Begin typing your search above and press return to search.

फुटबॉल

FIFA U-17 Women's World Cup: भारतीय टीम का कल अमेरिका से होगा पहला मुकाबला, जानें सारी टीमों का पूरा ब्योरा

मेजबान भारत का पहला मुकाबला संयुक्त राज्य अमेरिका से भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम में होना हैं। प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के सातवें सीजन में चार ग्रुप होंगे, ए, बी, सी और डी।

FIFA U-17 Womens World Cup: भारतीय टीम का कल अमेरिका से होगा पहला मुकाबला, जानें सारी टीमों का पूरा ब्योरा
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-10-12T12:57:18+05:30

फीफा अंडर 17 महिला विश्व कप का कल यानी के 11 अक्टूबर से आगाज होने वाले हैं। भारत में होने वाले इस विश्व कप के लिए सभी 16 प्रतिभागी टीमें पहुंच गई हैं।

ओडिशा और गोवा में टूर्नामेंट के शुरुआती चरण खेले जाएंगे जबकि टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला 30 अक्टूबर को नवी मुंबई में होना तय हुआ हैं।

मेजबान भारत का पहला मुकाबला संयुक्त राज्य अमेरिका से भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम में होना हैं। प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के सातवें सीजन में चार ग्रुप होंगे, ए, बी, सी और डी। भारत के ग्रुप यानी ग्रुप ए में संयुक्त राज्य अमेरिका के अलावा मोरक्को और ब्राजील जैसी टीमें शामिल हैं। पूर्व सीजन के चैंपियन फ्रांस, जापान और स्पेन एक फिर मैदान में उतरेंगे वहीं, जापान समेत कनाडा, जर्मनी और न्यूजीलैंड हार सीजन की तरह इस बार भी हार साल भाग लेने के अपने रिकॉर्ड को कायम रखेंगे।

2017 में हुए फीफा पुरुष विश्व कप के बाद अब महिलाओं की बारी है कि महिला टीम अपनी पूरी मेहनत लगाकर शानदार प्रदर्शन करते हुए भारतीय लोगों की उम्मीदों पर खरी उतरे। हालाकि भारत का सफर इतना आसान नहीं होने वाला हैं। भारत को शुरुआती मुकाबले में यूएसए और फिर ब्राजील, मोरक्को जैसी टीमों से भिड़ना होगा और सफलता हासिल करनी होगी।

ब्राजील जो कि छठी बार इस युवा टूर्नामेंट में हिस्सा लेने जा रहा है, 17 मुकाबले खेल खेल चुका है जिसमें से टीम ने 6 मैच जीते है, 9 हारे है और 2 मैच ड्रा रहे है। इसी के साथ ब्राजील कभी भी अंतिम चार में अपनी जगह नहीं बना पाया हैं।

वहीं भारत के साथ मोरोक्को एक नाव में सवार है, दोनों ही टीमें पहली बार हिस्सा लेने जा रही। जहां दोनों की कोशिश होगी कि वह अपना सर्वश्रेष्ठ दे। इनके अलावा अपने कमियों को सुधार करते हुए यूएसए पांचवी बार टूर्नामेंट में उतरेगी। अमेरिका ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2008 में करा था, जहां टीम उपविजेता के रूप में रही थी।

वहीं ग्रुप बी में जर्मनी की टीम नाइजीरिया, न्यूजीलैंड और चिली से भिड़ेगी। जर्मनी का 2010 में सबसे शानदार प्रदर्शन रहा था जब टीम ने 22 गोल किया थे। जहां टीम की खिलाड़ी मालिनोओवस्की हैट्रिक लगने वाली पहली खिलाड़ी बनी थी।

नाइजीरिया की बात करें तो नाइजीरिया की टीम ने 5 बार टूर्नामेंट में हिस्सा लिया है और 3 बार क्वार्टफाइनल में जगह बनाने में सफल रही हैं। चिली दूसरी बात टूर्नामेंट में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा हैं। जबकि टूर्नामेंट के पहले सीजन की मेजबानी करने वाला न्यूजीलैंड 21 मुकाबले में केवल 5 में विजेता रहा है 14 में हार का सामना किया हैं।

ग्रुप सी की बात करें तो तीसरे ग्रुप में सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक स्पेन के साथ मैक्सिको, कोलंबिया और चीन मौजूद हैं। गौरतलब है कि ग्रुप डी में जापान, कनाडा, फ्रांस और तंजानिया को रखा गया हैं। इस ग्रुप में जापान की टीम सबसे सफल और दमदार टीम हैं। जापान ने हर सीजन में कम से कम क्वार्टफाइनल में जगह बनाई हैं। और तीन फाइनल मुकाबले खेले है जिसमें से एक में विजेता रही हैं।

बता दें इससे पहले सीजन का खिताब फ्रांस ने अपने नाम किया था। भारत की नजर में यह टूर्नामेंट बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाला हैं। भारत जैसे देश में जहां अभी भी क्रिकेट की लोकप्रियता ज्यादा है, फुटबॉल भी अच्छे मुकाम पर पहुंच रहा हैं। ऐसे में महिला अंडर 17 भारतीय टीम से लोगों की काफी उम्मीदें जुड़ी हुई हैं।

Next Story
Share it