Begin typing your search above and press return to search.

जूडो

Commonwealth Games 2022: सुशीला देवी के बाद विजय ने जीता जूडो में पदक, 66 किग्रा भार वर्ग में जीता कांस्य पदक

साइप्रस के पेट्रोस क्रिसटोडूलाइड्स को दी कांस्य पदक मुकाबले में शिकस्त, वही जसलीन और सुचिका को कांस्य पदक मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा।

Commonwealth Games 2022: सुशीला देवी के बाद विजय ने जीता जूडो में पदक,  66 किग्रा भार वर्ग में जीता कांस्य पदक
X
By

Amit Rajput

Updated: 2022-08-02T00:20:35+05:30

सोमवार को राष्ट्रमंडल खेलों में जूडो में भारत के लिए दिन अच्छा रहा। जहां सुशीला देवी के बाद विजय यादव ने देश के लिए दूसरा पदक जीता। विजय यादव ने पुरुषों के 60 किलोग्राम भारवर्ग में साइप्रस के पेट्रोस क्रिसटोडूलाइड्स को कांस्य पदक के मैच में हरा दिया। विजय ने पेट्रोस को 'इपपोन' से हराया। इसी के अब राष्ट्रमंडल खेलों में पदकों की संख्या 8 हो गई है।

विजय से पहले महिला 48 किलोग्राम भारवर्ग में सुशीला देवी ने रजत पदक जीता था। उन्हें फाइनल में हार का सामना करना पड़ा।

वही भारत की सुचिका तारियाल को 57 किलो वर्ग में मारियूस की क्रिस्टीना लेजेनिल से हार का सामना करना पड़ा। सुचिका विरोधी खिलाड़ी के आगे बिल्कुल पस्त नजर आयी। यही कारण रहा कि वें कांस्य पदक मुकाबला नहीं जीत पायी।

वही 66 किलो वर्ग के एक अन्य कांस्य पदक मुकाबले में भारत के जसलीन सिंह सैनी को आस्ट्रेलिया के नाथन कट्ज से हार का सामना करना पड़ा। जसलीन ने मैच के शुरूआत अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन अंत में नाथन के एक शानदार मूव के कारण वें मैच हारकर कांस्य पदक गंवा बैठे।

वही आपको बता दें कि जूडो में तीन तरह से स्कोरिंग होती है। इसे इपपोन, वजा-आरी और यूको कहते हैं। इपपोन तब होता है, जब खिलाड़ी सामने वाले खिलाड़ी को थ्रो करता है और उसे उठने नहीं देता। इपपोन होने पर एक फुल पॉइंट दिया जाता है और खिलाड़ी जीत जाता है। विजय ने इसी तरह से जीत हासिल की। जूडो के खिलाड़ियों को 'जुडोका' कहते हैं।

Next Story
Share it