Begin typing your search above and press return to search.

पैरा खेल

कनाडा पैरा बैडमिंटन प्रतियोगिता में भारतीय शटलरों ने किया धमाकेदार प्रदर्शन, जीते 2 स्वर्ण सहित कुल 9 पदक

देश के लिए पहला स्वर्ण पदक महिलाओं की एसएल 3 वर्ग में युवा खिलाड़ी मानसी जोशी ने दिलाया

Canada para badminton
X

कनाडा पैरा बैडमिंटन प्रतियोगिता में भारतीय शटलर

By

Amit Rajput

Updated: 2022-06-14T16:36:33+05:30

कनाडा के ओटावा में आयोजित कनाडा इंटरनेशनल पैरा बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारतीय शटलरों का प्रदर्शन शानदार रहा। जहां 8 से 12 जून के बीच आयोजित प्रतियोगिता में भारतीय शटलरों ने 2 स्वर्ण, 1 रजत और 6 कांस्य सहित कुल 9 पदक जीते। देश के लिए पहला स्वर्ण पदक महिलाओं की एसएल 3 वर्ग में युवा खिलाड़ी मानसी जोशी ने दिलाया जबकि दूसरा स्वर्ण पदक देश को एसयू5 वर्ग में मनीषा रामदास ने दिलाया।

भारत की मौजूदा विश्व चैंपियन मानसी जोशी ने एसएल 3 प्रतियोगिता के राउंड राॅबिन में अपने सारे मुकाबले जीते। उन्होंने पारूल परमार, फ्रांस की कैरोलिन बर्गेरोन , जापान की नोरिको इतो और यूक्रेन की ओकसाना कोजिना को हराया। वही फाइनल में उनका मुकाबला यूक्रेन की खिलाड़ी ओक्साना कोज्याना से हुआ। जहां वे मुकाबले में पहले दौर में पिछड़ में गई। लेकिन मानसी ने वापसी की और मुकाबला 21-18, 15 -21, 22 - 20 से अपने नाम कर लिया। मानसी का यह इस सत्र का चौथा खिताब है। इसके पहले वे देश के लिए तीन अन्य खिताब जीत चुकी है।

वही पुरुषों के एसयू 5 वर्ग का खिताब मनीषा रामदास ने जीता और देश के लिए दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया। मनीषा ने रामदास ने फाइनल में टोक्यो पैरालंपिक खेलों की कांस्य पदक विजेता अकिको सुगिनो को सीधे सेटों में 27-25, 21-9 से हराया। इसके अलावा भारत के प्रमोद भगत ने पुरुष सिंगल्स एसएल3 इवेंट में रजत पदक से संतोष करना पड़ा। भगत को फाइनल में इंग्लैंड के डेनिएल बेथेल ने 21-14, 9-12, 21-15 से शिकस्त मिली।

वही अगर कांस्य पदकों की बात करें तो भारत की पारुल परमार को महिला सिंगल्स एसएल3 इवेंट में कांस्य पदक जीता। इनके अलावा पुरुषों की एसएल 3 सिंगल्स प्रतियोगिता के सेमीफाइनल में हारने वाले नितेश कुमार को भी कांस्य पदक मिला। तरुण ढिल्लों, रुतिक रघुपति ने अपने कैटेगरी में कांस्य पदक जीता, तो रुतिक और मानसी जोशी ने मिक्स्ड डबल्स में कांस्य पदक जीतने में कामयाबी दर्ज की। नितेश कुमार और तरुण ढिल्लों ने मिलकर पुरुष डबल्स में भी कांस्य पदक अपने नाम किया।

Next Story
Share it