Begin typing your search above and press return to search.

हॉकी

हॉकी विश्व कप जीतने पर हर भारतीय खिलाड़ी को मिलेगा एक करोड़ रुपये का पुरस्कार: नवीन पटनायक

राउरकेला के दौरे पर आये पटनायक ने बिरसा मुंडा हॉकी स्टेडियम परिसर में 'विश्व कप गांव' का भी उद्घाटन किया।

हॉकी विश्व कप जीतने पर हर भारतीय खिलाड़ी को मिलेगा एक करोड़ रुपये का पुरस्कार: नवीन पटनायक
X
By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2023-01-05T18:44:26+05:30

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप जीतने पर भारतीय टीम के हर खिलाड़ी एक करोड़ रुपये का पुरस्कार देने की गुरुवार को घोषणा की। राउरकेला के दौरे पर आये पटनायक ने बिरसा मुंडा हॉकी स्टेडियम परिसर में 'विश्व कप गांव' का भी उद्घाटन किया। विश्व कप गांव को रिकॉर्ड नौ महीने के अंदर तैयार किया गया है।

इसमें हॉकी विश्व कप के स्तर के अनुरूप सभी सुविधाओं के साथ 225 कमरे हैं। विश्व कप गांव में आगामी हॉकी विश्व कप की टीमें और अधिकारी रहेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विश्व कप गांव में ठहरी राष्ट्रीय पुरुष हॉकी टीम से बातचीत की। पटनायक ने कहा, ''अगर हमारा देश विश्व कप जीतता है तो भारतीय टीम के प्रत्येक खिलाड़ी को एक करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा। मैं टीम इंडिया को शुभकामनाएं देता हूं और उम्मीद करता हूं कि वे चैंपियन बनकर उभरें।"

खिलाड़ियों ने यहां हॉकी के लिए एक समग्र पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने के लिए ओडिशा सरकार की प्रशंसा की और मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। इस मौके पर ओडिशा के खेल मंत्री टीके बेहरा, हॉकी इंडिया के अध्यक्ष दिलीप टिर्की के साथ कई और अधिकारी मौजूद थे। बता दें कि इससे पहले हॉकी इंडिया ने भुवनेश्वर और राउरकेला में अगले महीने होने वाले एफआईएच पुरुष हॉकी विश्व कप से पहले भारतीय टीम और सहयोगी स्टाफ की हौसलाअफजाई के लिये नकद पुरस्कारों का ऐलान किया था।

हॉकी इंडिया ने स्वर्ण पदक जीतने पर टीम के हर सदस्य को 25 लाख रुपये और सहयोगी स्टाफ को पांच लाख रुपये देने की घोषणा की है। वहीं, रजत पदक जीतने पर खिलाड़ियों को 15-15 लाख रुपये और सहयोगी स्टाफ को तीन लाख रुपये दिये जाएंगे। कांस्य पदक जीतने पर खिलाड़ियों को 10-10 लाख रुपये और सहयोगी स्टाफ को दो लाख रुपये मिलेंगे।

मेजबान के रूप में, भारत पोडियम पर खत्म करने के लिए उत्सुक है और उम्मीदें इस बार बहुत अधिक हैं, विशेष रूप से ओलंपिक खेलों टोक्यो 2020 में टीम के शानदार प्रदर्शन के बाद, जहां उन्होंने पोडियम पर फिर से खड़े होने के लिए 41 साल के लंबे इंतजार को समाप्त कर दिया।

भारतीय टीम, जो इंग्लैंड, स्पेन और वेल्स के साथ पूल डी में है, अपने अभियान की शुरुआत 13 जनवरी को राउरकेला में नवनिर्मित बिरसा मुंडा हॉकी स्टेडियम में स्पेन के खिलाफ करेगी, जिसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ उनका दूसरा पूल डी मैच होगा। वे वेल्स के खिलाफ अपने तीसरे पूल मैच के लिए भुवनेश्वर जाएंगे। नॉकआउट चरण 22 जनवरी और 23 जनवरी को क्रॉसओवर मैचों के साथ शुरू होगा, इसके बाद 25 जनवरी को क्वार्टर फाइनल और 27 जनवरी को सेमीफाइनल होंगे। कांस्य पदक मैच और फाइनल 29 जनवरी को होगा।

Next Story
Share it