Begin typing your search above and press return to search.

कबड्डी

PKL 2021 Match 45: अपने डिफेंस के दम पर थलाइवाज ने हरियाणा को 19 अंकों से हराया

अपने दो डिफेंडरों-कप्तान सुरजीत सिंह और सागर के हाई-5 के अलावा स्टार रेडर मंजीत सिंह के सुपर-10 की बदौलत तमिल थलाइवाज ने हरियाणा स्टीलर्स को विशाल अंतर से हरा दिया।

Tamil Thalaivas Haryana Steelers Kabaddi
X
By

Bikash Chand Katoch

Published: 10 Jan 2022 3:43 PM GMT

अपने दो डिफेंडरों-कप्तान सुरजीत सिंह (8 अंक) और सागर (7 अंक) के हाई-5 के अलावा स्टार रेडर मंजीत सिंह (10) के सुपर-10 की बदौलत तमिल थलाइवाज ने शेराटन ग्रैंड, व्हाइटफील्ड होटल एवं कन्वेंशन सेंटर जारी वीवो प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन के 45वें मुकाबले में सोमवार हरियाणा स्टीलर्स को 45-26 के विशाल अंतर से हरा दिया।

दोनों टीमों का यह आठवां मैच था। थलाइवाज की यह तीसरी जीत है। उसके नाम एक हार भी है जबकि उसके चार मैच टाई भी रहे हैं। डिफेंस में 18 टैकल प्वाइंट लेने वाली यह टीम बीते छह मैचों से अजेय है। हरियाणा की बात करें तो इस टीम को चौथी हार मिली है। इस सीजन थलाइवाज को अंक तालिका में चौथे स्थान पर लाकर खड़ा कर दिया है जबकि हरियाणा की टीम अभी भी सातवें स्थान पर ही है। हरियाणा के लिए कप्तान विकाश कंडोला ने 9 अंक लिया। इसके अलावा कोई और खिलाड़ी प्रभावित नहीं कर सका।

शुरुआती 20 मिनट में तीन ऑलआउट हुए। हरियाणा की टीम 12 मिनट के भीतर दो बार ऑल आउट हुई लेकिन जब उसने गियर बदला तो लगातार 11 अंक लेते हुए थलाइवाज को भी ऑल आउट कर शानदार वापसी की। आलम यह था कि शुरुआती पांच मिनट में ही थलाइवाज ने हरियाणा को ऑल आउट कर 9-2 की लीड ले ली थी।

मंजीत सिंह लगातार दबाव बना रहे थे। विकाश कंडोला औऱ हरियाणा का डिफेंस चल नहीं पा रहे थे। 10 मिनट के बाद थलाइवाज को 16-5 की लीड मिल गई थी। हरियाणा फिर ऑलआउट की कगार पर थे। इसके बाद सागर ने विनय को टैकल कप अपना चौथा अंक लिया और हरियाणा को 12 मिनट में दूसरी बार आलआउट कर अपनी टीम को 20-6 की लीड दे दी।

14वें मिनट के बाद हरियाणा ने रंग बदला। उसके रेडर और डिफेंस दोनों चल पड़े। थलाइवाज के डिफेंस ने मैच में पहली बड़ी गलती करते हुए कंडोला को दो अंक दिए। स्कोर 9-20 हो गया था। प्रपंजन डू ओर डाई रेड पर थे। विकाश ने उन्हें लपक लिया। थलाइवाज के लिए सुपर टैकल आन था। विकाश ने सागर कृष्णा को बाहर कर स्कोर 11-20 कर दिया। फिर भवानी राजपूत को रेड पर लपका। इसके बाद हरियाणा ने थलाइवाज को ऑल आउट कर स्कोर 15-20 कर दिया।

बाद के छह मिनट में हरियाणा को तीन अंक मिले जबकि थलाइवाज ने चार अंक अपने नाम किए। हाफ टाइम तक स्कोर 24-18 से थलाइवाज के पक्ष में था और हरियाणा के लिए सुपर टैकल आन था। ब्रेक के बाद मंजीत ने सुरेंदर नाडा को बाहर किया। इसके बाद थलाइवाज ने तीसरी बार हरियाणा को ऑल आउट कर 29-18 की लीड ले ली। हरियाणा ने इसके बाद तीन अंक लिए तो थलाइवाज छह लेते हुए 35-21 से आगे थे।

हरियाणा के लिए सुपर टैकल आन था। अजिंक्य पवार डू ओर रेड पर थे और लपक लिए गए। स्कोर 23-35 था। थलाइवाज के डिफेंस ने उसे एक और अंक दिलाया। हरियाणा के लिए सुपर टैकल अभी भी आन था। अब अजिंक्य डू ओर डाई रेड पर थे और उन्होंने नाडा को आउट किया। इसके बाद थलाइवाज ने हरियाणा को चौथी बार ऑल आउट कर 41-23 के स्कोर के साथ अपनी जीत लगभग पक्की कर ली।

अब हार का अंतर कम करने के लिए खेल रही हरियाणा की टीम ने तीन अंक हासिल किए लेकिन थलाइवाज ने चार अंक लेते हुए अपने पिछले मैच में बंगाल को बड़े अंतर से हारने वाली हरियाणा को 19 अंकों के अंतर से बड़ी हार को मजबूर किया।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it