Begin typing your search above and press return to search.

मुक्केबाजी

अब मुक्केबाजों को मिलेगी ऑनलाइन कोचिंग, महासंघ ने लिया फैसला

अब मुक्केबाजों को मिलेगी ऑनलाइन कोचिंग, महासंघ ने लिया फैसला
X
By

Press Trust of India

Updated: 2022-04-17T01:06:45+05:30

कोरोना वायरस के कारण देश भर में लगे लॉकडाउन से ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके भारतीय मुक्केबाजों की ट्रेनिंग बाधित हुई जिससे अब उन्हें सोमवार से कोचों द्वारा आनलाइन प्रशिक्षण दिया जायेगा। इस ट्रेनिंग में उनके मानसिक स्वास्थ्य के अलावा पोषण संबंधित चीजों पर सलाह दी जायेगी।

नौ भारतीय मुक्केबाज - एम सी मेरीकोम, सिमरनजीत कौर, लवलीना बोरगोहेन, पूजा रानी, अमित पंघाल, मनीष कौशिक, विकास कृष्ण, आशीष कुमार और सतीश कुमार ने टोक्यो ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर लिया जिन्हें वैश्विक महामारी के कारण 2021 तक स्थगित कर दिया गया। रविवार को इन मुक्केबाजों के साथ कांफ्रेस कॉल में भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) के अध्यक्ष अजय सिंह ने उनकी तैयारियों का जायजा लिया। सिंह ने मुक्केबाजों से कहा, ''यह हम सभी के लिये चुनौतीपूर्ण समय है और हम सभी को अपना ध्यान रखना होगा तो फिट रहिये, कोचों द्वारा दिये गये अभ्यास को जारी रखिये और अपना वजन बरकरार रखने की कोशिश कीजिये। '' उन्होंने कहा, ''हम इस संकट से जल्द ही निकल जायेंगे और रिंग में वापसी करेंगे लेकिन खुद को प्रेरित रखना भी जरूरी है।'' बीएफआई के कार्यकारी निदेशक आर के साचेती ने पीटीआई से कहा कि डाइट के अलावा मानसिक स्वास्थ्य अहम हैं।

उन्होंने कहा, ''वे अभी अपने घर है, जहां डाइट प्रभावित हो सकती है। इसलिये इन आनलाइन क्लास का मकसद यह सुनिश्चित करना है कि वे अपनी पोषण संबंधित जरूरतों से वाकिफ रहें।'' साचेती ने कहा कि भारतीय मुक्केबाजी के हाई परफोरमेंस निदेशक सांटियागो निएवा 14 दिन तक अलग रहने के बाद अब पटियाला में हैं और वे पुरूष टीम के लिये क्लास आयोजित करेंगे। महिला मुक्केबाजों के लिये हाई परफोरमेंस निदेशक रफाएल बर्गामास्को क्लास लेंगे।

यह भी पढ़ें: कोविड 19 से भारतीय मुक्केबाजों की ओलंपिक तैयारी बाधित नहीं होगी : नीवा

Next Story
Share it