Begin typing your search above and press return to search.

ताज़ा ख़बर

भारतीय महिला टीम का इंग्लैंड दौरा: चौथे मैच में टीम इंडिया का अनबिटेन सफ़र थमा, लेकिन हार कर भी इस टीम ने जीता दिल

भारतीय महिला टीम का इंग्लैंड दौरा: चौथे मैच में टीम इंडिया का अनबिटेन सफ़र थमा, लेकिन हार कर भी इस टीम ने जीता दिल
X
By

Syed Hussain

Published: 2 Oct 2019 5:25 PM GMT

इंग्लैंड दौरे पर गई टीम इंडिया का शानदार अनबिटेन सफ़र बुधवार की शाम थम गया, जब मेज़बान इंग्लैंड ने भारत को 3-1 से शिकस्त दे दी। इस हार के बाद अब 5 मैचों की सीरीज़ 1-1 से बराबर है, जबकि पांचवां और आख़िरी मुक़ाबला शुक्रवार को खेला जाएगा। इस मैच में भारत की तरफ़ से एकमात्र गोल नेहा ने किया। भारतीय महिला टीम की दिग्गज डिफ़ेंडर दीप ग्रेस का ये 200वां अंतर्राष्ट्रीय मैच था।

EXCLUSIVE: ड्राइवर के बेटे से 'नवीन एक्सप्रेस' बनने की कहानी, ख़ुद नवीन की ज़ुबानी

https://twitter.com/TheHockeyIndia/status/1179397465344282627?s=20

पहला क्वार्टर इंग्लैंड 1 भारत 0

भारत की शुरुआत इस मैच में अच्छी नहीं रही थी, और टीम इंडिया ने चंद ही मिनटों में मेज़बान टीम को पेनल्टी कॉर्नर दे दिया था। जिसे ग्रेट ब्रिटेन ने ज़ाया नहीं होने दिया और गोल में तब्दील करते हुए भारत पर 1-0 की बढ़त ले ली थी। हालांकि इसके बाद टीम इंडिया ने वापसी की कई कोशिश की और आक्रामकता भी दिखाई लेकिन पहले क्वार्टर तक स्कोर 1-0 से मेज़बान टीम के ही पक्ष में गया।

तीसरे टेस्ट मैच में भारतीय महिला टीम ने इस तरह अंग्रेज़ों की नाक में किया था दम

दूसरा क्वार्टर (हाफ़ टाइम) इंग्लैंड 2 भारत 1

दूसरे हाफ़ में भी भारत ने उसी आक्रामकता का परिचय दिया और खेल को तेज़ी से आगे बढ़ाते हुए नेहा के बेहतरीन गोल की बदौलत मैच में 1-1 की बराबरी कर ली थी। टीम इंडिया अब मैच में वापस आ चुकी थी, लेकिन तभी एक और ग़लती भारत को भारी पड़ गई और पेनल्टी कॉर्नर मेज़बान टीम को मिल गया। इंग्लैंड ने इस मिले मौक़े को एक बार फिर गोल में बदल डाला और अब दोबारा से भारत पर 2-1 की बढ़त बना ली थी। हाफ़ टाइम तक टीम इंडिया ने वापसी की बहुत कोशिश की लेकिन मेज़बान टीम के डिफ़ेंस को नहीं भेद पाई।

https://twitter.com/TheHockeyIndia/status/1179384655029637122?s=20

तीसरा क्वार्टर इंग्लैंड 2 भारत 1

अब टीम इंडिया के लिए ये क्वार्टर बेहद अहम था और भारत ने बेहतरीन खेल का परिचय दिया, ख़ास तौर से तीसरे क्वार्टर में टीम इंडिया का डिफ़ेंस बेहद शानदार दिख रहा था। मेज़बान टीम ने कई बार कोशिश की लेकिन भारत की रक्षापंक्ति को भेद पाने में नाकाम रही, इस क्वार्टर को ख़ास तौर से अगर अपना 200वां मैच खेल रहीं दीप ग्रेस के नाम किया जाए तो ग़लत नहीं होगा। भारत ने भी आक्रामकता दिखाते हुए कई बार ग्रेट ब्रिटेन के सर्किल के अंदर पहुंची लेकिन गोल करने में नाकाम रहीं। नतीजा तीसरे हाफ़ के बाद भी मेज़बान टीम 2-1 से भारत पर बढ़त बनाए हुए थी।

भारत की स्टार डिफ़ेंडर दीप ग्रेस का 200वां अंतर्राष्ट्रीय मैच

चौथा क्वार्टर (फ़ुल टाइम) इंग्लैंड 3 भारत 1

आख़िरी और चौथा क्वार्टर टीम इंडिया के लिए अपनी अनबिटेन स्ट्रीक को जारी रखने के लिए बेहद अहम था, लेकिन भारत की ओर से शुरुआती लम्हों में ही फॉउल हुआ जिसकी वजह से मेज़बान टीम को पेनल्टी स्ट्रोक मिला, और इसे इंग्लैंड ने अपने तीसरे गोल में तब्दील करते हुए टीम इंडिया की वापसी की उम्मीदों को गहरा आघात पहुंचा दिया था। इसके बाद इंग्लैंड ने कहीं से भी भारतीय महिला टीम को मैच में लौटने नहीं दिया और व्हिसल बजते ही मेज़बान टीम ने टेस्ट सीरीज़ में अपना पहला मुक़ाबला जीत लिया। लेकिन जिस अंदाज़ में रानी रामपाल की कप्तानी में इस टीम ने खेला है वह एक अच्छे भविष्य और ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स में बेहतर प्रदर्शन का संकेत है।

Next Story
Share it