Begin typing your search above and press return to search.

कबड्डी

प्रो कबड्डी मैच 113: नवीन एक्सप्रेस ने फिर रचा इतिहास, सबसे तेज़ 400 के साथ दिल्ली ने बनाई सेमीफ़ाइनल में जगह, पुनेरी पलटन प्ले-ऑफ़्स की रेस से बाहर

प्रो कबड्डी मैच 113: नवीन एक्सप्रेस ने फिर रचा इतिहास, सबसे तेज़ 400 के साथ दिल्ली ने बनाई सेमीफ़ाइनल में जगह, पुनेरी पलटन प्ले-ऑफ़्स की रेस से बाहर
X
By

Syed Hussain

Published: 29 Sep 2019 3:04 PM GMT

रविवार को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के मैच नंबर 113 में दबंग दिल्ली ने पुनेरी पलटन को 60-40 से हराते हुए सेमीफ़ाइनल में अपनी जगह सुनिश्चित कर ली है, क्योंकि अब तय हो गया है कि वह सीज़न-7 में टॉप-2 में ही रहेंगे। दिल्ली की इस धमाकेदार जीत के हीरो एक बार फिर रहे नवीन एक्सप्रेस (19 रेड प्वाइंट्स), जिन्होंने लगातार 17वां सुपर-10 लगाया और सबसे तेज़ 400 रेड प्वाइंट्स तक पहुंचने वाले खिलाड़ी भी बन गए। नवीन का शानदार साथ निभाया चंद्रन रंजीत (12 रेड प्वाइंट्स) और डिफ़ेंस में हाई फ़ाइव के साथ रविंदर पहल (6 टैकल प्वाइंट्स) ने। पुनेरी पलटन की ओर से बालासाहेब जाधव ने हाई फ़ाइव करते हुए 6 टैकल प्वाइंट्स लिए। इस सीज़न में किसी भी टीम का ये सबसे बड़ा स्कोर था जबकि प्रो कबड्डी इतिहास में भी दिल्ली ने एक मैच में अपने सर्वश्रेष्ठ 55 अंकों को पीछे छोड़ दिया। एक मैच में 100 अंक बने जो प्रो कबड्डी इतिहास का एक मैच में दूसरा सबसे हाई स्कोरिंग मैच रहा, रिकॉर्ड 101 अंकों का है।

24 घंटों के अंदर लगातार दूसरी बार भारत ने स्पेन को इस अंदाज़ में रौंदा

पहले हाफ़ में ये साफ़ हो गया था कि क्यों सीज़न की सबसे दबंग टीम है दबंग दिल्ली, दिल्ली ने सबसे पहले 7वें मिनट में पुनेरी पलटन को ऑलआउट करते हुए 12-4 की बढ़त बना ली थी। ये तो बस ट्रेलर था क्योंकि अगले 6 मिनटों में एक बार फिर नवीन एक्सप्रेस पर सवार दबंग दिल्ली ने पुनेरी को ऑलआउट कर दिया था और 13वें मिनट में ही दिल्ली 24-10 से आगे हो गई थी। इस फ़ासले को हाफ़ टाइम तक दिल्ली ने और आगे बढ़ाते हुए 30-16 पर ख़त्म किया। पहला हाफ़ पूरी तरह से नवीन कुमार के नाम रहा जिन्होंने लगातार 17वां सुपर-10 लेते हुए अपने ही रिकॉर्ड को आगे बढ़ाया और साथ ही साथ प्रो कबड्डी इतिहास में सबसे तेज़ 400 रेड प्वाइंट्स लेने वाले खिलाड़ी भी बन गए, नवीन ने 41 मैचों में 400 रेड प्वाइंट्स लिया जबकि इससे पहले ये रिकॉर्ड मनिंदर सिंह के नाम था जिन्होंने 46 मैचों में इस आंकड़े को छुआ था साथ ही साथ तीसरे नंबर पर हैं 47 मैचों के साथ रोहित कुमार।

https://twitter.com/DabangDelhiKC/status/1178312681985413120?s=20

दूसरे हाफ़ में भी दबंद दिल्ली की दंबगई जारी थी, और रेडिंग से लेकर डिफ़ेंस तक में दिल्ली का कमाल जारी था। नवीन एक्सप्रेस के साथ साथ चंद्रन रंजीत ने भी अपना सुपर-10 पूरा कर लिया था, और डिफ़ेंस में रविंदर पहल भी शबाब पर थे। रविंदर ने सीज़न का तीसरा और करियर का अपना 23वां हाई फ़ाइव पूरा कर लिया था। 34वें मिनट में दिल्ली ने पुनेरी को चौथी बार ऑलआउट करते हुए सबसे बड़ी जीत की ओर जा रहे थे। आख़िरी 5 मिनटों का जब खेल बचा था तो दिल्ली 54-29 से आगे थी और इस सीज़न का ये किसी भी टीम का सबसे बड़ा स्कोर हो चुका था। जिसे दिल्ली ने आगे बढ़ाते हुए 60 के भी आगे पहुंचा दिया और व्हिसल बजते ही दिल्ली ने मुक़ाबला 40 अंकों के बड़े अंतर से जीत लिया।

FIBA ने टीम इंडिया को दिया तोहफ़ा, ओलंपिक क्वालिफ़ायर में मिली सीधी एंट्री

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में दबंग दिल्ली की पुनेरी पलटन पर ये 16 मैचों में 7वीं और इस सीज़न में लगातार दूसरी जीत है। इस जीत के साथ ही दिल्ली ने ये सुनिश्चित कर लिया कि वह टॉप-2 में ही रहेंगे यानी अब वह सीधे सेमीफ़ाइनल में प्रवेश करने वाली पहली टीम बन गई है। जबकि इस हार के साथ ही पुनेरी पलटन का प्ले-ऑफ़्स में जाने का सपना ख़त्म हो गया और वह आधिकारिक तौर पर तमिल थलाइवाज़ के बाद बाहर होने वाली दूसरी टीम बन गई है।

हारी हुई बाज़ी कैसे इस 'उड़न कंडोला' ने जिताई और हरियाणा को प्ले-ऑफ़्स में पहुंचाया

सोमवार यानी 29 सिंतबर को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में दो मुक़ाबला खेले जाएंगे पहले मैच में बंगाल वॉरियर्स के सामने दबंग दिल्ली की चुनौती होगी तो दूसरे मैच में तमिल थलाइवाज़ की टक्कर यू मुम्बा के साथ होगी।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it