गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम हॉकी हॉकी : अज़लान शाह के दूसरे मैच में दक्षिण कोरिया ने भारत...

हॉकी : अज़लान शाह के दूसरे मैच में दक्षिण कोरिया ने भारत को ड्रा पर रोका

 भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने मलेशिया के इपोह शहर में खेले जा रहे 28 वे सुल्तान अज़लान शाह कप 2019 के दूसरे राउंड रोबिन मैच में दक्षिण कोरिया के साथ 1 – 1 गोल की बराबरी से ड्रा खेला।

 मैच के पहले क्वार्टर में ही भारत ने आक्रामक हॉकी खेलना शुरू की तथा मैच के पहले ही मिनट में मिड-फील्डर विवेक सागर प्रसाद ने मनदीप सिंह को गोल करने का एक सुनहरा मौका दिया लेकिन कोरियाई डिफेंडर ने इसे आसानी से ब्लॉक करके काउंटर अटैक किया, डिफेंडर सुरेंदर ने बॉल को बाहर करके आसानी से इस अटैक को विफल कर दिया। 10 वे मिनट में मनदीप सिंह बेसलाइन पर विपक्षी दल से फ़ाउल करवाकर भारत के लिए पहला पेनल्टी कार्नर अर्जित किया लेकिन गलत तकनीक के वजह से भारतीय खिलाड़ी बॉल को रोक नहीं पाए और भारत के हाथ से यह मौका चला गया। पहले क्वार्टर में दोनों टीमों का यही रुख रहा तथा पहला हूटर बजने तक स्कोर 0 – 0 ही रहा।

 दूसरे क्वार्टर के शुरू होते ही भारत ने अपना दूसरा पेनल्टी कार्नर अर्जित किया लेकिन अमित रोहिदास की कमज़ोर फ्लिक कोरियाई गोलकीपर द्वारा आसानी से रोक दी गयी। मैच के 19 वे मिनट में गुरसाहिबजीत सिंह तथा कोरिया के जांग जोंगह्युं को ग्रीन कार्ड मिला और दोनों टीमों को 10 खिलाड़ियों के साथ खेलना पड़ा। दूसरे क्वार्टर में कोरिया ने अपनी आक्रामक और कठोर शैली का इस्तेमाल किया और इसका उन्हें बड़ा खामियाज़ा भुगतना पड़ा जब 25 वे मिनट में किम ह्योंगजिन को ग्रीन कार्ड मिला इसके कुछ देर बाद ही 26 वे मिनट में यांग जिहून और ली नामयोग भी ग्रीन कार्ड लेकर टीम से बाहर हो गए और कोरिया की टीम 8 खिलाड़ियों के साथ खेल रही थी, भारत ने बिना मौका गवाए कोरियाई टीम पे एक शानदार अटैक किया और 28 वे मिनट में नीलकांता शर्मा के पास पे मनदीप सिंह ने भारत के लिए पहला गोल किया। हाफ टाइम तक भारत ने कोरिया पे 1 – 0 से बढ़त बनायीं रखी थी।

 तीसरे क्वार्टर में घने बादल होने की वजह से फ्लडलाइट्स ऑन करनी पड़ी, भारत ने अपनी अटैकिंग स्टाइल ज़ारी रखी और शुरुआती मिनटों में ही मनदीप ने 2 बार और शैलेन्द्र ने 1 एक बार गोल करने की कोशिश की, इसी बीच कोरिया ने अपना पहला पेनल्टी कार्नर अर्जित किया लेकिन इंडिया की वीडियो रेफरल अपील सफल हुयी और कोरिया को कोई पेनल्टी कार्नर नहीं मिला। कुछ देर बाद ही डिफेंस की गलती से कोरिया को दूसरा पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन फर्स्ट रशर अमित रोहिदास ने इसे आसानी से क्लियर कर दिया। 45 वे मिनट में कोरिया को अपना दूसरा पेनल्टी कार्नर मिला लेकिन गोलकीपर आकाश पाठक ने कोरियाई ड्रैग फ्लिकर यांग की फ्लिक को आसानी से रोक लिया, तीसरे क्वार्टर में कोई गोल नहीं हुआ और स्कोर 1 – 0 के साथ भारत के पक्ष में ही रहा।

 भारी बारिश के बीच में चौथे क्वार्टर की शुरुआत हुयी तथा पुरे टर्फ पर पानी भर गया, मैच में जब लगभग 8 मिनट रह गए थे तब अधिकारियो ने मैच को बारिश के रुकने तक रोक दिया। करीब एक घंटे बाद बारिश रुकी और मैच फिर से शुरू हुआ। मैच के आखिरी मिनटों में कोरिया ने तीन और पेनल्टी कार्नर जीते लेकिन हर बार उन्हें कोई सफलता नहीं मिली। मैच के आखिरी मिनट में कोरिया को अपना 6ठा पेनल्टी कार्नर मिला, डिफेंडर सुरेंदर ने इसे रोकने का प्रयास किया लेकिन बॉल उनके घुटने से ऊपर के भाग में लगी और कोरिया ने इसके लिए पेनल्टी स्ट्रोक माँगा, उनका वीडियो रेफेरल तो असफल रहा लेकिन डिफेंडर के फ़ाउल की वजह से उन्हें अपना 7 वा पेनल्टी कार्नर मिला। मैच में सिर्फ 31 सेकण्ड्स रह गए थे और जांग जोंगह्युं ने आसानी से गोल करके मैच को बराबरी पे ला दिया।

 भारत की लचर डिफेंसिव तकनीक के चलते मैच 1 – 1 की बराबरी से ड्रा रहा और दोनों टीमों को एक-एक पॉइंट मिला। दिन के दूसरे मैचों में कनाडा ने पोलैंड को 4 – 0, तथा मलेशिया ने जापान को 4 – 3 से हराया।

मलेशिया अंक तालिका में 2 जीत के साथ शीर्ष पे बनी हुयी है वही भारत एक जीत और एक ड्रा के साथ तीसरे स्थान पर है, भारत अब अपना अगला मैच मेज़बान मलेशिया के साथ 26 मार्च को खेलेगी।