रविवार, सितम्बर 20, 2020
होम ताज़ा ख़बर पुरुष हॉकी विश्वकप 2023 की मेजबानी करेगा भारत, रिकॉर्ड सर्वाधिक चौथी बार...

पुरुष हॉकी विश्वकप 2023 की मेजबानी करेगा भारत, रिकॉर्ड सर्वाधिक चौथी बार करेगा मेजबानी

भारत ने अगले पुरुष हॉकी विश्व कप 2023 के मेजबानी की रेस जीत ली है। आगामी पुरुष हॉकी विश्व कप 13 जनवरी 2023 से 29 जनवरी 2023 तक भारत में खेला जायेगा। इसके साथ भी भारत में रिकॉर्ड चौथी बार हॉकी विश्व कप खेला जायेगा। गौरतलब हो कि पिछले हॉकी विश्व कप 2018 का सफल आयोजन भी भारत में हुआ था। दूसरी तरफ महिला विश्व कप 2022 का आयोजन स्पेन और नीदरलैंड में किया जायेगा।

आगामी विश्व कप इसलिए भी खास होने वाला है क्योंकि स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ पर भारत इसकी मेजबानी करेगा और हर हाल में यह प्रतिष्ठित खिताब जीतना चाहेगा। अंतिम बार भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने साल 1975 में विश्व कप में कब्जा किया था। FIH के कार्यकारी बोर्ड ने शुक्रवार 8 नवंबर 2019 को स्विट्जरलैंड के लौसेन में अपने फैसले की घोषणा की।

पिछले वर्ष भारत में हॉकी विश्व कप के 14वें संस्करण का सफल आयोजन हुआ था, जिसकी सभी मैच भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में खेले गये थे। हॉकी इंडिया को मेजबान राष्ट्र के रूप में उनके आतिथ्य और अत्याधुनिक सुविधाओं के लिए दुनिया भर से प्रशंसा मिली। सफल आयोजन के कारण हॉकी इंडिया ने प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के लिए फिर से बोली लगाई और सफलता हासिल की। इससे पहले भारत ने मुंबई (1982), नई दिल्ली (2010) और भुवनेश्वर (2018) में हॉकी की मेजबानी की थी।

belgium hockey team

बेल्जियम पुरुष हॉकी टीम ने भारत के भुवनेश्वर में 2018 पुरुष हॉकी विश्व कप के फाइनल मैच में नीदरलैंड को हराकर विश्व कप ट्रॉफी जीती

भारतीय पुरुष टीम ने रूस को 7-1 से हराकर ओलम्पिक टिकट हासिल किया

पुरुष विश्व कप के अलावा भारत ने हाल ही में हॉकी के बड़े टूर्नामेंट्स की मेजबानी भी की है, जिसमें FIH चैंपियंस ट्रॉफी 2014, FIH जूनियर पुरुष विश्व कप 2016, FIH हॉकी विश्व लीग फाइनल 2017 और हॉकी ओलंपिक क्वालिफायर शामिल है। विश्व स्तरीय सुविधाएं और इन टूर्नामेंटों की सफलता ने भारत को दुनिया में हॉकी के प्रमुख केंद्रों में से एक बना दिया है।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने इस अवसर पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने कहा, “हम सभी 2023 पुरुष हॉकी विश्व कप की मेजबानी की बोली जीतने के लिए बहुत खुश हैं। जब हमने बोली लगाई थी, तो हम अपने देश को आजादी के 75 साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए एक और कारण देना चाहते थे। हमने अंतिम विश्व कप 1975 में जीता था। अपने घर पर अपने राष्ट्रीय खेल के एक बड़े टूर्नामेंट को देखने के लिए इससे बेहतर अवसर क्या हो सकता है। पिछले विश्व कप की मेजबानी के बाद हमें विश्वास था कि हम एक और पुरुष हॉकी विश्व कप की मेजबानी कर सकते हैं। पिछले वर्ष हुए विश्व कप का अनुभव का उपयोग करते हुए हम आगामी 2023 विश्व कप का और भव्य आयोजन करेंगे।”