Begin typing your search above and press return to search.

कबड्डी

प्रो कबड्डी मैच 112: 6 मैचों के बाद गुजरात ज़बर्दस्त गरजे, प्रो कबड्डी इतिहास की सबसे बड़ी जीत

प्रो कबड्डी मैच 112: 6 मैचों के बाद गुजरात ज़बर्दस्त गरजे, प्रो कबड्डी इतिहास की सबसे बड़ी जीत
X
By

Syed Hussain

Published: 28 Sep 2019 4:17 PM GMT

शनिवार को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में खेले गए प्रो कबड्डी सीज़न के मैच नंबर 112 में गुजरात फ़ॉर्च्यून जाएंट्स ने तमिल थलाइवाज़ को 50-21 से हराते हुए जीत का सूखा ख़त्म किया। गुजरात को ये जीत 6 मैचों बाद मिली है, साथ ही साथ प्रो कबड्डी इतिहास में गुजरात की ये सबसे बड़ी जीत है इससे पहले उनकी सबसे बड़ी जीत 25 अंकों की थी जो अब 29 हो गई। जबकि तमिल की जीत का इंतज़ार अभी भी जारी है जो अब बढ़ता हुआ 13 तक पहुंच गया है। गुजरात की इस जीत के हीरो रहे सोनू जगलान जिन्होंने अपने करियर का पहला सुपर-10 लगाते हुए कुल 15 रेड प्वाइंट्स हासिल किए, जबकि रोहित गुलिया ने भी सुपर-10 के साथ 11 रेड प्वाइंट्स लिए, गुजरात की ओर से परवेश भैंसवाल को डिफ़ेंस में सबसे ज़्यादा 5 टैकल प्वाइंट्स (हाई फ़ाइव) प्राप्त हुए। तमिल की ओर से राहुल चौधरी का फ़्लॉप शो शनिवार को भी जारी रहा और उन्होंने 4 रेड प्वाइंट्स लिए।

...तो इस तरह 'उड़न' कंडोला को ज़मीन पर रखते हुए यूपी ने हरियाणा के विकास पर लगाया ब्रेक

पहले हाफ़ में ही ये क़रीब क़रीब तय लगने लगा था कि तमिल थलाइवाज़ को 13 मैचों बाद भी जीत का स्वाद शायद चखने को नहीं मिलेगा। इसकी वजह थी गुजरात फ़ॉर्च्यून जाएंट्स का तमिल पर शुरुआत से ही हमला बोल देना। 8वें मिनट में ही गुजरात ने तमिल को पहली बार मैच में ऑलआउट करते हुए 11-4 की बढ़त ले ली थी, लेकिन ये तो बस शुरुआत थी। रोहित गुलिया और सोनू ने हाफ़ टाइम तक आपस में 11 रेड प्वाइंट्स बटोरते हुए गुजरात को बड़ी बढ़त दिला चुके थे, तमिल के स्टार रेडर राहुल चौधरी अब तक सिर्फ़ 3 रेड प्वाइंट्स ही ले पाए थे। हाफ़ टाइम तक स्कोर 20-9 के साथ गुजरात के पक्ष में था।

https://twitter.com/tamilthalaivas/status/1177972529794703360?s=20

हारे ज़रूर... लेकिन फिर भी इस भारतीय शटलर ने कोरिया ओपन में रच डाला इतिहास

दूसरे हाफ़ में भी कोई तस्वीर नहीं बदली और गुजरात अपने दबदबे को और भी आगे ले जाती रही, डिफेंस में जहां रितुराज कोरावी और पंकज कमाल का प्रदर्शन करते हुए तमिल को दूसरी बार ऑलआउट कर दिया था। अब गुजरात 28-11 से आगे हो चुकी थी और इस दौरान रोहित गुलिया ने अपने करियर का 200वां रेड प्वाइंट्स भी हासिल कर लिया था। रोहित गुलिया और सोनू दोनों ने ही अपने अपने सुपर-10 हासिल कर लिए थे, सोनू जगलान के करियर का ये पहला सुपर-10 था। 34वें मिनट तक गुजरात 40-15 के विशाल अंतर से आगे थे, गुजरात ने प्रो कबड्डी इतिहास में अब तक 25 अंकों से ज़्यादा के अंतर से कभी जीत नहीं दर्ज की थी और लग रहा था कि शायद आज गुजरात अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ देगी। और वही हुआ गुजरात ने मुक़ाबला 29 अंकों से जीत लिया।

FIBA विमेंस एशिया कप में ये हार भी भारत के लिए सबक़ है

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में गुजरात फ़ॉर्च्यून जाएंट्स की तमिल थलाइवाज़ पर ये 4 मैचों में सिर्फ़ दूसरी जीत है, और इस सीज़न की तमिल पर पहली जीत। तमिल थलाइवाज़ को इस सीज़न में आख़िरी जीत भी गुजरात के ही ख़िलाफ़ मिली थी, लेकिन शनिवार को ऐसा न हो सका। इस जीत के साथ ही गुजरात अब 19 मैचों में 44 अंकों के साथ 8वें पायदान पर आ गए हैं, यानी प्ले-ऑफ़्स में जाने की उम्मीदें उनकी अभी भी बरक़रार हैं। जबकि प्ले-ऑफ़्स की रेस से पहले ही बाहर हो चुकी गुजरात के लिए कोई तस्वीर नहीं बदली और वह अभी भी आख़िरी पायदान पर ही क़ाबिज़ हैं।

रविवार यानी 29 सिंतबर को पंचकूला के ताऊ देवी लाल स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में दो मुक़ाबला खेले जाएंगे पहले मैच में पुनेरी पलटन के सामने दबंग दिल्ली की चुनौती होगी तो दूसरे मैच में गुजरात फ़ॉर्च्यून जाएंट्स की टक्कर मेज़बान हरियाणा स्टीलर्स के साथ होगी।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it