Begin typing your search above and press return to search.

ताज़ा ख़बर

टोक्यो टेस्ट इवेंट: न्यूज़ीलैंड के हाथों भारत की हार, आख़िरी लम्हों में टीम इंडिया ने गंवाया मैच

टोक्यो टेस्ट इवेंट: न्यूज़ीलैंड के हाथों भारत की हार, आख़िरी लम्हों में टीम इंडिया ने गंवाया मैच
X
By

Syed Hussain

Published: 18 Aug 2019 11:33 AM GMT
FIH ओलंपिक्स क्वाइलिफ़ायर की तैयारियों के लिए टोक्यो में खेले जा रहे टोक्यो टेस्ट इवेंट में भारतीय हॉकी टीम अपने दूसरे मुक़ाबले में न्यूज़ीलैंड से 1-2 से हार गई। इससे पहले शनिवार को भारत ने मलेशिया को 6-0 से हराया था और दूसरे दिन भी तीन क्वार्टर तक मैच में 1-0 से आगे रहने के बाद भारत ने अंतिम क्वार्टर में दो गोल खाए और मैच गंवा दिया। https://twitter.com/TheHockeyIndia/status/1163053295713153024?s=20 पहले क्वार्टर की शुरुआत में ही भारतीय हॉकी टीम को पेन्लटी कॉर्नर हासिल हुआ जिसे हरमनप्रीत सिंह ने ज़ाया नहीं किया और भारत को मैच के दूसरे मिनट में 1-0 की बढ़त दिला दी थी। हालांकि उसके बाद भी भारत को और पेनल्टी कॉर्नर मिले लेकिन उसे गोल में तब्दील करने से भारतीय खिलाड़ी चूक गए। पहले क्वार्टर के बाद टीम इंडिया 1-0 से आगे थी। भारत के स्टार डिफ़ेंडर कोठाजीत सिंह का भारत के लिए ये 200वां अंतर्राष्ट्रीय मैच भी था। https://twitter.com/TheHockeyIndia/status/1163046977992421384?s=20 दूसरे क्वार्टर में न्यूज़ीलैंड बराबरी करने के लिए बेक़रार नज़र आ रही थी, और उनका आक्रमण काफ़ी दमदार दिखाई दे रहा था। लेकिन भारतीय टीम ने भी ठान लिया था कि कोई ग़लती या मौक़ा वह न्यूज़ीलैंड को नहीं देने वाले। भारतीय रक्षापंक्ति को दूसरे क्वार्टर में भी कीवियों की फ़ौज नहीं भेद पाई और दूसरे क्वार्टर में दोनों ही टीम की तरफ़ से कोई गोल नहीं हुआ, हाफ़ टाइम तक भारत ने मैच में 1-0 से बढ़त बरक़रार रखी थी। https://twitter.com/TheHockeyIndia/status/1163038310685528065?s=20 तीसरा क्वार्टर भी काफ़ी दिलचस्प रहा, जहां दोनों ही देशों की तरफ़ से गोल करने के ख़ूब प्रयास किए गए लेकिन भारत और न्यूज़ीलैंंड दोनों ही टीमों का डिफ़ेंस काफ़ी अच्छा दिखाई दे रहा था। नतीजा ये हुआ कि लगातार दूसरे क्वार्टर में दोनों ही टीमों की तरफ़ से कोई गोल नहीं हुआ और भारत तीसरे क्वार्टर के बाद 1-0 से मैच में आगे था। अब चौथा क्वार्टर बहुत अहम हो गया था, न्यूज़ीलैंड की नज़र इस 15 मिनट में जहां बराबरी करते हुए कम से कम मैच ड्रॉ करने पर थी तो टीम इंडिया इस बढ़त को बनाए रखते हुए लगातार दूसरी जीत की उम्मीदों के साथ मैदान पर उतर चुकी थी। शुरुआत न्यूज़ीलैंड के पक्ष में गई और कीवियों ने अपना पहला गोल 47वें मिनट में करते हुए मैच 1-1 से बराबर कर दिया था। ये गोल जैकम स्मिथ ने किया, अब जीत का दबाव भारत पर दिखने लगा था, और यहां एक बार फिर भारतीय हॉकी टीम ने वही ग़लती की जो दशकों से टीम इंडिया का साथ नहीं छोड़ रही है। आख़िरी मिनटों में भारत का डिफ़ेंस पूरी तरह से लड़खड़ाता नज़र आया और कीवियों ने इसका फ़ायदा उठाते हुए व्हिसल बजने के कुछ सेकंड्स पहले 60वें मिनट में एक और गोल करते हुए 2-1 से मुक़ाबला जीत लिया। न्यूज़ीलैंड के लिए ये मैच जिताऊ गोल सैम लेन ने किया। टीम इंडिया अब टोक्यो टेस्ट इवेंट में अपना आख़िरी मुक़ाबला मेज़बान जापान के ख़िलाफ़ खेलेगी। इससे पहले रविवार की सुबह भारतीय महिला हॉकी टीम ने मज़बूत ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 2-2 से मैच ड्रॉ करने में क़ामयाब रही थी।
Next Story
Share it