शुक्रवार, फ़रवरी 26, 2021
होम ताज़ा ख़बर भारतीय महिला टीम का इंग्लैंड में कमाल जारी, तीसरे मैच में भी...

भारतीय महिला टीम का इंग्लैंड में कमाल जारी, तीसरे मैच में भी टीम इंडिया रही अनबिटेन

इंग्लैंड दौरे पर गई भारतीय महिला हॉकी टीम का शानदार प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी रहा, जब तीसरे टेस्ट मैच में भी टीम इंडिया ने इंग्लैंड को जीत से वंचित कर दिया और मुक़ाबला 0-0 पर समाप्त हो गया। भारत अब तक इस दौरे पर तीन मैचों में एक जीत और दो ड्रॉ के साथ अनबिटेन रहा है, जो इस महिला टीम के लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है। भारतीय महिला टीम की अनुभवी खिलाड़ी निक्की का ये 100वां अंतर्राष्ट्रीय मैच भी था।

पहला क्वार्टर इंग्लैंड 0 भारत 0

बेल्जियम के ख़िलाफ़ भारतीय पुरुष टीम ने दर्ज की लगातार दूसरी जीत

टीम इंडिया ने शुरुआत से ही दबाव मेज़बान इंग्लैंड पर ला दिया था, और कुछ ही मिनटों के अंदर भारतीय महिला हॉकी टीम को पेनल्टी कॉर्नर भी मिल गया था। हालांकि टीम इंडिया इसे गोल में तब्दील करने से चूक गई। इसके बाद भी भारत ने कई बार आक्रामक अंदाज़ दिखाते हुए मेज़बान टीम के सर्किल में घुस गईं थी लेकिन इंग्लैंड की रक्षापंक्ति को छकाने के बाद भी उनकी गोलकीपर को नहीं छका पाईं। नतीजा ये हुआ कि पहला क्वार्टर गोल रहित ख़त्म हुआ।

दूसरा क्वार्टर (हाफ़ टाइम) इंग्लैंड 0 भारत 0

इस क्वार्टर में भारत और इंग्लैंड दोनों की ही तरफ़ से काफ़ी तेज़ हॉकी देखने को मिल रही थी, दोनों ही टीमों का आक्रमण शानदार था। लेकिन उससे भी बेहतरीन इंग्लैंड और भारत का डिफ़ेंस था, जिसे भेद पाना बेहद मुश्किल दिखाई दे रहा था। हुआ भी ठीक वैसा ही, दूसरा हाफ़ भी ख़त्म होने के बाद इस मैच के स्कोरर को कोई ज़हमत नहीं हुई क्योंकि अभी भी दोनों टीमों का स्कोर 0-0 था।

तीसरा क्वार्टर इंग्लैंड 0 भारत 0

अब सभी की नज़रें इस क्वार्टर पर थीं, यहां जिसकी तरफ़ से पहला गोल होता, जीत उस टीम की हो सकती थी। और मेज़बान टीम के लिए शुरुआत में ही पेनल्टी कॉर्नर भी मिल गया था, लेकिन टीम इंडिया की गोलकीपर सविता चट्टान की तरह खड़ी थीं और उन्होंने इंग्लैंड को बढ़त लेने से महरूम कर दिया। टीम इंडिया एक बार फिर गोल के बेहद क़रीब आ गई थी लेकिन इंग्लैंड का डिफ़ेंस मुस्तैद था और यहां भी गोल नहीं हो सका। तीसरा क्वार्टर भी ख़त्म हो गया और मैच में एक अदद गोल का इंतज़ार अभी भी जारी था।

चौथा क्वार्टर (फ़ुल टाइम) इंग्लैंड 0 भारत 0

क़रीब क़रीब अब ये साफ़ हो गया था, मुकाबला फिर ड्रॉ की तरफ़ जा रहा है। जो टीम इंडिया के लिए जीत से कम नहीं था, क्योंकि भारत ने पहला मैच जीत रखा था और दूसरा भी ड्रॉ रहा था। भारतीय महिला टीम भी अब इसी इरादे से इस क्वार्टर में उतरी थीं कि अगर गोल कर नहीं पाए तो खाएंगे भी नहीं, और टीम इंडिया का ये मक़सद व्हिसल बजते ही क़ामयाब हो गया, क्योंकि मुक़ाबला 0-0 से ड्रॉ रहा।