Begin typing your search above and press return to search.

मुक्केबाजी

ओलंपिक क्वालीफायर्स के लिए मुक्केबाज अमित पंघाल को मिली शीर्ष वरीयता

ओलंपिक क्वालीफायर्स के लिए मुक्केबाज अमित पंघाल को मिली शीर्ष वरीयता
X
By

Ankit Pasbola

Updated: 2022-05-01T21:43:09+05:30

विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता भारतीय मुक्केबाज अमित पंघाल को आईओसी की बॉक्सिंग टास्क फोर्स ने शीर्ष स्थान दिया है। वह दस सालों के बाद क्वालीफायर्स में शीर्ष वरीयता प्राप्त करने वाले दूसरे भारतीय मुक्केबाज बने हैं। उनसे पहले ओलंपिक कांस्य पदक विजेता विजेंदर सिंह शीर्ष मुक्केबाज बने थे, जब उन्होंने विश्व चैंपियनशिप में 75 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक हासिल किया था। गौरतलब है कि ओलंपिक क्वालीफायर्स मुकाबले मार्च में जॉर्डन में खेले जाने हैं।

अमित पंघाल ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, "यह एक शानदार एहसास है और जाहिर तौर पर मेरे लिए बहुत मायने रखता है क्योंकि इससे मुझे क्वालीफायर मुकाबलों में मदद मिलेगी। विश्व नंबर 1 होने के नाते आपको आत्मविश्वास भी बढ़ता है।"

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक कमेटी टास्क फोर्स द्वारा सूचि जारी की जिसमें अमित पंघाल 420 अंको के साथ शीर्ष पर हैं। उन्होंने उम्मीद जताई है कि वह पहले क्वालीफायर में ही ओलंपिक में स्थान हासिल कर सकते हैं। उन्होंने कहा, "मुझे पहले क्वालीफायर में ही ओलंपिक में स्थान हासिल करने की उम्मीद है।"

अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ के निलंबन के बाद, आईओसी की बॉक्सिंग टास्क फोर्स टोक्यो में क्वालीफायर और मुख्य कार्यक्रम के संचालन के लिए जिम्मेदार है। अमित पंघाल पिछले कुछ सालों से निरंतर अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने साल 2018 में राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता। इसके बाद उन्होंने विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता।

यह भी पढ़े: टोक्यो ओलंपिक में मुक्केबाज लायेंगे कम से कम दो गोल्ड- अमित पंघाल

दूसरी तरफ महिलाओं में छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम को 51 किग्रा वर्ग में छठी वरीयता मिली है। इसी भारवर्ग में निखत जरीन को 22वीं वरीयता दी गई है। वहीं 22 वर्षीय लवलीना बोरो को 69 किग्रा वर्ग में तीसरी वरीयता दी गई है। इनके अलावा एशियाई रजत पदक विजेता कविंदर सिंह बिष्ट को सातवीं वरीयता दी गई है।

नवीनतम वीडियो
Next Story
Share it