Begin typing your search above and press return to search.

बैडमिंटन

स्टार शटलर पीवी सिंधु ने चीन की वांग को हराकर सिंगापुर ओपन का खिताब किया अपने नाम

शटलर सिंधु ने दुनिया की 8वें नंबर की खिलाड़ी जी यी वांग को 21-9, 11-21, 21-15 से हराकर धमाकेदार जीत हासिल की

स्टार शटलर पीवी सिंधु ने चीन की वांग को हराकर सिंगापुर ओपन का खिताब किया अपने नाम
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2022-07-17T13:09:14+05:30

भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु ने एक बार फिर देश का सीना गर्व से चौड़ा कर दिया। सिंधु ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सिंगापुर ओपन सुपर 500 सीरीज का खिताब अपने नाम कर लिया ।

रविवार को खेले गए रोमांचक मुकाबले में शटलर सिंधु ने दुनिया की 8वें नंबर की खिलाड़ी जी यी वांग को 21-9, 11-21, 21-15 से हराकर धमाकेदार जीत हासिल की।

दो बार की ओलिंपिक पदक विजेता सिंधु ने शुरुआत से ही चीनी शटलर पर दबाब बनाकर रखा, और महज 12 मिनट में ही पहले गेम को 21-9 से जीत लिया। हालांकि इसके बाद वांग ने वापसी की पूरी कोशिश की, मगर अंतर अधिक होने के कारण सिंधु पर चीनी खिलाड़ी दबाव नहीं बना पाई।

दूसरे गेम में पीछे चल रही चीनी खिलाड़ी ने जोरदार वापसी की और पूर्व वर्ल्ड चैंपियन को हराकर मुकाबला रोमांचक बना दिया।

सिंधु दूसरे गेम में काफी पिछड़ चुकी थीं, जिसे वो भर नहीं पाई और 11- 21 से दूसरा गेम हार गईं।

तीसरे और निर्णायक गेम में दोनो खिलाड़ियों के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। दूसरा गेम हारने के बाद सिंधु ने एक बार फिर दमदार आगाज किया और शुरू से बढ़त बनाई। सिंधू ने 11-6 की बढ़त बना ली थी लेकिन वांग ने वापसी करते हुए स्कोर 12-11 तक ला दिया। सिंधु भी हार मानने को तैयार नहीं थीं और उन्होंने शानदार स्मैश लगाते हुए चार पॉइंट की बढ़त बना ली और स्कोर 15-11 कर दिया। अंत में सिंधू ने चीनी शटलर पर पकड़ और मजबूत की और 21-15 से यह सेट जीतकर पहली बार सिंगापुर ओपन का खिताब अपने नाम कर लिया।

इससे पहले उन्होंने सेमीफाइनल में जापान की सीना कावाकामी पर 32 मिनट में 21-15, 21-7 से जीत दर्ज की थी।

बता दें साइना नेहवाल और एचएस प्रणय को सेमीफाइनल से बाहर हो गए थे। 32 साल की साइना नेहवाल को जापान की आया अहोरी ने 21-13, 15-21, 22-20 से हराया। साइना नेहवाल निर्णायक गेम के आखिरी 2 प्वाइंट गंवाकर बाहर हुईं। वहीं, एचएस प्रणय जापान के ही कोदाई नाराओका से 12-21, 21-14, 21-18 से हारकर बाहर होना पड़ा।

Next Story
Share it