शनिवार, दिसम्बर 5, 2020
होम ताज़ा ख़बर राष्ट्रीय शतरंज का खिताब अब भी भक्ति कुलकर्णी के नाम

राष्ट्रीय शतरंज का खिताब अब भी भक्ति कुलकर्णी के नाम

एयर इंडिया की डिफेंडिंग चैंपियन भक्ति कुलकर्णी ने शनिवार को समाप्त हुई 46वीं राष्ट्रीय महिला शतरंज चैंपियनशिप में, 11 राउंड्स में 10 पॉइंट्स हासिल करते हुए शानदार प्रदर्शन किया और इस बार भी खिताब अपने नाम किया।

फाइनल राउंड में अंर्तराष्ट्रीय महिला मास्टर, आंध्र प्रदेश की प्रत्युषा बोडा के साथ उनका ड्रॉ हुआ।

आंध्रा की इस खिलाड़ी के पास खेल में पहले मौके आए लेकिन उन्होंने उन्हें जाने दिया। भक्ति भी अपने पास आए अवसर का लाभ उठा पाने में असफल रहीं और 62 मूव्स के बाद उन्हें समझौता करना पड़ा।

खिताब जीतकर महिला ग्रैंड मास्टर पुरस्कार राशि के रूप में चार लाख अपने साथ घर लेकर गईं।

वन्तिका अग्रवाल,भक्ति कुलकर्णी, दिव्या देशमुख

फाइनल राउंड में महाराष्ट्र के मृदुल देहनकर के साथ पॉइंट्स स्प्लिट करने के बाद, किटी में साढ़े आठ पॉइंट्स के साथ दिल्ली की वन्तिका अग्रवाल पहली रनर अप रहीं।

महाराष्ट्र की प्रतिभाशाली युवा दिव्या देशमुख जो तीसरी सीड थीं, तमिलनाडु के पीवी नन्दीधा को मात देने के बाद, वन्तिका को पॉइंट्स में टक्कर दे सकीं लेकिन टाई ब्रेक स्कोर पर उन्हें द्वितीय रनर अप के स्थान के साथ सन्तुष्ट होना पड़ा।

वन्तिका को पुरस्कार राशि के रूप में 3 लाख प्राप्त हुए, वहीं दिव्या को 2 लाख रुपए की इनामी राशि मिली।