Begin typing your search above and press return to search.

हॉकी

हॉकी विश्व कप 2023: जायज़ा लेने के लिए अगले महीने भारत आएगा एफआईएच दल

कार्यवाहक अध्यक्ष सैफ अहमद की अगुवाई में एफआईएच का तीन सदस्यीय दल जायज़ा लेने के लिए 15 अगस्त को भारत आएगा।

Indian Men Hockey Team
X

भारतीय हॉकी टीम

By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-07-22T18:27:27+05:30

भारत पर 2023 में होने वाले हॉकी विश्व कप की मेजबानी बरकरार रखने के लिए लगातार दबाव बना हुआ। भारत को जल्द से जल्द हर हाल में नया संविधान लागू करना हैं, नहीं तो आगामी विश्व कप की मेजबानी भारत से छीन सकती हैं।

नए संविधान को लागू करने की दिशा में प्रगति का जायज़ा लेने के लिए नवनियुक्त कार्यवाहक अध्यक्ष सैफ अहमद की अगुवाई में अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) का तीन सदस्यीय दल 15 अगस्त को भारत आएगा। सैफ अहमद के अलावा एफआईएच सीईओ थियरी वील और कार्यकारी बोर्ड के सदस्य तैयब इकराम दल में शामिल होंगे।

इससे पहले एफआईएच ने बुधवार को अदालत द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति से संशोधित संविधान लागू करने और हॉकी इंडिया के ताजा चुनाव कराने को लेकर विस्तृत जानकारी मांगी थी। अगर हॉकी इंडिया खेल कोड के अनुरूप संविधान लागू नहीं करती है तो देश को जनवरी 2023 में होने वाले विश्व कप की मेजबानी गंवानी पड़ सकती है।

एफआईएच सीईओ वील ने कहा कि उन्होंने भारत दौरे के लिये संभावित तारीख बताई है और उन्हें सीओए से पुष्टि का इंतजार हैं।

उन्होंने कहा,"हम 15 अगस्त को दो या तीन दिन के लिये भारत आने की सोच रहे हैं। हम इस मसले को सुलझाने के लिये जो कुछ भी हो सकता है, करेंगे लेकिन हमें सीओए के जवाब का इंतजार हैं।"

वील ने कहा कि एफआईएच को उम्मीद है कि विश्व कप भुवनेश्वर और राउरकेला में होगा लेकिन अगले महीने कोई हल नहीं निकलता है तो हॉकी इंडिया पर प्रतिबंध लग सकता है। साथ ही वादा पूरा नहीं करने के लिये हॉकी इंडिया को दंडित किया जा सकता है और इसमें अंतरराष्ट्रीय हॉकी से प्रतिबंध की संभावना शामिल है। उन्होंने विश्व कप की मेजबानी का करार किया है जो उन्हें पूरा करना है।

आगे उन्होंने कहा,"लेकिन हम उस दिशा में नहीं सोच रहे हैं । सजा का सबसे ज्यादा असर खिलाड़ियों पर पड़ता है। इसके साथ ही भारत के हॉकीप्रेमी विश्व स्तरीय हॉकी से वंचित रह जायेंगे जो हम नहीं चाहते। एफआईएच ने अभी तक 'प्लान बी' नहीं बनाया है और उसका मानना है कि इसकी नौबत नहीं आनी चाहिये।"

वील ने यह भी कहा कि हमने विकल्प के बारे में नहीं सोचा है क्योंकि हम चाहते हैं कि विश्व कप भारत में ही हो। हमारा दौरा विफल रहने पर प्लान बी के बारे में सोचेंगे। लेकिन विश्व कप भारत में नहीं होना शर्मनाक होगा।

आपको बता दे 2023 का हॉकी विश्व कप 13 जनवरी से 29 जनवरी के बीच खेला जायेगा।

Next Story
Share it