शनिवार, सितम्बर 26, 2020
होम ताज़ा ख़बर वर्ल्ड चैंपियन बेल्जियम का भारत ने किया व्हाइटवॉश, आख़िरी टेस्ट में भी...

वर्ल्ड चैंपियन बेल्जियम का भारत ने किया व्हाइटवॉश, आख़िरी टेस्ट में भी टीम इंडिया की जीत

बेल्जियम दौरे पर गई भारतीय हॉकी टीम ने वर्ल्ड चैंपियन बेल्जियम को तीसरे और आख़िरी टेस्ट मैच में भी शिकस्त देते हुए 3-0 से विश्व विजेता का व्हाइटवॉश कर दिया। साथ ही साथ भारत ने इस दौरे पर दो बार स्पेन को भी मात दी थी, इस तरह से टीम इंडिया ने 5 मैचों में 5 जीत के साथ बेहतरीन अंदाज़ में दौरा समाप्त किया।

भारत ने इस दौरे पर 2 मैचों में स्पेन को मात दी और तीन बार बेल्जियम को हराकर 5-0 से व्हाइटवॉश किया

EXCLUSIVE: ड्राइवर के बेटे से नवीन एक्स्प्रेस तक बनने की कहानी, ख़ुद नवीन की ज़ुबानी

पहला क्वार्टर बेल्जियम 0 भारत 1

भारत ने इस मैच की शुरुआत धमाकेदार अंदाज़ में करते हुए 5वें मिनट के अंदर ही मेज़बान टीम पर 1-0 की बढ़त बना ली थी। भारत की ओर से पहला गोल सिमरनजीत सिंह ने दागा। मेज़बान टीम ने इसके बाद वापसी करते हुए पेनल्टी कॉर्नर भी हासिल किया लेकिन भारतीय गोलकीपर कृषण बी पाठक ने शानदार सेव करते हुए बेल्जियम को बराबरी का मौक़ा नहीं दिया। इस क्वार्टर में फिर और कोई गोल नहीं हुआ, और भारत ने 1-0 के साथ पहला क्वार्टर ख़त्म किया।

ये भी पढ़ें: भारतीय महिला हॉकी टीम का कैसा रहा था चौथा मैच, दिल जीतना लगातार है जारी

दूसरा क्वार्टर (हाफ़ टाइम) बेल्जियम 0 भारत 1

दूसरे क्वार्टर में मेज़बान बेल्जियम ने वापसी करने की पूरज़ोर कोशिश की थी और उनके पक्ष में एक बार फिर दो-दो पेनल्टी कॉर्नर गए, बेल्जियम के लिए मैच का ये तीसरा पेनल्टी कॉर्नर था। जो भारतीय रक्षापंक्ति की ताक़त को दर्शाने के लिए काफ़ी है, क्योंकि टीम इंडिया इन सारे कॉर्नर का शानदार अंदाज़ में बचाव किया और इसका श्रेय गोलकीपर कृषण बी पाठक को जाता है। यही वजह रही कि टीम इंडिया हाफ़ टाइम तक मैच में 1-0 से आगे थी और अब दबाव बेल्जियम पर बढ़ता जा रहा था।

हाफ़ टाइम तक टीम इंडिया के पास 1-0 की बढ़त हासिल थी

तीसरा क्वार्टर बेल्जियम 1 भारत 5

भारत ने अपनी इस बढ़त और मेज़बान टीम पर दबाव और भी तब बढ़ा दिया जब तीसरे हाफ़ की शुरुआत में ही ललित उपाध्याय ने भारत को 2-0 से आगे कर दिया था। अभी मेज़बान टीम इस डबल झटके से ऊबरी भी नहीं थी कि युवा विवेक सागर ने भारत के लिए तीसरा गोल करते हुए बेल्जियम को 0-3 से पीछे कर दिया था। हालांकि इसके बाद मेज़बान टीम को मैच में चौथा पेनल्टी कॉर्नर मिला और इस बार उन्होंने गोल में बदलते हुए अंतर को 2 तक ले आए थे। लेकिन इसके बाद भी टीम इंडिया का धमाका जारी रहा और अब हरमनप्रीत सिंह और रमनदीप ने भी एक के बाद एक गोल करते हुए भारत को 5-1 की बढ़त दिला दी थी। तीसरे क्वार्टर में गोलों की बारिश हुई, भारत की ओर से इस क्वार्टर में 4 गोल हुए तो बेल्जियम ने भी एक गोल दागा।

चौथा क्वार्टर (फ़ुल टाइम) बेल्जियम 1 भारत 5

5-1 की बढ़त बनाने के बाद भारत को अगले 15 मिनट बस इस पर क़ायम रहना था ताकि ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स से पहले भारत एक बुलंद हौसले के साथ मैदान में उतरे। कोच ग्रहम रीड और कप्तान मनप्रीत सिंह भी शायद खिलाड़ियों को यही सलाह दे रहे थे, क्योंकि वर्ल्ड चैंपियन पर इस तरह धमाकेदार जीत दर्ज करना बड़ी बात है। मेज़बान टीम ने इस हाफ़ में कोशिशें तो काफ़ी की थी लेकिन भारत की बढ़त को पाट पाने में नाकाम रहें, और जैसे ही व्हिसल बजा, भारत ने मुक़ाबला 5-1 से और सीरीज़ 5-0 से अपने माम कर ली थी।

भारत ने बेल्जियम दौरा 5-0 के साथ ख़त्म किया

ग्रहम रीड की कोचिंग में टीम इंडिया की ये लगातार तीसरी सीरीज़ जीत है, इस दौरे पर भारत ने इससे पहले बेल्जियम को 2-0 और 2-1 से शिकस्त दी थी जबकि स्पेन को 6-1 और 5-1 से रौंद डाला।