गुरूवार, अक्टूबर 29, 2020
होम ताज़ा ख़बर FIH सीरीज फाइनल: उज़्बेकिस्तान पर जीत के साथ भारत सेमी फाइनल में

FIH सीरीज फाइनल: उज़्बेकिस्तान पर जीत के साथ भारत सेमी फाइनल में

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने अपने तीसरे एवं अंतिम ग्रुप मैच में उज़्बेकिस्तान को 10-0 से हराते हुए प्रतियोगिता के सेमी फाइनल में प्रवेश कर लिया है।

उम्मीदों के मुताबिक भारत ने पहले ही मिनट से ही हमले करने शुरू कर दिए थे और दूसरे मिनट में ही गुरिंदर सिंह ने भारत के लिए पहला पेनल्टी कार्नर अर्जित किया, हरमनप्रीत सिंह की फ्लिक उज़बेक रशर के पैर को लगी और भारत को दूसरा पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन मनप्रीत सिंह की हिट को उज़बेक गोलकीपर मार्सेल अस्कारोव ने आसानी से रोक लिया। तीसरे मिनट में भारत को एक और पेनल्टी कार्नर मिला, लेकिन इस बार फिर वरुण कुमार की फ्लिक को उज़बेक गोलकीपर ने रोक दिया। भारत को पेनल्टी कार्नर का क्रम ज़ारी रहा और चौथे मिनट में मनदीप ने टीम का चौथा पेनल्टी कार्नर अर्जित किया, लेकिन इस बार भी मार्सेल बाज़ी ले गए, इसके बाद मिले पेनल्टी कार्नर पर वरुण कुमार ने बिना कोई गलती किये गोल करते हुए टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। भारत ने पुरे क्वार्टर में अधिकतम समय बॉल पजेशन अपने पास ही रखा और नीलकांता शर्मा और सुमित कुमार ने कई अच्छे मौके भी बनाये, इसी बीच नौवे मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर पर हरमनप्रीत का शॉट गोल पोस्ट के ऊपर से गया और भारत ने एक और मौका गँवा दिया। 11 वे मिनट में रमनदीप सिंह ने फिर से पेनल्टी कार्नर अर्जित किया और वरुण की ड्रैग फ्लिक को गोलकीपर ने रोक तो लिया लेकिन आकाशदीप सिंह ने रिबाउंड पर गोल करते हुए स्कोर 2-0 कर दिया। 15 वे मिनट में अमित रोहिदास ने पेनल्टी कार्नर पर गोल करते हुए स्कोर 3-0 कर दिया।

दूसरे क्वार्टर के शुरू होते ही शावकाटबेक मिरज़ाकारिमोव ने अच्छा मूव बनाया लेकिन कोई दूसरा उज़बेक खिलाडी उनकी मदद को आगे नहीं आ पाया और बीरेंद्र लाकरा ने उनके अटैक को आसानी से विफल कर दिया। 18 वे मिनट में उज़्बेकिस्तान के जर्सी नंबर 13 इलहॉजों सुल्तानोव को मनप्रीत सिंह के खिलाफ गलत टैकल की वजह से ग्रीन कार्ड मिला और भारत के पास गोल करने का अच्छा अवसर मिला लेकिन कोई भी भारतीय खिलाडी इसे भुनाने में नाकामयाब रहा। 22 वे मिनट में वरुण कुमार ने सर्किल के अंदर से गोल पोस्ट के नज़दीक खड़े मनदीप को बॉल पास करने की कोशिश की लेकिन बॉल उज़बेक खिलाडी को छूते हुए सीधे गोल पोस्ट में चली गयी और गोल वरुण कुमार के नाम हो गया। इसके बाद 26 वे मिनट में आकाशदीप ने फील्ड गोल और 27 वे मिनट में नीलकांता ने पेनल्टी कार्नर पे गोल करते हुए स्कोर 6-0 कर दिया। 28 वे मिनट में भारत को एक और पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन वरुण की फ्लिक को मार्सेल ने रोक लिया, इसके बाद रमनदीप ने रिबाउंड लेने की कोशिश की लेकिन इस बिच वो फ़ाउल कर बैठे और उज़्बेकिस्तान को फ्री हिट मिली। दूसरा क्वार्टर ख़त्म होते-होते मनदीप सिंह ने रमनदीप के पास पर गोल किया और हाफ टाइम तक स्कोर 7-0 से भारत के पक्ष में रहा।

आकाशदीप सिंह

तीसरा क्वार्टर शुरू होते ही उज़्बेकिस्तान ने भारत के खिलाफ अपना डिफेंस और मज़बूत कर लिया और भारतीय खिलाड़ियों को गोल पोस्ट से ही दूर रखा, 35 वे मिनट में भारत को पेनल्टी कार्नर मिला और हरमनप्रीत की फ्लिक को रशर ने आसानी से रोक लिया। उज़्बेकिस्तान ने भारत की मिडफ़ील्ड और फॉरवर्ड लाइन को पुरे समय उलझाए रखा। मनदीप, रमनदीप, विवेक सागर प्रसाद, हरमनप्रीत, मनप्रीत सभी ने कई बार मौके बनाने की कोशिश की और हर बार उज़बेक डिफेंस ने उन्हें रोके रखा, जब लग रहा था की तीसरा क्वार्टर बिना गोल के ख़त्म हो जायेगा लेकिन 45 वे मिनट में अमित के मिड लाइन से किये अटैक पर गुरसाहिबजीत सिंह ने सुमित के पास पर गोल करते हुए स्कोर 8-0 कर दिया।

चौथे और अंतिम क्वार्टर में भी उज़्बेकिस्तान ने अपना डिफेंस मज़बूत ही रखा लेकिन 53 वे मिनट में आकाशदीप सिंह ने सुमित कुमार के बेसलाइन पर दिए पास को गोल में बदलते हुए अपनी हैटट्रिक पूरी की। इसके थोड़ी देर ही बाद भारत को एक और पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन हरमनप्रीत की फ्लिक गोलपोस्ट से दूर गयी। पुरे क्वार्टर में भारत की फॉरवर्ड लाइन उज़बेक डिफेंस के सामने संघर्ष करती दिखी अंतिम सेकण्ड्स में नीलकांता शर्मा के पास पर मनदीप ने गोल करते हुए स्कोर 10-0 से भारत के पक्ष में कर दिया।

इस जीत के साथ भारत 9 अंको के साथ अपने पूल में शीर्ष स्थान पर रहते हुए सेमी फाइनल में जगह बना ली है, जहा उसका मुक़ाबला जापान और पोलैंड के बिच होने वाले क्रॉसओवर मैच के विजेता से होगा, अन्य ग्रुप में अमेरिका पूल टॉप करते हुए दूसरे सेमी फाइनल में जगह बनायीं है जहा उसका मुक़ाबला रूस और साउथ अफ्रीका के बिच होने वाले क्रॉसओवर मैच के विजेता से होगा। फाइनल में पहुंचने वाली दोनों टीमें टोक्यो 2020 ओलम्पिक क्वालीफ़ायर के लिए क्वालीफाई करेगी।