Begin typing your search above and press return to search.

शतरंज

16 साल के प्रज्ञानानंद ने फिर दिखाया कमाल, तीन महीने के अंदर दूसरी बार दी विश्व चैंपियन कार्लसन को शिकस्त

ऑनलाइन चल रही शतरंज एयरथिंग्स प्रतियोगिता में भारतीय युवा ग्रैंडमास्टर प्रज्ञानानंदा 12वें स्थान पर हैं

Praggnanandhaa Chess
X

आर प्रज्ञानानंदा

By

Amit Rajput

Updated: 2022-05-21T14:56:27+05:30

इन दिनों ऑनलाइन रैपिड एयरथिंग्स शतरंज प्रतियोगिता चल रही है। जहां शुक्रवार को भारत के 16 वर्षीय ग्रांडमास्टर आर प्रज्ञानानंदा ने बड़ा उलटफेर किया। उन्होंने इस प्रतियोगिता के दूसरे दिन विश्व चैंपियन कार्लसन को शिकस्त दे दी। पिछले तीन महीनों में यह दूसरा मौका रहा, जब प्रज्ञानानंदा ने कार्लसन को हार थमा दी। अब तक कार्लसन का इस टूर्नामेंट में प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। वें टूर्नामेंट में पहले दिन 11वें स्थान पर थे हालांकि दूसरे दिन वापसी करके 5वें स्थान पर आ गए।

प्रज्ञानानंदा लीग में 12वें पायदान पर

ऑनलाइन चल रही शतरंज एयरथिंग्स प्रतियोगिता में भारतीय युवा ग्रैंडमास्टर आर प्रज्ञानानंदा 12वें स्थान पर हैं। उनके लिए शुरुआती सात राउंड कुछ खास नहीं रहे थे, लेकिन आठवें राउंड में कार्लसन को हराकर उन्होंने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। आने वाले मैचों में उन्हें लगातार अच्छा प्रदर्शन करना होगा तभी वे बेहतर स्थिति में पहुंच सकेंगे। अब तक उन्होंने आठ मैचों में दो मैच जीते हैं, दो ड्रॉ कराए हैं और चार में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। फिलहाल रूस के इयान पहले नंबर पर बने हुए हैं।

कार्लसन के लिए भी अच्छा नहीं रहा टूर्नामेंट

भारतीय युवा मास्टर प्रज्ञानानंद की तरह विश्व चैंपियन कार्लसन के लिए यह टूर्नामेंट अब तक अच्छा नहीं रहा है। कार्लसन लीग के पहले दिन कोई भी मैच नहीं जीत पाए थे। दूसरे दिन कार्लसन ने शानदार शुरुआत करते हुए लगातार तीन मैच जीते, लेकिन दिन के चौथे मैच में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। लीग के आठवें राउंड में उन्होंने भारतीय ग्रैंडमास्टर के सामने कई गलतियां की और अंत में मैच भी हार गए। लेकिन दूसरे दिन के अन्य मैचों में अच्छा प्रदर्शन करने के कारण लीग के दूसरे दिन कार्लसन 11वें स्थान से उठकर पांचवें स्थान पर आ चुके हैं।

Next Story
Share it