Begin typing your search above and press return to search.

बैडमिंटन

इंडिया ओपन में भारतीय खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन पर पुलेला गोपीचंद ने कही यह बात

भारत को इंडिया ओपन टूर्नामेंट के किसी भी वर्ग में एक भी पदक हासिल नहीं हुआ।

इंडिया ओपन में भारतीय खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन पर पुलेला गोपीचंद ने कही यह बात
X
By

Pratyaksha Asthana

Updated: 2023-01-22T15:25:24+05:30

इंडिया सुपर ओपन 750 टूर्नामेंट 2023 में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों ने निराशाजनक प्रदर्शन दिखाया। और यही वजह है कि भारत को इस टूर्नामेंट के किसी भी वर्ग में एक भी पदक हासिल नहीं हुआ। पीवी सिंधु से लेकर लक्ष्य सेन और साइना नेहवाल जैसे स्टार खिलाड़ी भी सफलता नहीं पा पाए।

एक ओर जहां पिछले साल पुरुष एकल का खिताब अपने नाम करने वाले युवा खिलाड़ी लक्ष्य सेन दूसरे राउंड में हारकर बाहर हो गए, वहीं दूसरी तरफ पहले ही राउंड में निराशा मिली। साइना नेहवाल भी कोई कमाल नहीं दिखा पाई।

भारतीय खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन को लेकर पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी और भारतीय राष्ट्रीय बैडमिंटन टीम के मुख्य कोच पुलेला गोपीचंद बेहद निराश है।

गोपीचंद ने कहा, "यह बहुत ही दुर्भाग्यशाली है कि हमारे देश का कोई भी खिलाड़ी सेमीफाइनल तक भी नहीं पहुंच पाया।"

खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर गोपीचंद ने कहा, "सात्विक चिराग की जोड़ी को को इंजरी की वजह से टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा। लक्ष्य और साइना ने पहले राउंड का मैच जीता था। हम यह कह सकते हैं कि किस्मत ने हमारा साथ नहीं दिया और इंजरी ने भी परेशान किया, लेकिन मुझे उम्मीद है कि हमारे खिलाड़ी वापसी करेंगे। अगले टूर्नामेंट में हम अच्छे परिणाम की उम्मीद करते हैं।"

आगे की रणनीति को लेकर उन्होंने कहा, "इसके जवाब में उन्होंने कहा कि हम इस पर चर्चा करेंगे। इस वक्त सभी खिलाड़ियों के पर्सनल ट्रेनर, फीजियो हैं और हम उनके साथ बैठेंगे और सभी मसलों पर बातचीत करके खिलाड़ियों में जो कमी है उसे दूर करने की कोशिश करेंगे।"

Next Story
Share it