऑफ़्स के लिए बढ़ गईं, तो तमिल की हार ने तीन बार की चैंपियन पटना पायरेट्स और लगातार दो बार के रनर अप गुजरात फ़ॉर्च्यूनजाएंट्स का सफ़र सीज़न-7 में ख़त्म कर दिया। मुम्बा की इस जीत के हीरो एक बार फिर अभिषेक सिंह रहे जिन्होंने सुपर-10 के साथ 10 रेड प्वाइंट्स लिए। मुम्बा के कप्तान फ़ज़ेल अत्राचली ने भी 3 टैकल प्वाइंट्स लिए। तमिल की ओर से वी अजीत कुमार ने सुपर-10 के साथ 16 रेड प्वाइंट्स  लिए, तो एम अभिषेक ने 3 टैकल प्वाइंट्स किए। तमिल के लिए राहुल चौधरी का बेहद निराशाजनक प्रदर्शन जारी रहा, उन्होंने 15 रेड में सिर्फ़ 1 अंक हासिल किया।

जब टेबल टॉपर्स आपस में टकराए तो रिकॉर्डों की झड़ी के बीच बंगाल ने दबंगों की दिल्ली दूर कर दी

पहले हाफ़ में उम्मीद के ठीक उलट शुरुआत हुई और जिस मुक़ाबले को एकतरफ़ा माना जा रहा था, वहां तमिल थलाइवाज़ ने यू मुम्बा पर बढ़त बना ली थी। एक समय तो मुम्बा को ऑलआउट करने के क़रीब आ गए थे तमिल लेकिन राहुल चौधरी का लॉबी में जाना मुम्बा को मैच में वापस ले आ आया था। राहुल चौधरी ने पहले हाफ़ तक 9 रेड की जिसमें उन्हें सिर्फ़ एक अंक ही मिला, ये उनके ख़राब फ़ॉर्म को दर्शाने के लिए काफ़ी है। तमिल की ओर से डिफ़ेंस में एम अभिषेक अच्छा कर रहे थे और 3 टैकल प्वाइंट्स ले चुके थे, तो मुम्बा की ओर से हाफ़ टाइम तक अभिषेक सिंह ने 5 रेड प्वाइंट्स ले लिया था। पहले हाफ़ के बाद मुम्बा वापसी करते हुए 15-11 से बढ़त बना चुका था।

दूसरे हाफ़ में भी तमिल थलाइवाज़ लगातार कोशिश कर रहा था, हालांकि शो मैन राहुल चौधरी का निराशाजनक प्रदर्शन लगातार जारी था। वी अजीत कुमार ने तमिल की उम्मीद को क़ायम रखा था और उनके साथ साथ पटना और गुजरात की उम्मीदें भी इसपर टिकी थीं। अजीत ने अपना सुपर-10 पूरा कर लिया था जो इस सीज़न का उनका चौथा था, और इस सीज़न में अजीत ने 100 रेड प्वाइंट्स का आंकड़ा भी पार कर लिया था। लेकिन उन्हें रेडिंग में किसी का साथ नहीं मिल रहा था और यही तमिल पर भारी था। मुम्बा के लिए अभिषेक सिंह बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अपना एक और सुपर-10 पूरा कर चुके थे और फ़जेल अत्राचली भी डिफ़ेंस में अच्छा कर रहे थे। लेकिन जैसे जैसे मैच आगे बढ़ रहा था मुम्बा की बढ़त क़ायम थी, और जैसे ही व्हिसल बजी मुम्बा की जीत हो गई जिसने पटना और गुजरात की उम्मीदों को भी ख़त्म कर दिया।

प्रो कबड्डी इतिहास के 3 स्टार रेडर जिन्होंने सबसे तेज़ 400 रेड प्वाइंट्स के मार्क को छुआ

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में यू मुम्बा की तमिल थलाइनाज़ पर ये 5 मैचों में चौथी और इस सीज़न में लगातार दूसरी जीत है। इस जीत के साथ ही यू मुम्बा अब 19 मैचों में 59 अंकों के साथ पांचवें पायदान पर आ गए हैं, और तमिल थलाइवाज़ की इस हार ने उन्हें आख़िरी पड़ाव से हिलने का मौक़ा भी नहीं दिया।

मंगलवार यानी 30 सिंतबर को रेस्ट है और फिर बुधवार यानी 1 अक्टूबर को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में दो मुक़ाबला खेले जाएंगे पहले मैच में यू मुम्बा के सामने पटना पायरेट्स की चुनौती होगी तो दूसरे मैच में हरियाणा स्टीलर्स की टक्कर बेंगलुरु बुल्स के साथ होगी।