Begin typing your search above and press return to search.

ताज़ा ख़बर

देश के पहले मिक्स्ड-जेंडर फुट्सल लीग का ख़िताब हुआ मिज़ो फैलकोंस के नाम

देश के पहले मिक्स्ड-जेंडर फुट्सल लीग का ख़िताब हुआ मिज़ो फैलकोंस के नाम
X
By

P. Divya Rao

Published: 2 Sep 2019 11:15 AM GMT

अपने तरह के अनोखे टूर्नामेंट देश के पहले मिक्सड-जेंडर फ़ुट्सव लीग के फ़ाइनल में मिज़ो फलकोंस ने असम टाइटंस को हरा कर नार्थ ईस्ट फुटसल लीग की ट्रॉफी जीत ली है| भारत में पहली बार मिक्स्ड जेंडर फुटसल लीग का आयोजन 25 अगस्त से शुरू हो कर 31 अगस्त तक चला था| गुवाहाटी में आयोजित यह प्रतियोगिता एनसी बोरदोलोई इंडोर स्टेडियम में खेली गयी थी|

https://twitter.com/nefutsal_league/status/1168052564614471680?s=20

7 दिन तक चले इस टूर्नामेंट में 6 टीमों ने हिस्सा लिया| इस टूर्नामेंट की घोषणा होते ही काफी लोकप्रियता हासिल कर ली थी| मेघालय थंडर्स, असम टाइटंस, मिज़ो फैलकोंस, अपुनबा मणिपुर, नागालैंड सुपर 5 ओर अरुणाचल हाइलैंडर्स के खिलाड़ियों ने पूरी तैयारी से इस टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था|

https://twitter.com/nefutsal_league/status/1168109869250957312?s=20

कइयों के लिए फुटसल एक नया शब्द है, फुटसल ,दरअसल फुटबॉल ही है मगर थोड़े ट्विस्ट के साथ| दोनों टीमों में गोल कीपर को मिला कर पांच खिलाड़ी होते हैं| यह खेल ज्यादातर इंडोर खेला जाता है ओर इसका ग्राउंड व बॉल, दोनों ही छोटे होते हैं| हर चीज़ कॉम्पैक्ट होने की वजह से यह गेम काफी फ़ास्ट है ओर यही बात इस गेम को काफी लोकप्रिय बनाती है|

NEFL की सबसे दिलचस्प बात यह रही की वह एक मिक्स्ड जेंडर खेल था| हर टीम में महिलाएं थी और कम से कम एक महिला का ग्राउंड में होना अनिवार्य था| यह एक बहुत अच्छा तरीका है खेलों में जेंडर न्यूट्रेलिटी दिखाने का|

फाइनल्स में असम और मिजोरम की टीम पहुंची जिसमे मिज़ों फैलकोंस ने एक तरफ़ा मैच में 5 - 0 से असम टाइटंस से हरा दिया| असम की टीम जिनको टूर्नामेंट का सबसे बड़ा उम्मीदवार माना जा रहा था, उसे मिज़ो ने बड़े आराम से हरा दिया| लैरिंगसंगा की अगुवाई में इस टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन किया|

Next Story
Share it