गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम कबड्डी मिलिए कबड्डी के जबरा फैन राकेश से जिन्होंने यू मुम्बा के लिए...

मिलिए कबड्डी के जबरा फैन राकेश से जिन्होंने यू मुम्बा के लिए अभिषेक बच्चन का ऑफर ठुकराया

प्रो कबड्डी लीग के सातवें सीजन का रोमांच चरम पर है। खिताब के लिए 12 टीमें एक दूसरे से पंगा लेने में लगी हुई हैं और इनके फैन उन्हें जमकर सपोर्ट करने में जुटे हुए हैं। इन्हीं फैन में से एक हैं राकेश गोविंद परब जिन्हें सचिन तेंदुलकर के जबरा फैन सुधीर कुमार की तरह रंग-बिरंगे रूप में स्टेडियम में देखा जा रहा है। मुंबई के वर्ली के रहने वाले राकेश यू मुम्बा के जबरा फैन हैं और इस खेल के प्रति उनके लगाव ने उन्हें खासा मशहूर बना दिया है।

अभिषेक बच्चन का ऑफर ठुकराया

क्रिकेट के मैदान पर सुधीर कुमार जिस तरह से तिरंगा लिए टीम इंडिया में जोश भरते नरजर आते हैं, कुछ वैसे ही राकेश भी यू मुम्बा को चीयर करते नजर आते हैं। मुंबई से उन्हें इतना लगाव है कि उन्होंने बॉलीवुड स्टार अभिषेक बच्चन से उनकी टीम से जुड़ने के ऑफऱ को ठुकरा दिया था। 2016 के प्रो कबड्डी लीग फाइनल में अभिषेक बच्चन की टीम जयपुर पिंक पैंथर्स और पटना पाइरेट्स का मुकाबला चल रहा था। वहां राकेश भी थे। तब अभिषेक ने उन्हें जयपुर को सपोर्ट करने का ऑफर दिया लेकिन राकेश ने उस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। राकेश कहते हैं कि मेरा उत्साह देखकर अभिषेक सर ने मुझे जयपुर से जुड़ने का ऑफर दिया था लेकिन मैंने साफ मना कर दिया और कहा कि सर मैं यू मुम्बा का फैन हूं और उसी का रहना चाहता हूं। यू मुम्बा से इस लगाव के पीछे कारण के सवाल पर राकेश कहते हैं कि मैं मुंबई से हूं इसलिए मुझे यू मुम्बा पसंद है। हर साल खिलाड़ी बदलते हैं लेकिन यू मुम्बा टीम के प्रति मेरी दीवानगी कभी कम नहीं हुई। हालांकि पहले सीजन में मुझ पर किसी की नजर नहीं पड़ी लेकिन मैंने सोच रखा था कि यू मुम्बा टीम प्रबंधन को अपने निराले अंदाज में बता ही दूंगा की मैं मुम्बा का कितने बड़े फैन हूँ।

किसी एक खिलाड़ी नहीं पूरी टीम के हैं दीवाने

क्रिकेट में सुधीर कुमार को सचिन तेंदुलकर के कारण जानते हैं और पाकिस्तानी चाचा उर्फ खान चाचा को लोग धोनी के कारण जानते हैं लेकिन राकेश किसी खास खिलाड़ी नहीं बल्कि पूरी मुंबई की टीम के लिए मशहूर होना चाहते है। कारण पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि प्रो कबड्डी लीग के फॉर्मेट के कारण हर साल खिलाड़ी एक टीम से दूसरे टीम में जाते रहते हैं इसलिए मैं किसी एक खिलाड़ी को सपोर्ट करने के बजाये पूरी टीम को सपोर्ट करता हूं। पसंदीदा खिलाड़ी के सवाल पर राकेश ने कहा कि पांचवें सीजन में मुझे अनुप कुमार का खेल काफी पंसद था जबकि इस सीजन में मैं अपनी टीम के कप्तान फजल अत्राचली के खेल को एंजोय कर रहा हूं।

निराला है राकेश के सपोर्ट करने का अंदाज

प्रो कबड्डी लीग के दूसरे सीजन से ही राकेश ने टीम को सपोर्ट करने का यह निराला अंदाज अपनाया। वो अपने चेहरे और शरीर पर यू मुम्बा की जर्सी का पेंट लगाना शुरू किया और टीम को चीयर करते दिखे। इस पेंटिंग में काफी खर्चे और समय लगते हैं। टीम के प्रति राकेश की दीवानगी को देखते हुए प्रो कबड्डी लीग के रेफरी जितेश शिरवाडकर और टेकनिकल डायरेक्टर विश्वास मोरे राकेश को मुम्बा के हर मैच के लिए टिकट देते थे। उसके बाद दूसरे सीजन से यू मुंबा राकेश को हर मैच के टिकट उपलब्ध कराता है। राकेश एक मामूली परिवार से संबंध रखते हैं और उनके लिए मुंबई में मैच देखना तो आसान होता है लेकिन मुंबई से बाहर जाकर वह मैच देखने के खर्चे नहीं उठा सकते जिसका उन्हें अफसोस भी है।

हेयरस्टाइलिस्ट सागर मोरे ने दिया अनोखा लुक

राकेश के अनोखे लुक के पीछे उनके हेयर-स्टाइलिस्ट सागर मोरे का बहुत बड़ा हाथ है। राकेश ने सागर मोरे से यू मुम्बा के कप्तान फजल अत्राचली के लुक्स को अपने हेयरस्टाइल के रूप में अपनाया, जिसे देखकर फजल खुद उनसे मिले। राकेश बताते हैं कि फजल मुझसे मिले और कहा की उनके प्रति दीवानगी को देखकर उन्हें और अच्छा खेलने की प्रेरणा मिलती है। राकेश ने यू मुम्बा टीम के नाम का हेयर स्टाइल भी बनाया है जिसे सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया गया।

बचपन से ही कबड्डी से लगाव

25 वर्षीय राकेश आठ साल की उम्र से कबड्डी खेल रहे हैं। वह बचपन से कबड्डी को फॉलो करते आए है जिस कारण कबड्डी खेल पसंदीदा खेल बन गया। राकेश खुद वर्ली की अपनी टीम ओम ज्ञानदीप मंडळ (प्रभादेवी) टीम के लिए कबड्डी खेलतें हैं जिसने कई चैम्पियनशिप भी जीतें है।

चाहते हैं कबड्डी बने ओलंपिक खेल

देशभर में कबड्डी की लोकप्रियता को देखकर राकेश की इच्छा है कि कबड्डी को ओलंपिक खेल का दर्जा मिले और जैसे भारत वर्ल्ड कप में धमाल मचा रहा है वो ओलंपिक में भी वो मुकाम हासिल करे।