रविवार, नवम्बर 29, 2020
होम क्रिकेट हनुमा विहारी और चेतेश्वर पुजारा ने भारतीय पारी को संभाला, विहारी ने...

हनुमा विहारी और चेतेश्वर पुजारा ने भारतीय पारी को संभाला, विहारी ने जड़ा शतक

हनुमा विहारी के शतक और चेतेश्वर पुजारा के 92 रन की मदद से भारत ने न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ अभ्यास मैच के पहले दिन शुरूआती झटकों से उबरकर पारी को संभाला। तीनों विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (एक), पृथ्वी साव (0) और शुभमान गिल (0) तेज और उछालभरी पिच पर नाकाम रहे। कप्तान विराट कोहली ने अभ्यास मैच की बजाय नेट अभ्यास को तरजीह दी। भारतीय टीम सिर्फ 263 रन बना सकी और विहारी (101 रिटायर्ड) तथा पुजारा को छोड़कर कोई बल्लेबाज 20 रन भी नहीं बना सका।

तीनों विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज बुरी तरह नाकाम रहे। पृथ्वी शॉ और गिल अतिरिक्त उछाल का सामना नहीं कर पाये जबकि अग्रवाल तेज गेंदबाजी के शिकार हुए। न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज स्काट कुग्लेन ने 40 रन देकर तीन विकेट लिये और भारत को अच्छी शुरूआत नहीं करने दी। कुग्लेन ने शॉ को शरीर पर आती गेंद डालकर शार्टलेग में कैच आउट कराया। मयंक अग्रवाल ने विकेट के पीछे डेन क्लीवेर को कैच थमाया। वहीं कोहली की गैर मौजूदगी में चौथे नंबर पर आये गिल ने गली में कैच दिया।

उस समय भारत का स्कोर पांच रन पर तीन विकेट था। इससे पहले अनुभवी अजिंक्य रहाणे (18) पहले घंटे में ही अपना विकेट गंवा बैठे। इसके बाद विहारी और पुजारा ने 195 रन की साझेदारी की। कुग्लेन और ब्लेयर टिकनेर का पहला स्पैल निकल जाने के बाद दूसरे और तीसरे सत्र में उन्होंने आराम से बल्लेबाजी की। पुजारा ने स्पिनर ईश सोढी को लांग लेग के ऊपर छक्का लगाया जबकि विहारी ने बायें हाथ के स्पिनर को तीन चौके जड़े। पुजारा आखिरी सत्र में गिब्सन का शिकार हुए जबकि विहारी ने इस बीच अपना शतक पूरा किया। भारत ने आखिरी छह विकेट 30 रन के भीतर गंवाये। ऋषभ पंत एक बार फिर गैर जिम्मेदाराना शाट खेलकर सोढी की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर में कैच देकर पवेलियन लौटे ।