Begin typing your search above and press return to search.

हॉकी

Hockey World Cup Crossover: स्पेन और न्यूजीलैंड क्वार्टरफाइनल में

न्यूजीलैंड ने रोमांचक क्रॉसओवर मुकाबले में मेजबान भारत को शूटआउट में 5-4 (फुल टाइम 3-3) से हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

spain hockey
X

स्पेन हॉकी टीम 

By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2023-01-23T21:52:27+05:30

रोमांचक मुकाबला जीतकर क्वार्टरफाइनल में स्पेन

स्पेन ने रविवार को एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप 2023 के रोमांचक क्रॉसओवर मुकाबले में मलेशिया को 2-2 (शूटआउट 4-3) से हराकर क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली।

कलिंगा स्टेडियम पर खेले गये मुकाबले में फैज़ल सारी (34वां) और शेलो सिल्वेरियस (48वां मिनट) ने मलेशिया के गोल किये, जबकि कप्तान मार्क मिरालेस (40वां) और गिस्पर्ट ज़ेवियर (41वां मिनट) ने स्पेन के गोल दागे। मिरालेस ने शूटआउट में भी स्पेन के लिये दो गोल किये, जबकि ज़ेवियर गिस्पर्ट और जोर्डी बोनास्ट्रे ने एक-एक गोल किया। मलेशिया के लिये शूटआउट में फिरहान अशरी, फैज़ल और सुहैमी इरफान शाहमी ही गोल कर सके।

कोच मैक्स कालडास की टीम अब 24 जनवरी को क्वार्टरफाइनल में ऑस्ट्रेलिया का सामना करेगी। कालडास की टीम ने इस बार क्वार्टरफाइनल में जगह बनाने के लिये मुकाबले की आक्रामक शुरुआत की मगर मलेशिया की रक्षण पंक्ति ने उसे काफी समय तक खाता नहीं खोलने दिया। स्पेन को पहले और 11वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर भी मिले जिनका वह लाभ नहीं ले सका।

दूसरा क्वार्टर शान्ति से गुज़रने के बाद स्पेन ने तीसरे क्वार्टर के दूसरे मिनट में भी एक पेनल्टी कॉर्नर अर्जित किया, लेकिन मैच का पहला गोल 34वें मिनट फैज़ल की हॉकी से निकला। स्पेन ने मलेशिया की बढ़त ज्यादा देर नहीं रहने दी और कप्तान मिरालेस ने पेनल्टी स्ट्रोक 40वें मिनट में मिले पेनल्टी स्ट्रोक को गोल में तब्दील कर दिया। अगले ही मिनट ज़ेवियर ने फील्ड गोल दागकर स्पेन को 2-1 की बढ़त दिला दी।

चौथे क्वार्टर में प्रवेश करते हुए मलेशिया एक गोल से पिछड़ चुका था। सिल्वेरियस ने 48वें मिनट में एशियाई टीम के लिये फील्ड गोल दागकर स्कोर बराबर कर दिया। मैच के 56वें मिनट में मिरालेस को ग्रीन कार्ड देखकर बाहर जाना पड़ा और स्पेन दो मिनट बाद मिले पेनल्टी कॉर्नर का लाभ नहीं ले सका। नतीजतन मैच पेनल्टी शूटआउट में चला गया।

पेनल्टी शूटआउट के पहले पांच प्रयासों के बाद स्कोर 3-3 पर बराबर था। कप्तान मिरालेस ने अपनी टीम के लिये आगे आकर छठे प्रयास में गोल किया जबकि मलेशिया के लिये फरहान गोल करने से चूक गये और स्पेन ने क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली।

न्यूजीलैंड ने भारत को विश्व कप से बाहर किया

न्यूजीलैंड ने रविवार को एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप 2023 के रोमांचक क्रॉसओवर मुकाबले में मेजबान भारत को शूटआउट में 5-4 (फुल टाइम 3-3) से हराकर टूर्नामेंट से बाहर कर दिया।

कलिंगा स्टेडियम पर खेले गये मुकाबले में ललित कुमार उपाध्याय (17वां), सुखजीत सिंह (24वां) और वरुण कुमार (40वां मिनट) ने भारत के लिये गोल किया। न्यूजीलैंड के गोल सैम लेन (28वां), रसेल केन (43वां) और सीन फिन्डले (49वां मिनट) ने दागे। शूटआउट में हरमनप्रीत सिंह और सुखजीत सिंह ने भारत के लिये एक-एक गोल किया, जबकि राज कुमार पाल ने दो गोल किये। न्यूजीलैंड के लिये निक वुड्स, फिलिप्स हेडेन और सैम लेन ने एक-एक शूटआउट गोल किया, जबकि फिन्डले ने दो गोल करके कीवी टीम को जीत दिला दी।

न्यूजीलैंड ने इस जीत के साथ बेल्जियम के खिलाफ होने वाले क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली है। मेज़बान भारत क्वार्टरफाइनल की दौड़ से बाहर हो गया है और अब वह नौंवे से 16वें स्थान के मुकाबलों में 26 जनवरी को जापान का सामना करेगा।

विश्व रैंकिंग में 12वें नंबर की टीम न्यूजीलैंड ने पहली सीटी बजते ही अच्छी हॉकी खेली पहले क्वार्टर में दोनों टीमों के बीच कांटेदार मुकाबला हुआ। और दोनों टीमें कोई गोल नहीं कर पाईं। हालांकि खेल के 12वें मिनट में भारत को जरूर पेनल्टी कॉनर मिला था, जो बेकार चला गया। दूसरा क्वार्टर रोमांच से भरपूर रहा। इस क्वार्टर में कुल तीन गोल हुए। सबसे पहले ललित उपाध्याय (17वें मिनट) ने शानदार फील्ड गोल करके टीम इंडिया को 1-0 की लीड दिला दी।

इसके बाद भारत को चार मिनट के अंदर तीन पेनल्टी कॉर्नर मिले जिसमें एक मौके पर गोल हुआ। यानी कि टीम इंडिया 2-0 से हो गई। भारत के लिए पेनल्टी कॉर्नर पर ये गोल सुखजीत सिंह (24वें मिनट) ने दागा। खेल के 28वें मिनट में न्यूजीलैंड की टीम बढ़त को कम करने में कामयाब रही जब सैम लेन के शॉट को भारतीय गोलकीपर रोकने में नाकाम रहा।

तीसरा क्ववार्टर भी काफी रोमांचक रहा। भारतीय टीम ने कीवियों पर प्रेशर बनाए रखा, लेकिन इसके बावजूद इस क्वार्टर में एक गोल के साथ ही एक गोल खा बैठी। 38वें मिनट में भारत को पेनल्टी कॉर्नर मिला जो बेकार चला गया। इसके 40वें मिनट में वरुण कुमार ने पेनल्टी कॉर्नर को भुनाते हुए गोल करने में सफल रहे। इससे स्कोर भारत के पक्ष में 3-1 हो गया। फिर 43वें मिनट में भारतीय डिफेंस ने गलती कर दी जिसके चलते न्यूजीलैंड को पेनल्टी कॉर्नर मिला। पेनल्टी कॉर्नर पर केन रसेल गोल करने में सफल रहे। चौथे क्वार्टर में भारतीय डिफेंस बिखरी नजर आई जिसका फायदा उठाते हुए एक गोल दाग दिया जिसके चलते मुकाबला शूटआउट में चला गया।

शूटआउट में पहले पांच प्रयासों तक दोनों टीमें 3-3 की बराबरी पर थीं। छठे प्रयास में फिन्डले ने न्यूजीलैंड के लिये जबकि राज कुमार ने भारत के लिये गोल किया। सातवें प्रयास में फिलिप्स हेडेन और सुखजीत सिंह दोनों चूक गये। आठवें प्रयास में सैम लेन न्यूजीलैंड के लिये गोल करने में सफल रहे, जबकि शमशेर सिंह गोलकीपर डॉमिनिक डिक्सन को पार नहीं कर सके और भारत एक गोल के अंतर से मुकाबला हारकर विश्व कप से बाहर हो गया।

Next Story
Share it