Begin typing your search above and press return to search.

बैडमिंटन

थाॅमस कप में भारत ने रचा इतिहास, 43 साल के बाद सेमीफाइनल में बनाई जगह

जहां चार मुकाबलों तक मैच 2-2 की बराबरी पर था। अंतिम मुकाबले में एच एस प्रणय ने जुन हऊ को हराकर भारतीय टीम को सेमीफाइनल में पहुंचाया

India Thomas Cup
X

थाॅमस कप में भारतीय पुरुष टीम

By

Amit Rajput

Updated: 2022-05-12T23:28:17+05:30

भारतीय पुरुष टीम ने गुरुवार को थाॅमस कप में इतिहास रचा दिया। जहां भारतीय पुरुष टीम ने क्वार्टर फाइनल में मलेशिया को 3-2 से हराकर 43 साल बाद सेमीफाइनल में जगह बनाई। इसी के साथ थाॅमस कप के नए फॉर्मेट में भारत ने पहली बार अपना पदक पक्का किया। दोनों के बीच क्वार्टर फाइनल मैच काफी रोमांचक रहा। जहां चार मुकाबलों तक मैच 2-2 की बराबरी पर था। अंतिम मुकाबले में भारतीय टीम के एच एस प्रणय ने मलेशिया के जुन हऊ को 21-13, 21-8 से हराकर भारतीय टीम को सेमीफाइनल में पहुंचाया।

भारत की शुरुआत रही खराब

क्वार्टर फाइनल में भारत की शुरुआत अच्छी नहीं। जहां पहले मैच में भारत की ओर लक्ष्य सेन मैदान में उतरे। जिन्होंने पहले सेट में तो मलेशियाई खिलाड़ी ली झी जिए को टक्कर दी लेकिन फिर भी वें पहला सेट 21-23 से हार गए। इसके बाद दूसरे सेट में मलेशियाई खिलाड़ी ने भारतीय खिलाडी को कोई मौका नहीं दिया और दूसरा सेट 9-21 से अपने नाम कर लिया और क्वार्टर फाइनल में अपने देश को 1-0 की बढ़त दिलाई।

युगल जोड़ी ने कराई वापसी

इसके बाद क्वार्टर फाइनल के दूसरे मैच में भारतीय जोड़ी सात्विक और चिराग ने टीम की वापसी कराई और मलेशिया की जोड़ी गोह और ईज्जुदीन की जोड़ी को 21-19, 21-15 से हराकर मैच में स्कोर को 1-1 से बराबर कर दिया। इसके बाद के श्रीकांत ने भारत की इस बढ़त को डबल कर दिया और एकल मुकाबले में ताईज यंग को 21-11,21-17 से हराकर मैच का स्कोर 2-1 कर दिया।

प्रणय ने अहम मुकाबले में दर्ज की जीत

इन दो हार के बाद मलेशिया ने एक बार फिर वापसी की मलेशिया की जोड़ी एरोन और टियो की जोड़ी ने कृष्णा और विष्णु की भारतीय जोड़ी को सीधे सेटों में 21-19 और 21-17 से हराकर मैच का स्कोर 2-2 कर दिया। क्वार्टर फाइनल के निर्णयक मुकाबल में एच एस प्रणय का सामना जुन हऊ से हुआ। जहां प्रणय ने एक ऐतिहासिक जीत दर्ज करते हुए मलेशियाई खिलाड़ी को 21-13, 21-8 से हरा दिया। और इस जीत के साथ 43 साल में पहली बार सेमीफाइनल में जगह पक्की की।

Next Story
Share it