Begin typing your search above and press return to search.

क्रिकेट

किंग कोहली ने पत्नी अनुष्का और बेटी वामिका के नाम किया अपना शतक, खराब समय में साथ देने के लिए पत्नी का किया धन्यवाद

शतक लगाने के बाद विराट के चेहरे पर अलग तरह का उत्साह और सुकून देखने को मिला, उन्होंने गले में पहन रखी अपनी सगाई की अंगूठी को चुम्मा

किंग कोहली ने पत्नी अनुष्का और बेटी वामिका के नाम किया अपना शतक, खराब समय में साथ देने के लिए पत्नी का किया धन्यवाद
X
By

Pratyaksha Asthana

Published: 9 Sep 2022 6:57 AM GMT

लंबे समय से खराब फार्म में चल रहे भारत के किंग कोहली ने एशिया कप के दौरान जबरदस्त वापसी करते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना 71वां शतक जड़ा हैं। अफगानिस्तान के खिलाफ गुरुवार को खेले गए मुकाबले में भारतीय टीम के शीर्ष बल्लेबाज विराट कोहली के बल्ले से अंतर्राष्ट्रीय फॉर्मेट का 71वां और अंतरराष्ट्रीय टी 20 का पहला शतक लगा हैं।

प्रशंसकों को लग रहा था कि वह टेस्ट या वनडे क्रिकेट में इस सूखे को खत्म करेंगे लेकिन विराट ने अंतरराष्ट्रीय टी20 में पहली बार तीन अंक के आंकड़े को छूते तीन साल के सूखे को खत्म कर दिया हैं। शतक लगाने के बाद विराट के चेहरे पर अलग तरह का उत्साह और सुकून देखने को मिला, उन्होंने गले में पहन रखी अपनी सगाई की अंगूठी को चुम्मा, और पत्नी अनुष्का का शुक्रिया अदा करा।

विराट ने अपनी इस सफलता का श्रेय पत्नी अनुष्का और बेटी वामिका को दिया हैं।

विराट ने शतक जड़ने के बाद कहा, "पिछले ढाई साल के वक्त ने उन्हें बहुत कुछ सिखाया है। एक महीने बाद मैं 34 साल का हो जाउंगा। ऐसे में एग्रेशन के साथ किए जाने वाले सेलिब्रेशन बीती बात हो गई है। ये सेलिब्रेशन बहुत सारी भावनाओं और चीजों का संयुक्त रूप था। टीम मेरे साथ थी और मददगार थी। बाहर बहुत सारी चीजें चल रही थीं।"

किंग कोहली ने अपने कमबैक का श्रेय पत्नी अनुष्का को देते हुए कहा," मैंने अपनी अंगूठी को चूमा। मैं आज खड़ा हूं तो यह एक शख्स की वजह से संभव हो सका है क्योंकि उन्होंने स्थितियों को मेरे पक्ष में किया वो अनुष्का हैं। मेरा ये शतक उन्हें और बेटी वामिका को समर्पित है।"

उन्होंने कहा,"जब आपके पास कोई ऐसा व्यक्ति होता है जो आपके लिहाज से आपके परिपेक्ष्य में रहते हुए बातचीत कर रहा होता है, जैसा कि अनुष्का ने किया तो स्थितियां आसान हो जाती हैं।"

शानदार वापसी को लेकर कोहली ने कहा," आराम के बाद जब मैं वापस लौटा तो अतिउत्साहित नहीं था। छह सप्ताह के आराम के बाद मैं तरोताजा महसूस कर रहा था। उस दौरान मुझे अहसास हुआ कि मैं शारीरिक और मानसिक रूप से कितना थक गया था। प्रतिस्पर्धा मुझे तरोताजा नहीं होने का वक्त नहीं दे रही थी। लेकिन इस ब्रेक ने मुझे एक बार फिर से खेल का लुत्फ उठाने की अनुमति दी।"

बता दें विराट ने अपनी 61 गेंद में 122 रन की नाबाद पारी के दौरान 12 चौके और 6 छक्के जड़े। पारी का आगाज करने आए विराट ने 53 गेंद में अपना शतक पूरा किया और भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय टी20 में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले बल्लेबाज बनकर मैदान से बाहर गए।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it