Begin typing your search above and press return to search.

साइकलिंग

महिला साइकलिस्ट दुव्र्यवहार के मामले में मानवाधिकार ने साई, खेल मंत्रालय को दिया नोटिस

आयोग ने मंत्रालय के सचिव और साइ के महानिदेशक से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है

महिला साइकलिस्ट दुव्र्यवहार के मामले में मानवाधिकार ने साई, खेल मंत्रालय को दिया नोटिस
X
By

Amit Rajput

Updated: 2022-06-11T16:36:05+05:30

पिछले दिनों स्लोवेनिया में एक ट्रेनिंग शिविर के दौरान महिला साइकलिस्ट द्वारा मुख्य साइकलिंग कोच पर दुव्र्यवहार के आरोप के बाद अब मामले में मानवाधिकार आयोग भी कूद गया है। मानवाधिकार आयोग ने मामले को लेकर साई और भारतीय खेल मंत्रालय को नोटिस भेजा है। साथ ही आयोग ने मंत्रालय के सचिव और साइ के महानिदेशक से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

मामले को लेकर मानवाधिकार आयोग के अधिकारी ने कहा कि यह जानकर हैरानी हो रही है कि कोच को आदेश देने के बजाय साइ ने शिकायतकर्ता को भारत वापस बुला लिया जिससे वह विदेश में ट्रेनिंग नहीं कर सकी जिसके लिए उसका चयन किया गया था। आयोग ने कहा कि अगर यह मामला सच साबित हुआ तो इससे महिला साइकलिस्ट के मानवाधिकारों का उल्लघंन होगा।

आयोग ने चार हफ्तों के अंदर शिकायतकर्ता के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति तथा जिम्मेदार अधिकारी जिसमें संबंधित कोच भी शामिल है साथ ही कोच के खिलाफ कार्रवाई की जानकारी भी मांगी है। आयोग यह भी जानना चाहता है कि महिला साइकलिस्ट को अधिकारियों द्वारा कोई विशेष 'काउंसलिंग' दी गयी है या नहीं

महिला नाविका ने लगाए थे आरोप

वही महिला साइकलिस्ट के बाद महिला नाविक ने भी अपने कोच पर दुव्र्यवहार के आरोप लगाए थे । मामले को लेकर साइ के सूत्र ने कहा था कि साइ को एक महिला नाविक से शिकायत मिली है कि जर्मनी के दौरे पर एक कोच उसे असहज महसूस करा रहा था. नाविक ने दावा किया कि उसने इस मामले में पहले महासंघ से संपर्क किया था, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिलने के बाद उसने साइ का दरवाजा खटखटाया। साई ने इस गंभीर मामले पर भारतीय याचिंग महासंघ से रिपोर्ट मांगी है। साइ ने एथलीट से भी संपर्क किया है।


Next Story
Share it