गुरूवार, अक्टूबर 1, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 115: 'नवीन एक्सप्रेस' की रिकॉर्डतोड़ रफ़्तार जारी, लेकिन बंगाल...

प्रो कबड्डी मैच 115: ‘नवीन एक्सप्रेस’ की रिकॉर्डतोड़ रफ़्तार जारी, लेकिन बंगाल की गाड़ी ने दबंग के लिए कर दी ‘दिल्ली’ दूर

सोमवार को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के मैच नंबर 115 में बंगाल वॉरियर्स ने दबंग दिल्ली को 42-33 से शिकस्त दे दी। बंगाल के लिए इस जीत के हीरो एक बार फिर उनके कप्तान मनिंदर सिंह रहे जिन्होंने सुपर-10 के साथ 13 अंक हासिल किए और इस सीज़न 200 रेड प्वाइंट्स हासिल करने वाले चौथे खिलाड़ी भी बन गए। दिल्ली की ओर से नवीन कुमार (15 रेड प्वाइंट्स) ने लगातार 18वां सुपर-10 करते हुए अपने ही रिकॉर्ड को आगे बढ़ाया और साथ ही साथ एक सीज़न में 19 सुपर-10 के परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली है।

ज़रूर पढ़ें: प्रो कबड्डी इतिहास में कौन हैं सबसे तेज़ 400 रेड प्वाइंट्स लेने वाले 3 स्टार खिलाड़ी

पहले हाफ़ में दबंग दिल्ली और बंगाल वॉरियर्स ने अपने नाम और इस सीज़न में क़द के हिसाब से संभलकर शुरुआत की थी। लेकिन देखते ही देखते दबंग दिल्ली की तरफ़ से डिफ़ेंस में कई ग़लतियां देखने को मिलने लगीं, और यहां से बंगाल ने मैच में बढ़त बनाना शुरु कर दिया था। अब तक इस सीज़न में दबंगई दिखाने वाली टीम पहले हाफ़ में दो बार ऑलआउट हो चुकी थी, जो हैरान करने वाला था। हालांकि नवीन कुमार की रफ़्तार पूरे शबाब पर थी उन्होंने 7 अंक लेते हुए इस दौरान सीज़न-7 में सबसे ज़्यादा रेड प्वाइंट्स वाले खिलाड़ी भी बन गए थे। हाफ़ टाइम तक मनिंदर सिंह ने भी 7 रेड प्वाइंट्स लेते हुए अपनी टीम को 25-14 की बढ़त दिला दी थी।

ये भी पढ़ें: इस तरह आज ही थम सकता है पटना और गुजरात का सफ़र

दूसरे हाफ़ में भी बंगाल ने शुरुआत धमाकेदार अंदाज़ में की थी और मनिंदर सिंह ने अपना सुपर-10 करते हुए दिल्ली को एक बार फिर ऑलआउट कर दिया था। बंगाल एक बड़ी बढ़त की तरफ़ बढ़ रही थी, लेकिन तभी मनिंदर को चोट आ गई और उन्हें कोर्ट से बाहर जाना पड़ा। इसने दिल्ली को वापसी का मौक़ा दे दिया था, यहां नवीन एक्सप्रेस ने भी अपनी रफ़्तार को बढ़ाते हुए बंगाल को पहली बार ऑलआउट किया और वापसी की हुंकार भर दी थी। नवीन कुमार ने लगातार 18वां और सीज़न का 19वां सुपर-10 करते हुए प्रो कबड्डी इतिहास में सबसे ज़्यादा सुपर-10 करने के परदीप नरवाल के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली। सीज़न-5 में परदीप नरवाल के नाम भी 19 सुपर-10 था। 35वें मिनट तक बंगाल 10 अंकों से आगे थी और यहां से दिल्ली के लिए जीत दूर लगने लगी थी और हुआ भी वही जैसे ही व्हिसल बजी बंगाल ने इस सीज़न में दिल्ली को पहली बार शिकस्त दे दी थी।

‘उड़न कंडोला’ पर सवार हरियाणा स्टीलर्स प्ले-ऑफ़्स में इस तरह पहुंची

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में बंगाल वॉरियर्स की दबंग दिल्ली पर ये 14 मैचों में 6ठी और इस सीज़न में पहली जीत है। इस जीत के बाद बावजूद अंक तालिका में कोई बदलाव नहीं आया है, बंगाल भी नंबर-2 पर ही है और दिल्ली भी नंबर-1 पर क़ायम है।

…और इस तरह पटना और गुजरात दोनों ही टीमों का थम गया सफ़र

मंगलवार यानी 30 सिंतबर को रेस्ट है और फिर बुधवार यानी 1 अक्टूबर को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में दो मुक़ाबला खेले जाएंगे पहले मैच में यू मुम्बा के सामने पटना पायरेट्स की चुनौती होगी तो दूसरे मैच में हरियाणा स्टीलर्स की टक्कर बेंगलुरु बुल्स के साथ होगी।