गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम क्रिकेट ICC Womens T20 World Cup: भारतीय टीम का फाइनल तक का सफर

ICC Womens T20 World Cup: भारतीय टीम का फाइनल तक का सफर

भारतीय महिला टीम ने आईसीसी टी20 विश्वकप के फाइनल में अपनी जगह बना ली है। खिताबी मुकाबला भारत और मेजबान ऑस्ट्रेलिया के बीच 8 मार्च को मेलबर्न के ऐतिहासिक मैदान में खेला जायेगा। जहाँ एक तरफ भारतीय टीम पहली बार विश्व कप जीतना चाहेगी दूसरी तरफ गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के सामने अपने ख़िताब की रक्षा करने की चुनौती होगी। ऑस्ट्रेलिया टी20 विश्व कप की सबसे सफल टीम है। कंगारू टीम ने अब तक सर्वाधिक 4 बार विश्व कप अपने नाम किया है।

आइये नजर डालते हैं भारत के फाइनल तक के सफर के बारे में:

हरमनप्रीत कौर की अगुवाई में भारतीय टीम का पहला मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया, जिसमें भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 132 रन बनाये थे। भारत की ओर से दीप्ति शर्मा 49* और शेफाली वर्मा 29 रनों की पारी खेली थी। जवाब में ऑस्ट्रेलिया की ओर से एलिसी हीले के अर्धशतक की बदौतल कंगारु टीम ने अच्छी टक्कर दी लेकिन पूनम यादव की स्पिन गेंदबाजी का मेजबान टीम पर कोई जवाब नहीं दिखा। पूनम ने 19 रन देकर 4 विकेट लिए और भारत ने यह मैच 17 रनों से जीतकर विश्व कप का जीत से आगाज किया।

दूसरे मैच में भारतीय टीम का सामना बांग्लादेश से हुआ। दूसरे मैच में भी युवा सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने 17 गेंदों में 39 रनों की तूफानी पारी खेली और भारत ने पहले खेलते हुए 142 रन बनाये, जिसके जवाब में बांग्लादेश की टीम 124 रन ही बना सकी। इस मैच में पूनम यादव ने 19 रन देकर 3 विकेट लिए और भारत ने यह मैच 18 रनों से जीत लिया।

shafali verma

तीसरे मैच में भारत के सामने न्यूजीलैंड की कड़ी चुनौती थी। शानदार फॉर्म में चल रही शेफाली वर्मा ने तीसरे मैच में भी 34 गेंदों में 46 रनों की पारी खेली लेकिन भारतीय टीम निर्धारित 20 ओवरों में 133 रन ही बना सकी। जवाब में भारतीय गेंदबाजों की कसी हुई गेंदबाजी के कारण कीवी टीम लक्ष्य से 4 रनों से चूक गई। इस जीत के साथ भारत ने विश्वकप के सेमीफाइनल का टिकट हासिल कर लिया।

चौथे मैच में भारतीय टीम का सामना श्रीलंका से हुआ। भारतीय गेंदबाजों ने सधी हुई गेंदबाजी से श्रीलंका को 113 रनों के मामूली स्कोर पर रोक दिया, जिसे भारतीय टीम ने 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया। इस मैच में भी शेफाली वर्मा ने 47 रनों की पारी खेली। शेफाली अर्धशतक बनाने से चूक गई लेकिन उन्होंने टीम को अच्छी शुरुआत दिलवाई। अपने चारों मैच जीतकर भारत ने अपने ग्रुप में शीर्ष स्थान हासिल किया।

भारत और इंग्लैंड के बीच सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में पहला सेमीफाइनल मैच बारिश की वजह से नहीं खेला जा सका जिसके बाद भारतीय टीम ने फाइनल में प्रवेश किया।