Begin typing your search above and press return to search.

हॉकी

महिला हाॅकी विश्व कप में भारत की निगाहें क्वार्टरफाइनल पर, अंतिम ग्रुप मैच में न्यूजीलैंड से होगी टक्कर

भारत ने पिछले दोनों मुकाबले ड्रॉ खेले

महिला हाॅकी विश्व कप में भारत की निगाहें क्वार्टरफाइनल पर, अंतिम ग्रुप मैच में न्यूजीलैंड से होगी टक्कर
X
By

Amit Rajput

Published: 6 July 2022 1:12 PM GMT

स्पेन और नीदरलैंड में चल रहे एफआईएच महिला हाॅकी विश्व कप में अब तक भारतीय महिला हाॅकी टीम भले ही अपराजेय रही हो। लेकिन अब टीम को क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के लिए गुरुवार को होने वाले न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले में जीत दर्ज करनी ही होगी। यदि टीम एक बार फिर अपने पिछले मुकाबलों की तरह ड्रॉ खेलती है तो टीम को टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ सकता है। इसलिए टीम को टूर्नामेंट में बने रहने के लिए किसी भी हाल में जीत दर्ज करनी ही होगी।

वही पहले दो मैच में अगर भारत के प्रदर्शन को देखते बात की जाए तो टीम के लिए न्यूजीलैंड को हराना आसान नहीं होगा। भारतीय डिफेंस ने दोनों मैच में प्रभावित किया। पहले मैच में तो इंग्लैंड की टीम एक भी पेनल्टी कॉर्नर हासिल नहीं कर पाई लेकिन दोनों ही मुकाबलों में अग्रिम पंक्ति और मिडफील्ड ने निराश किया।

अब तक भारत के लिए दोनों गोल करने वाली वंदना कटारिया के अलावा कोई अन्य स्ट्राइकर अब तक उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई है। लालरेमसियामी, शर्मिला देवी और नवनीत कौर ने निराश किया है। उनके अलावा भारतीय खिलाड़ियों ने मौके तो बनाए हैं लेकिन उन्हें गोल में तब्दील करने में नाकाम रहे है।

मिडफील्ड को भी अपने प्रदर्शन में सुधार करना होगा। मुख्य कोच यानेक शॉपमैन के लिए पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलने में नाकामी भी बड़ी समस्या है। दो मैच में भारतीय टीम 12 पेनल्टी कॉर्नर पर दो गोल ही कर सकी है और दोनों गोल वंदना ने रिबाउंड और डिफलेक्शन से किए।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it