Begin typing your search above and press return to search.

फुटबॉल

भारत के मशहूर फुटबॉलर बाबू मनी का निधन, ईस्ट बंगाल और मोहन बागान के लिए जीते थे कई खिताब

वह कोलकाता के तीन बड़े क्लबों में खेले और बड़ी ट्रॉफियां जीतने में सफल रहे

babu mani football
X

बाबू मनी 

By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2022-11-20T16:17:56+05:30

भारत के पूर्व फुटबॉल खिलाड़ी बाबू मनी का शनिवार को निधन हो गया। 1984 में नेहरू कप में खेलकर अपना अंतरराष्ट्रीय डेब्यू करने वाले मनी के निधन पर अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) ने शोक जताया हैं। मनी के करियर की बात करें तो उन्होंने 55 अंतराष्ट्रीय मैच खेले हैं।

मनी 1984 में एएफसी एशियाई कप के लिए क्वालीफाई करने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। मनी ने दो बार एसएएफ खेलो में स्वर्ण पदक जीता था। इसके अलावा उन्होंने 1985 और 1987 में ये पदक अपने नाम किए थे। इतना ही नहीं वह भारत के मशहूर फुटबॉल क्लब ईस्ट बंगाल और मोहन बागान के लिए भी खेले थे। वह कोलकाता के तीन बड़े क्लबों में खेले और बड़ी ट्रॉफियां जीतने में सफल रहे। मोहमादेन स्पोर्टिंग के साथ उन्होंने 1983 में फेडेरेशन कप जीता था। मोहन बागान के साथ सीएफएल, आईएफएल शील्ड, डुरंड कप, रोवर्स कप, फेडेरेशन कप, ईस्ट बंगाल के साथ सीएफएल कप, आईएफए शील्ड, डुरंड कप, रोवर्स कप भी उन्होंने जीते थे।

मशहूर फुटबॉलर के निधन पर शोक जताते हुए अध्यक्ष कल्याण चौबे ने लिखा, "मुझे इस बात को सुनकर बेहद दुख पहुंचा कि अपने समय के बेहतरीन फुटबॉल खिलाड़ियों में शुमार बाबू मनी का निधन हो गया। हम हमेशा उन्हें भारतीय फुटबॉल में उनको दिए गए योगदान के लिए याद रखेंगे. इस मुश्किल समय में मेरी दुआएं उनके परिवार के साथ हैं।"

वहीं एआईएफएफ के जनरल सेकेट्री शाजी प्रभाकरन ने कहा, "बाबू मनी फुटबॉल पिच पर अपने शानदार खेल के लिए जाने जाते थे। वह बेहतरीन फुटबॉलर साबित हुए हैं और उन्होंने कई युवा खिलाड़ियों को प्रेरित किया है। उनके परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।"

Next Story
Share it