रविवार, सितम्बर 27, 2020
होम कबड्डी प्रो कबड्डी मैच 84: सांस रोक देने वाले मैच का बेहतरीन नतीजा,...

प्रो कबड्डी मैच 84: सांस रोक देने वाले मैच का बेहतरीन नतीजा, जयपुर-हरियाणा का मैच 32-32 से टाई

बुधवार को कोलकाता के नेताजी सुभाषचंद्र बोस इन्डोर स्टेडियम में खेला गया 84वां मैच टाई हो गया, जयपुर पिंक पैंथर्स और हरियाणा स्टीलर्स दोनों का ही स्कोर 32-32 रहा। इस मैच के हीरो रहे जयपुर के कप्तान दीपक हुडा जिन्होंने 14 रेड प्वाइंट्स के साथ सुपर-10 लगाया और साथ ही प्रो कबड्डी इतिहास में 800 रेड प्वाइंट्स भी पूरा कर लिया, ऐसा करने वाले वह सिर्फ़ तीसरे खिलाड़ी बन गए। दीपक के साथ साथ संदीप ढुल ने भी हाई फ़ाइव पूरा किया, उधर हरियाणा की तरफ़ से विकास कंडोला सुपर-10 नहीं कर पाए और 7 रेड प्वाइंट्स ही हासिल कर पाए। हरियाणा की तरफ़ से रवि कुमार ने भी हाई फ़ाइव पूरा किया।

पहले हाफ़ में जयपुर पिंक पैंथर्स बेहतरीन रंग में दिखाई दे रही है, अहम बात ये थी कि इस मैच में जयपुर के कप्तान और स्टार रेडर दीपक हुडा लय में नज़र आ रहे थे। दीपक एक के बाद एक रेड प्वाइंट्स लेते जा रहे थे और हरियाणा स्टीलर्स पर दबाव बनता जा रहा था। 14वें मिनट में जयपुर ने हरियाणा को ऑलआउट करते हुए 13-7 की बढ़त ले ली थी। लेकिन विकास कंडोला ने कमाल की रेडिंग करते हुए सुपर रेड में 5 प्वाइंट्स लिए और 19वें मिनट में जयपुर को ऑलआउट कर दिया और अब बढ़त हरियाणा को दोबारा दिला दी थी। 9-13 से पीछे रहते हुए हरियाणा हाफ़ टाइम तक 18-14 से हो गई थी। पहले हाफ़ में दीपक हुडा को 7 और विकास कंडोला को 6 प्वाइंट्स मिल चुके थे।

दूसरे हाफ़ में एक बार फिर दोनों टीमों की तरफ़ से रोमांचक मुक़ाबला दिख रहा था, लेकिन इस हाफ़ की शुरुआत में जो फ़र्क था वह ये था कि अब रेडिंग से ज़्यादा शानदार डिफ़ेंस काम कर रहा था। हरियाणा की ओर से सुनील ने 4 टैकल प्वाइंट्स कर चुके थे, और नतीजा ये हुआ कि 31वें मिनट तक दीपक हुडा पहले हाफ़ के अपने स्कोर में इज़ाफ़ा नहीं कर पाए थे। उधर विकास कंडोला को भी 31वें मिनट तक एक ही अंक मिला था, और स्कोर 23-19 से हरियाणा के पक्ष में था। 33वें मिनट में हरियाणा के डिफ़ेंस को तोड़ते हुए दीपक हुडा ने एक साथ दो अंक लिया और सुपर-10 के क़रीब आ गए थे। जयपुर अब सिर्फ़ 2 प्वाइंट्स पीछे थी, लेकिन इसके बाद हरियाणा के रवि कुमार ने सुपर टैकल करते हुए अपना हाई फ़ाइव पूरा किया और एक बार फिर मैच हरियाणा के पक्ष में आ गया था। दीपक हुडा हिम्मत नहीं हार रहे थे, और उन्होंने प्रो कबड्डी इतिहास में अपना 800वां रेड प्वाइंट्स हासिल कर लिया था। ऐसा करने वाले वह सिर्फ़ तीसरे खिलाड़ी बन गए, दीपक ने मैच में अपना सुपर-10 भी कर लिया था। मुक़ाबला बेहद रोमांचक हो गया था, मैच में अब 5 मिनट का वक़्त बचा था और दोनों टीमों के बीच अंतर रह गया था मात्र 3 अंकों का यानी मैच किसी की झोली में भी जा सकता था। जयपुर ने मैच के 37वें मिनट में हरियाणा को ऑलआउट करते हुए अब अंतर सिर्फ़ एक अंक कर दिया था, आख़िरी लम्हों में जयपुर ने संयम बरक़रार रखा लेकिन व्हिसल बजते स्कोर बराबर हो गया।

वीवो प्रो कबड्डी इतिहास में हरियाणा स्टीलर्स और जयपुर पिंक पैंथर्स का ये दूसरा टाई मैच है। इस टाई के बाद जयपुर अब अंक तालिका में 14 मैचों में 41 अंकों के साथ सातवें पायदान पर ही है जबकि हरियाणा अब 49 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर आ गई है।

वीवो प्रो कबड्डी में गुरुवार यानी 12 सितंबर को नेताजी सुभाष चंद्र बोस इन्डोर स्टेडियम में कोलकाता लेग के आख़िरी दिन दो मैच खेला जाएगा, पहले मैच में पटना पायरेट्स की टक्कर जयपुर पिंक पैंथर्स के साथ होगी तो दूसरे मुक़ाबले में मेज़बान बंगाल वॉरियर्स के सामने सामने बेंगलुरु बुल्स की चुनौती होगी।