Begin typing your search above and press return to search.

क्रिकेट

Women's Asia Cup 2022 : भारत बना सातवीं बार चैंपियन

स्मृति मंधाना ने खेली विस्फोटक पारी

Womens Asia Cup 2022 : भारत बना सातवीं बार चैंपियन
X
By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2022-10-15T16:59:47+05:30

भारत ने शनिवार को गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद स्मृति मंधाना (51 नाबाद) के विस्फोटक अर्द्धशतक की बदौलत श्रीलंका को महिला एशिया कप 2022 के फाइनल में आठ विकेट से मात दी। श्रीलंका ने भारत को 20 ओवर में 66 रन का लक्ष्य दिया, जिसे भारत ने 8.3 ओवर में ही हासिल कर लिया। यह महिला एशिया कप का आठवां आयोजन था, जबकि भारत की यह सातवीं जीत है। भारत ने महिला एशिया कप चार बार एकदिवसीय प्रारूप में जीता है जबकि तीन बार टी20 प्रारूप में विजय हासिल की है।

भारत की जीत की नींव रखने के लिये रेणुका सिंह ने तीन विकेट लिये जबकि राजेश्वरी गायकवाड़ और स्नेह राणा ने दो-दो विकेट श्रीलंका को 65 रन पर रोक दिया। भारत को 66 रन के लक्ष्य तक पहुंचाने के प्रयास में शेफाली वर्मा (05) और जेमिमाह रॉड्रिगेज़ (02) आउट हो गईं, लेकिन स्मृति ने कप्तान हरमनप्रीत कौर के साथ तीसरे विकेट के लिये 36 रन की साझेदारी करके भारत को आसान जीत दिलाई। स्मृति ने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए 25 गेंदों पर छह चौकों और तीन छक्कों के साथ नाबाद 51 रन बनाये जबकि हरमनप्रीत ने 14 गेंदों पर एक चौके के साथ नाबाद 11 रन का योगदान दिया।

रेणुका सिंह को 'मैन द मैच' और दीप्ति शर्मा 'प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट' का खिताब दिया गया है।

भारत के आगे श्रीलंका बेबस

श्रीलंकाई कप्तान ने फैसला तो पहले बल्लेबाजी का कर लिया लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने उन्हें इसमें कामयाब नहीं होने दिया। मतलब श्रीलंका के बल्लेबाज भारतीय गेंदबाजों के आगे रन बनाने को तरस गए। श्रीलंका की टीम पहले खेलते हुए 20 ओवर में 9 विकेट पर सिर्फ 65 रन ही बना सकी। श्रीलंका को 65 रन पर रोकने में भारत की ओर से तेज गेंदबाज रेणुका सिंह ठाकुर के अलावा दीप्ति शर्मा, स्नेह राणा और राजेश्वरी गायकवाड़ की अहम भूमिका रही। रेणुका ने सबसे ज्यादा 3 विकेट लिए जबकि राजेश्वरी और राणा को 2-2 विकेट मिले।

स्मृति मंधाना ने ठोकी हाफ सेंचुरी

भारतीय टीम के सामने 20 ओवर में 66 रन बनाने का लक्ष्य था। लेकिन इस स्कोर को उन्होंने 8.1 ओवर में सिर्फ 2 विकेट खोकर ही हासिल कर लिया। भारत की ओर से स्मृति मांधना ने शानदार शतक जड़ा। उन्होंने 25 गेंदों पर 51 रन मारे। खास बात ये रही कि स्मृति मांधना को अपने अर्धशतक के लिए 5 रन चाहिए थे और टीम को जीत के लिए 1 रन की ज़रुरत थी। मांधना ने ये दोनों काम छक्के के साथ पारी समाप्त कर किये।

भारतीय टीम में हुआ एक बदलाव

फाइनल मुकाबले के लिए श्रीलंका टीम में कोई बदलाव नहीं था जबकि भारतीय टीम में राधा यादव की जगह दयालन हेमलता लौटी थी। दोनों टीमें इस प्रकार थी:

श्रीलंका - चमारी अटापट्टू, हर्षिता समाराविक्रमा, हसिनी परेरा, अनुष्का संजीवनी, नीलाक्षी डिसिल्वा, कविशा दिलहारी, मल्शा स्नेहनी, ओशादी रणासिंघे, सुगंधिका कुमारी, इनोका रनावीरा, अचिनी कुलासूर्या

भारत - हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, शेफाली वर्मा, दीप्ति शर्मा, जेमिमाह रॉड्रिग्स, ऋचा घोष, स्नेह राणा, रेणुका ठाकुर, दयालन हेमलता, पूजा वस्त्रकर, राजेश्वरी गायकवाड

Next Story
Share it