गुरूवार, नवम्बर 26, 2020
होम ताज़ा ख़बर मुक्केबाज अमित पंघाल के पर्सनल कोच की मांग को बीएफआई ने ठुकराया

मुक्केबाज अमित पंघाल के पर्सनल कोच की मांग को बीएफआई ने ठुकराया

टोक्यो ओलंपिक शुरू होने में अब लगभग छह महीने का समय बचा है। सभी खिलाड़ी इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता को ध्यान में रखते हुए अपनी-अपनी तैयारियों में व्यस्त हैं। इस बीच भारतीय मुक्केबाज अमित पंघाल ने ओलंपिक तक पर्सनल कोच और फीजियो की मांग की थी जिसे भारतीय मुक्केबाजी संघ (बीएफआई) ने सिरे से नकार दिया है।

हाल ही के प्रदर्शन को देखते हुए अमित पंघाल से भारत को ओलंपिक पदक की उम्मीद है। वर्तमान में कर्नाटक के बेल्लारी में ओलंपिक के लिए मुक्केबाजों के अभ्यास हो रहे हैं, जिसके लिए अमित ने अपने बचपन के कोच अनिल कुमार धनकड़ और दिग्गज फीजियो डॉ रोहित कश्यप की मांग की थी। टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी खबर के अनुसार उनकी इस मांग को मुक्केबाजी संघ ने ठुकरा दिया है।

यह भी पढ़ें: टोक्यो ओलंपिक में मुक्केबाज लायेंगे कम से कम दो गोल्ड -अमित पंघाल

इस बारे में मुक्केबाजी महासंघ ने तर्क दिया कि वर्तमान कोचिंग सेट में हाई परफार्मिंग डायरेक्टर सैंटियागो नीवा, कोच सी ए कुट्टप्पा और धर्मेंद्र यादव शामिल हैं जो कि टोक्यो ओलंपिक के लिए सबसे उपयुक्त हैं। बीएफआई का मानना है कि टोक्यो के लिए सिर्फ छह महीने बचे हैं, सीनियर कोचिंग सेट-अप में सीधे किसी को शामिल करने से चीजें उलझ सकती हैं। इसके अलावा, सैंटियागो एंड कंपनी एक शानदार काम कर रही है। अमित ने गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीता था, जो कि इसी कोचिंग टीम के मार्गदर्शन में आये थे।

विश्व चैम्पियनशिप में रजत जीत चुके अमित का सारा ध्यान एशियन ओलंपिक क्वालीफायर पर लगा हुआ है, जिसका आयोजन इस साल फरवरी में चीन के वुहान शहर में होना है। यह टूर्नामेंट ओलंपिक क्वालीफायर टूर्नामेंट है और पंघाल का लक्ष्य इसमें ओलंपिक कोटा हासिल करना है।

यह भी पढ़ें: नई स्कोरिंग प्रणाली से भारतीय मुक्केबाजों को होगा फायदा : अमित पंघाल