Begin typing your search above and press return to search.

बैडमिंटन

इंडिया ओपन 2023 में हिस्सा लेने वाली टॉप-10 महिला खिलाड़ी, जिन पर रहेगी नजर

दुनिया भर से प्रतिष्ठित नाम इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट की शोभा बढ़ाएंगे

PV Sindhu Badminton
X

पीवी  सिंधु और अकाने यामागुची

https://hindi.thebridge.in/badminton/top-10-women-stars-watch-out-india-open-2023-38774

By

Bikash Chand Katoch

Updated: 2023-01-15T16:54:11+05:30

योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2023 को पहली बार सुपर 750 दर्जा मिला है और अब इसका आयोजन नई दिल्ली में इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में 17 जनवरी से 22 जनवरी तक होने जा रहा है। इस दौरान फैंस को विश्व स्तरीय बैडमिंटन देखने को मिलेगा।

दुनिया भर से प्रतिष्ठित नाम इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट की शोभा बढ़ाएंगे। अपग्रेड होने के बाद इंडिया ओपन बड़ा और बेहतर हो गया है और इसी के साथ यह देश के खेल प्रेमियों के लिए अपनी तरह का अनूठा अनुभव साबित होगा। भारतीय बैडमिंटन संघ द्वारा आयोजित भारत के इस सबसे बड़े बैडमिंटन टूर्नामेंट में वैसे तो कई महिला स्टार हिस्सा ले रही हैं लेकिन मुख्य रूप से नजर शीर्ष-10 पर रहेगी, जिनका जिक्र नीचे किया जा रहा है।

1) अकाने यामागुची (जापान)

वर्ल्ड नंबर-1 अकाने यामागुची अपना पहला योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन खिताब जीतने की दौड़ में सबसे आगे हैं। 2021 और 2022 में विश्व चैंपियनशिप में लगातार दो स्वर्ण पदक अपने नाम करने के साथ, वह यह प्रतिष्ठित टूर्नामेंट जीतने वाली दो जापानी महिला एकल खिलाड़ियों में से एक हैं। 25 वर्षीय अकाने काने की तेज, मेहनती और धैर्यपूर्ण प्लेइंग स्टाइल ने उन्हें पिछले साल ऑल इंग्लैंड ओपन और जापान ओपन खिताब के साथ-साथ एशियाई चैंपियनशिप में रजत पदक दिलाया था। उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए मलेशिया ओपन के फाइनल में जगह बनाकर 2023 की धमाकेदार शुरुआत की है और वह भारत में भी उसी फॉर्म को जारी रखने की इच्छुक होंगी।

2) चेन युफेई (चीन)

टोक्यो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता- चेन युफेई तीन साल से अधिक समय के बाद अपना पहला सुपर 750 खिताब जीतकर नए साल की बेहतरीन शुरुआत करने की उम्मीद के साथ भारत पहुंचीं हैं। वर्ल्ड नंबर-2 के लिए 2022 निराशाजनक रहा। उन्हें सात बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स में हार मिली। हालांकि युफेई ने इंडोनेशिया मास्टर्स में जीत हासिल की, लेकिन वह दो-दो सुपर 300, सुपर 500 और सुपर 750 इवेंट्स में हार गई। पिछले साल उन्हें जापान की अकाने यामागुची के खिलाफ अपने पहले विश्व चैंपियनशिप फाइनल में हार मिली थी। हालांकि, वह उस हार का बदला लेने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं और योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन का पहला खिताब जीतने के लिए मानसिक और शारीरिक तौर पर तैयार हैं।

3) अन से-यंग (दक्षिण कोरिया)

दक्षिण कोरिया की युवा शटलर अन से-यंग बीडब्ल्यूएफ सर्किट पर शानदार प्रदर्शन कर रही हैं। सिर्फ 20 साल की उम्र में उनके पास पहले से ही 11 बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर खिताब हैं और वह पांच में उपविजेता भी रही हैं। दुनिया में चौथे स्थान पर काबिज से-यंग ने पिछले साल विश्व चैंपियनशिप और एशियाई चैंपियनशिप में भी कांस्य पदक हासिल किया था और वह 2022 उबेर कप में जीत हासिल करने वाली राष्ट्रीय टीम का भी हिस्सा थीं। बेहतरीन प्रतिभा उन्हें योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन 2023 में भाग लेने वाली सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ियों में से एक बनाती है।

4) पीवी सिंधु (भारत)

भारत की सबसे सफल खेल हस्तियों में से एक के रूप में मानी जाने वाली- पीवी सिंधु 2017 के अपने प्रदर्शन को दोहराने और अपने करियर में दूसरी बार योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन जीतने की इच्छुक होंगी। महिला एकल में पांच बार की विश्व चैंपियनशिप पदक विजेता 27 वर्षीय सिंधु टूर्नामेंट में भारत की पहली और एकमात्र चैंपियन हैं। सिंधु ने 2019 संस्करण के फाइनल में नोजोमी ओकुहारा को हराया था। इसके अलावा उनके नाम दो ओलंपिक पदक भी हैं। मौजूदा वर्ल्ड नंबर-7 ने पिछले साल के कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता था और इस इवेंट में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक का पूरा सेट जीतने वाली केवल दूसरी महिला एकल खिलाड़ी बन गईं। ऐसे में जब यह स्टार शटलर दुनिया की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के खिलाफ अपने सर्वोच्च स्तर के गेमप्ले का प्रदर्शन करने के लिए कोर्ट में उतरेगी तो घरेलू फैंस की भीड़ उमड़ पड़ेगी।

5) रातचानोक इंतानोन (थाईलैंड)

2013 की विश्व चैंपियन ने अपने करियर में तीन बार योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन जीता है। वह 2013, 2016 और 2019 संस्करणों की चैंपियन रही हैं। वर्तमान में वह विश्व रैंकिंग में छठे स्थान पर हैं। वह पहली थाई एकल खिलाड़ी है जो न केवल विश्व में नंबर-1 स्थान पर रही हैं बल्कि एशियाई चैंपियनशिप भी जीत चुकी हैं। रातचानोक ने फाइनल में चेन युफेई को हराकर 2022 मलेशिया ओपन जीता जो उनकी पहली और एकमात्र सुपर 750 खिताबी जीत थी। 27 वर्षीय इंतानोन भारत के सबसे बड़े बैडमिंटन टूर्नामेंट में अपनी शानदार फॉर्म जारी रखते हुए एक और खिताब अपने नाम करने के लिए बेताब होंगी।

6) कैरोलिना मारिन (स्पेन)

महिला एकल वर्ग सबसे बड़े नामों में से एक और सबसे अधिक खिताब जीतने वाली स्पेन की कैरोलिना मारिन के 2023 योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन में तूफान लाने की उम्मीद है। तीन बार की विश्व चैंपियन मारिन ने 2016 का ओलंपिक स्वर्ण पदक भी जीता था और लगातार 66 हफ्तों तक विश्व नंबर-1 रैंक पर कायम रहीं थीं। हालाँकि, लगभग हर बड़े टूर्नामेंट को जीतने के बावजूद इस स्पेनिश खिलाड़ी को भारत के इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में खिताबी जीत नहीं मिली है। 2021 स्विस ओपन के बाद से मारिन अपना पहला बीडब्ल्यू वर्ल्ड टूर खिताब जीतने के लिए अपने बेहतरीन खेल का मुजायरा पेश करेंगी।

7) हे बिंग जियाओ (चीन)

2014 यूथ ओलंपिक चैंपियन हे बिंग जियाओ, चेन युफेई के बाद 2023 योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन में महिला एकल वर्ग में नजर रखी जाने वाली एक और चीनी खिलाड़ी होंगी। वर्ल्ड नंब- 5 बिंग जियाओ ने 2022 का अंत डेनमार्क ओपन और फ्रेंच ओपन का खिताब जीतकर किया और फिर साल के अंत में वर्ल्ड टूर फाइनल्स के सेमीफाइनल में पहुंचीं। 25 वर्षीय जियाओ 2023 में हालांकि अपनी इस गति को आगे नहीं बढ़ा सकीं और वर्ष के पहले टूर्नामेंट-मलेशिया ओपन में अंतिम-32 दौर हार गईं। हालांकि, दो बार की विश्व चैंपियनशिप पदक विजेता बिंग जियाओ योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन में मुकाबला करते समय अपना खोया हुआ फॉर्म हासिल करने के लिए उत्सुक होंगी।

8) चेन क्विंग चेन-जिया यी फैन (चीन)

यह विश्व नंबर-1 चीनी जोड़ी यकीनन महिला युगल में सबसे बड़ा खतरा होगी क्योंकि वे दिसंबर में वर्ल्ड टूर फाइनल्स जीतने के बाद 2023 योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन में आ रही हैं। बेहतरीन फॉर्म में चल रही इस जोड़ी ने मलेशिया ओपन जीतकर सनसनीखेज अंदाज में साल की शुरुआत की है। टोक्यो ओलंपिक में रजत पदक और विश्व चैंपियनशिप (2017, 2021 और 2022) में तीन स्वर्ण पदक जीतने के अलावा किंग चेन और यी फैन ने 2022 में एक साथ सात खिताब जीते हैं।

9) नामी मात्सुयामा-चिहारू शिदा (जापान)

नामी मात्सुयामा और चिहारू शिदा की घातक जोड़ी उनके युवा दिनों से ही प्रभावशाली रहा है। जूनियर सर्किट में, इन दोनों ने 2015 में विश्व चैंपियनशिप के साथ-साथ एशियाई चैंपियनशिप में एक साथ कांस्य पदक जीते। जापानी जोड़ी ने पिछले साल इंडोनेशिया ओपन, थाईलैंड ओपन और ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप जीती। आगामी योनेक्स-सनराइज इंडिया ओपन मात्सुयामा और शिदा का 2023 का पहला टूर्नामेंट होगा। ऐसे में विश्व नंबर 2 जोड़ी नए साल की प्रभावशाली शुरुआत करने का लक्ष्य रखेगी।

10) पियरली टैन-थिनाह मुरलीधरन (मलेशिया)

राष्ट्रमंडल खेलों की मौजूदा चैंपियन पियरली टैन और थिनाह मुरलीधरन की जोड़ी महिला युगल वर्ग में विश्व रैंकिंग में छठे स्थान पर हैं। इस मलेशियाई जोड़ी ने पिछले साल फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था और तीन टूर्नामेंट में सेमीफाइनल में भी जगह बनाई थी। मलेशिया ओपन में पहले दौर से बाहर होने के बाद यह जोड़ी इस सप्ताह नई दिल्ली पहुंचने पर जीत की राह पर लौटते हुए नए साल की विजयी शुरुआत करना चाहेगी।

Next Story
Share it