Begin typing your search above and press return to search.

हॉकी

हम टोक्यो ओलंपिक में टॉप-4 में पहुंच सकते हैं-मनप्रीत सिंह

हम टोक्यो ओलंपिक में टॉप-4 में पहुंच सकते हैं-मनप्रीत सिंह
X
By

Ankit Pasbola

Updated: 2022-04-15T01:24:22+05:30

हॉकी विश्वकप में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद अब भारतीय टीम का अगला लक्ष्य ओलंपिक खेलों में पदक हासिल करना होगा। भारतीय टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह अपने इस लक्ष्य को लेकर काफी आशान्वित भी नजर आये। उन्होंने आगामी ओलंपिक में भारतीय टीम की टॉप-4 में पहुंचने की संभावनाएं जताई है।

कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा, "हमारे पास ओलंपिक की तैयारी के लिए काफी समय है और प्रत्येक सत्र में हम प्रत्येक दिन बेहतर और बेहतर योजना बनाते हैं। मुख्य कोच ग्राहम रीड के पास पहले से ही एक ठोस प्रक्रिया है और हमें बस उस पर कायम रहने की जरूरत है। मुझे यकीन है कि परिणाम हमारे पक्ष में होंगे। टीम का मानना है कि हमारे पास टोक्यो ओलंपिक में शीर्ष 4 में पहुंचने की अच्छी संभावनाएं हैं और एक बार जब हम सेमीफाइनल में जगह बना लेते हैं, तो यह किसी का भी मैच हो सकता है।"

2016 और 2018 में लगातार एशियन चैंपियंस ट्रॉफी जीतने के बाद, टीम लक्ष्य का तीसरी बार खिताब जीतने पर होगा। भारतीय कप्तान ने कहा, "यह निश्चित रूप से एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी खिताब का बचाव करना हमारे दिमाग में है। यह शानदार होगा कि हम जीत की हैट्रिक लगा पाएंगे। लेकिन हम इसे कदम-दर-कदम हासिल करना चाहेंगे। मुझे लगता है कि वर्ष 2019 हमारे लिए सकारात्मक रहा। हमारा एकमात्र सबसे महत्वपूर्ण लक्ष्य ओलंपिक क्वालीफाई करना था और उसमें हमने एक टीम के रूप में सामूहिक रूप से सुधार किया और लगातार अच्छा प्रदर्शन किया।"

युवा खिलाड़ियों को लेकर कप्तान ने कहा, "हमने देखा कि कुछ युवा अपना पहला अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रहे हैं। खिलाड़ियों का मजबूत पूल होना अच्छा है, जिनके पास अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दबाव को संभालने की क्षमता हो। यह एक फायदा है, खासकर जब हम लगातार FIH हॉकी प्रो लीग खेलते हैं। हमारा पहला लक्ष्य एफआईएच हॉकी प्रो लीग में अच्छा प्रदर्शन करना है। कल हमारी एक बैठक हुई थी जहां हमने मुख्य कोच को अपनी प्रतिक्रिया दी थी और हमने चर्चा की थी कि हमें नीदरलैंड, बेल्जियम और ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमों के खिलाफ जीतने के लिये क्या करना है, जिनके खिलाफ हमें जनवरी और फरवरी में खेलना है।"

Next Story
Share it