Begin typing your search above and press return to search.

मुक्केबाजी

Asian Boxing Champinships: लवलीना, थापा करेंगे भारत के स्वर्ण जीतने के अभियान का नेतृत्व

सेमीफाइनल में मुकाबला करने के लिए सात भारतीय महिलाएं और पांच पुरुष मुक्केबाज तैयार, सभी बुधवार और गुरुवार को रिंग में उतरेंगे

Shiva Thapa
X

शिवा थापा

By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2022-11-08T19:56:28+05:30

जॉर्डन की राजधानी अम्मान में जारी 2022 एसएसबीसी एशियाई इलीट बॉक्सिंग चैंपियनशिप के सेमीफाइनल मुकाबलों कुल 12 भारतीय अपनी चुनौती पेश करते हुए अपने देश को स्वर्ण दिलाने का लक्ष्य रखेंगे।

महिला वर्ग के सेमीफाइनल मुकाबले बुधवार को होंगे जबकि पुरुष वर्ग के अंतिम-4 दौर के मुकाबले गुरुवार को होंगे। 2020 टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली लवलीना बोरगोहेन (75 किग्रा), जो पहली बार किसी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में इस भार वर्ग में लड़ रही हैं, सेमीफाइनल मुकाबले में कोरिया गणराज्य की सेओंग सुयोन से भिड़ेंगी।

लवलीना के साथ-साथ, 2022 में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली परवीन (63 किग्रा) मंगोलिया की उरानबिलेग शिनसेटसेग से भिड़ेंगी, जबकि प्रतियोगिता में पदार्पण कर रही प्रीति (57 किग्रा) 2020 टोक्यो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता जापान की इरी सेना के खिलाफ अपनी चुनौती पेश करेंगी। सेमीफाइनल में खेलने वाली अन्य चार महिलाएं अल्फिया पठान (81+ किग्रा), स्वीटी (81 किग्रा), अंकुशिता बोरो (75 किग्रा) और मीनाक्षी (52 किग्रा) हैं।

पुरुषों की कटेगरी में, शिवा थापा (63.5 किग्रा) भी चुनौती पेश करेंगे। थापा इस प्रतियोगिता में अपना 6वां पदक सुनिश्चित करने के बाद सबसे सफल एशियाई चैंपियन बन गए हैं। थापा का सामना दो बार के एशियाई चैंपियन ताजिकिस्तान के बखोदुर उसमोनोव से होगा। इसी तरह, दो बार के राष्ट्रमंडल खेल कांस्य पदक विजेता मोहम्मद हुसामुद्दीन (57 किग्रा) का सामना 2021 विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता कजाकिस्तान के सेरिक टेमिरजानोव से होगा।

सेमीफाइनल में हिस्सा लेने वाले अन्य तीन पुरुष मुक्केबाज-नरेंद्र (92+ किग्रा), सुमित (75 किग्रा) और गोविंद कुमार साहनी (48 किग्रा) हैं। नरेंद्र (92+ किग्रा) ने सोमवार देर रात 5:0 के अंतर की एकतरफा जीत के लिए ईरान के इमान रमजानपुरदेलावर को हराया और सेमीफाइनल में जगह पक्की की।

इस प्रतिष्ठित इवेंट के मौजूदा संस्करण में भारत ने अब तक सबसे अधिक 12 पदक अपने नाम कर लिए हैं। इस टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे देशों में सिर्फ दो ने भारत से अधिक पदक अपने नाम किए हैं। इस साल देश की महिला मुक्केबाजों ने सात पदक हासिल किए हैं। कुल पदकों के मामले में भारतीय महिलाएं दूसरे स्थान पर हैं, जबकि पुरुषों ने कुल पांच पदक जीते हैं। भारत, जॉर्डन और मंगोलिया के साथ संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर है।

इस प्रतियोगिता में 27 देशों के 267 शीर्ष मुक्केबाज भाग ले रहे हैं। महिला वर्ग का फाइनल शुक्रवार को होगा जबकि पुरुष वर्ग का खिताबी मुकाबला शनिवार को खेला जाएगा।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it