Begin typing your search above and press return to search.

फुटबॉल

डॉक्टरों की लापरवाही से हुई युवा फुटबॉलर की मौत

सर्जरी के बाद प्रिया के विभिन्न अंगों में खराबी आ गई, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई।

डॉक्टरों की लापरवाही से हुई युवा फुटबॉलर की मौत
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-11-16T15:02:07+05:30

तमिलनाडु की युवा फुटबॉल खिलाड़ी के शरीर के सभी अंग खराब होने के कारण मंगलवार की सुबह मृत्यु हो गई। महिला खिलाड़ी प्रिया का पिछले एक सप्ताह से सरकारी पेरीफेरल अस्पताल में इलाज चल रहा था। दरअसल, खिलाड़ी की सर्जरी होनी थी। सर्जरी की दौरान आई दिक्कतों की वजह से प्रिया के दाहिने पैर को काटना पड़ा।

आगे के इलाज के लिए प्रिया को राजीव गांधी सरकारी समान्य अस्पताल (आरजीजीजीएच) में भेज दिया गया। जहां प्रिया के विभिन्न अंगों के खराब हो जाने के बाद मौत हो गयी।

गौरतलब है कि 17 साल की प्रिया बीएससी (शारीरिक शिक्षा) की छात्रा थी और 7 नवंबर को सरकारी परिधीय अस्पताल, पेरियार नगर में लिगामेंट की सर्जरी हुई थी।

स्वास्थ्य मंत्री श्री सुब्रमण्यम ने कहा कि स्वास्थ्य अनदेखी के लिए सरकारी पेरिफेरल अस्पताल के दो डॉक्टरों को संदिग्ध के दायरे में रखा गया है। उन्होंने पहले ही जटिलताओं की रिपोर्ट भेज दी है जिसकी पुष्टि अनदेखी की जांच के लिए बनायी गयी स्वास्थ्य समिति की रिपोर्ट में भी है।

उन्होंने कहा कि पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है और दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। स्वास्थ्य मंत्री ने मृतक के परिवार को दस लाख रुपये और मृतक के एक भाई को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

बता दें पोस्टमार्टम के बाद प्रिया का शव उसके माता पिता को सौंप दिया। इस बीच प्रिया के माता-पिता, भाई, परिवार के सदस्य, रिश्तेदारों, दोस्तों और सहपाठियों ने अस्पताल के सामने उसका शव ले जा रही एंबुलेंस का रास्ता बंद कर दिया और दो डॉक्टरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।

मामले को संभालने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और आरजीजीजीएच के डीन थेरानीराजन ने प्रदर्शन कर रहे लोगों से बात कर आवश्यक कार्रवाई का वादा किया जिसके बाद प्रिया का पार्थिव शरीर उत्तरी चेन्नई के व्यासरपडी स्थित आवास पर ले जाया गया।

Next Story
Share it