शुक्रवार, फ़रवरी 26, 2021
होम ताज़ा ख़बर वर्ल्ड जूनियर साइकलिंग चैंपियनशिप में एसो अल्बेन ने जीता रजत पदक

वर्ल्ड जूनियर साइकलिंग चैंपियनशिप में एसो अल्बेन ने जीता रजत पदक

शनिवार की रात भारत के लिए और ख़ुशख़बरी लेकर आई, जब फ़्रैंकफ़र्ट में वर्ल्ड जूनियर साइकलिंग चैंपियनशिप में भारतीय साइकलिस्ट एसो अल्बेन स्प्रिंट इवेंट फ़ाइनल मुक़ाबले में दूसरे नंबर पर रहे और भारत को रजत पदक दिलाया। एसो अल्बेन से आगे ग्रीस के कोन्सतान्तिनोस लिवानोस रहे जिन्हें इस इवेंट में स्वर्ण पदक हासिल हुआ।

इससे पहले भारत के एसो अल्बेन क्वालिफ़ायर स्टेज में 47 प्रतिभागियों में 7वें स्थान पर रहे थे और प्री क्वार्टरफ़ाइनल में जगह बनाई थी। इसके बाद उन्होंने आसानी से ऑस्ट्रेलिया के जॉन ट्रोवास और सैम गैलेहर को पीछे छोड़ते हुए सेमीफ़ाइनल में प्रवेश किया था, जहां उनके सामने थे जुलिए जेगर।

एसो ने इसी टूर्नामेंट के पुरुष काइरीन इवेंट में भी भारत के लिए कांस्य पदक जीता था, वहां उनसे आगे ग्रीस के कोन्सतान्तिनोस (स्वर्ण) और ऑस्ट्रेलिया के सैम गैलेहर (रजत) थे।

एसो अल्बेन की उपलब्धियां
एसो अल्बेन की उपलब्धियां

साथ ही साथ एसो भारत के उस दल का भी हिस्सा थे जिसने इतिहास रचते हुए इस इवेंट में भारत का पुरुष टीम स्प्रिंट में स्वर्ण पदक जिताया था, उनके साथ एल रोनाल्डो सिंह, रोजित सिंह और जेमेश सिंह भी शामिल थे। ये भारत का किसी भी वर्ल्ड साइकलिंग इवेंट में पहला स्वर्ण पदक था।

एसो मौजूदा समय में काइरीन और स्प्रिंट दोनों ही इवेंट में दुनिया के नंबर-1 जूनियर साइकलिस्ट हैं।

इससे पहले साल 2018 में एसो जूनियर ट्रैक साइकलिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने थे, जब उन्होंने पुरूष काइरीन इवेंट में रजत पदक जीता था।