गुरूवार, सितम्बर 24, 2020
होम ताज़ा ख़बर अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने वर्ल्ड रैंकिंग सिस्टम में किया बदलाव

अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने वर्ल्ड रैंकिंग सिस्टम में किया बदलाव

अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने शुक्रवार को साल 2020 के लिए नये नियमों का अनावरण किया है। यह रैंकिंग सिस्टम मैच पर आधारित होंगे इससे पहले यह टूर्नामेंट पर आधारित होते थे। नयी प्रणाली के तहत एफआईएच से मान्यता प्राप्त हर मैच के लिये टीमों को रैंकिंग अंक मिलेंगे। यह नई व्यवस्था जनवरी से लागू हो जायेगी।

एफआईएच ने कहा कि 12 महीने के गहन शोध, विश्लेषण और परीक्षण के बाद यह प्रणाली शुरू की जा रही है। वर्ष 2003 से जारी एफआईएच विश्व रैंकिंग प्रणाली मूल रूप से टूर्नामेंटों में टीमों को पूल में बांटने के लिये शुरू की गई थी। इसके तहत टीमों को साल में दो या तीन बार रैंकिंग अंक बनाने का मौका मिलता था। इससे निचली रैंकिंग वाली टीमों के पास कम मौके रह जाते थे और उनकी क्षमता का सही आकलन नहीं हो पाता था।

यह भी पढ़ें: ओलंपिक में फिटनेस की भूमिका अहम रहने वाली है- रानी रामपाल

एफआईएच ने एक बयान जारी कर कहा, “करीब 60 प्रतिशत अंतरराष्ट्रीय मैचों में कोई रैंकिंग अंक नहीं होते और यही देखकर हमें बदलाव करना पड़ा। नयी प्रणाली के तहत एफआईएच से मान्यता प्राप्त हर मैच के लिये टीमों को रैंकिंग अंक मिलेंगे। ये अंक मैच के नतीजे, टीमों की तुलनात्मक रैंकिंग और मैच की अहमियत के आधार पर दिये जायेंगे।” बयान में कहा गया कि नयी व्यवस्था से टीमों की मौजूदा स्थिति मे फर्क नहीं पड़ेगा। हर टीम 2020 की शुरूआत उसी रैंकिंग से करेगी और उसके रैंकिंग अंक यथावत रहेंगे।