Begin typing your search above and press return to search.

बैडमिंटन

इंडिया ओपन 2023 ड्रॉ: एक्सेलसन, मोमोता और शी यू क्वी के साथ 'क्वार्टर ऑफ डेथ' में दिखेंगे श्रीकांत, लक्ष्य सेन और प्रणय

पीवी सिंधु महिला एकल में थाईलैंड की सुपनिदा कटेथोंग के खिलाफ खेलते हुए अपने अभियान की शुरुआत करेंगी

Kidambi Srikanth Badminton
X

किदाम्बी श्रीकांत

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-12-30T15:31:35+05:30

भारतीय पुरुष एकल खिलाड़ियों को योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन 2023 में एक कठिन ड्रॉ दिया गया है। तीनों पुरुष खिलाड़ियों को एक क्वार्टर में एक साथ रखा गया है जबकि पूर्व विश्व चैंपियन पीवी सिंधु का सामना शुरुआती दौर के मुकाबले में अंतिम संस्करण की सेमीफाइनल की अपनी प्रतिद्वंद्वी सुपनिदा केटेथोंग से होगा, जिससे वह हार गई थीं।

एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर सीरीज के हिस्से के रूप में मशहूर योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन को इस साल सुपर 750 श्रेणी में अपग्रेड किया गया है। अपग्रेडेशन का मतलब है कि विश्व बैडमिंटन के लगभग सभी शीर्ष सितारे 17-22 जनवरी, 2023 से इंदिरा गांधी स्टेडियम परिसर के केडी जाधव इंडोर हॉल में एक्शन में होंगे, जो रोमांच से भरपूर होगा।

भारत की खिताबी जीत की उम्मीद किदाम्बी श्रीकांत, एचएस प्रणय और लक्ष्य सेन की तिकड़ी पर टिकी हुई है, लेकिन ड्रॉ के भाग्य का मतलब है कि उनमें से केवल एक क्वार्टर से अंतिम आठ की बाधा को पार कर सकता है। इस सूची में मौजूदा विश्व और ओलंपिक चैंपियन डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसेन, चीन के शि यू क्वी और जापान के केंटो मोमोटा भी शामिल हैं।

डिफेंडिंग चैंपियन सेन अपने अभियान की शुरुआत हमवतन प्रणय के खिलाफ खेलते हुए करेंगे और उनके मैच के विजेता के मोमोटा से भिड़ने की संभावना है, जो इस साल फॉर्म के लिए संघर्ष करने के बाद 2023 में पहली बार मैदान पर उतर रहे हैं। जाहिर है, मोमोता को फार्म की तलाश होगी और इस कारण वह अपना श्रेष्ठ खेल दिखाने का प्रयास करेंगे।

पूर्व चैम्पियन श्रीकांत को शी के खिलाफ होने वाले संभावित मुकाबले से पहले शुरुआती दौर में शीर्ष वरीय एक्सेलसन की चुनौती से पार पाना होगा। शी ने करीब 10 महीने तक मैदान से बाहर रहने के बाद मजबूत वापसी की है और ऐसे में उन्हें हराना आसान नहीं होगा।

अन्य तीन क्वार्टर में से कोई भी इतने मजबूत स्टार नहीं हैं, लेकिन आगे देखने के लिए कुछ ऐसे मुकाबले होंगे, जिनका फैंस को बेसब्री से इंतजार होगा। तीसरी वरीयता प्राप्त और पूर्व विश्व चैंपियन सिंगापुर के लोह कीन यू पहले दौर में तेजी से उभरते जापानी कोडाइ नारोका से भिड़ेंगे जबकि छठी वरीयता प्राप्त इंडोनेशिया के एंथोनी सिनिसुका गिंटिंग का सामना चीन के लू गुआंग जू से होगा।

महिलाओं के एकल वर्ग में, जापान की पूर्व विश्व चैंपियन नोजोमी ओकुहारा और स्पेन की कैरोलिना मारिन का सामना शुरुआती दौर में होगा। दोनों 2022 में चोटों से परेशान थीं और इंडिया ओपन 2023 में गैर-वरीयता प्राप्त खिलाड़ियों के तौर पर अपनी चुनौती पेश करेंगी।

शीर्ष वरीय जापान की अकाने यामागुची अपने अभियान की शुरुआत स्पेन की क्लारा अज़ुरमेंडी के खिलाफ खेलते हुए करेंगी जबकि ओलंपिक चैंपियन और चीन की तीसरी वरीय चेन यू फेई पहले दौर में कनाडा की मिशेल ली से भिड़ेंगी।

भारतीय खिलाड़ियों में, पांचवीं वरीयता प्राप्त सिंधु पिछले संस्करण के सेमीफाइनल मुकाबले की पुनरावृत्ति में कथेथोंग का सामना करेंगी। उस मुकाबले में सिंधु तीन गेम के बाद हार गई थीं। पूर्व विश्व चैंपियन, जो अगस्त 2022 में राष्ट्रमंडल खेलों के बाद से एड़ी की चोट के कारण एक्शन से बाहर हैं, को चेन युफेई के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मुकाबला खेलना पड़ सकता है।

इसी तरह, मालविका बंसोड़ और आकर्षी कश्यप के पास छाप छोड़ने का मौका होगा।

सायना नेहवाल डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेंगी। उनके अलावा दो अन्य भारतीय भी महिला एकल में मैदान में होंगी।

उभरते हुए सितारों में शामिल मालविका बंसोड़ और आकर्षी कश्यप सुपर 750 स्तर पर अपनी पहली उपस्थिति के शुरुआती दौर में शीर्ष-10 प्रतिद्वंद्वी से बचने में कामयाब रहीं और अब वे अपना सफर जीत के साथ शुरू कर सकती हैं।

वर्ल्ड नंबर-30 बंसोड़ थाईलैंड के वर्ल्ड नंबर-11 बुसानन ओंगबामरुंगफान से भिड़ेंगी, जबकि पहले दौर में वर्ल्ड नंबर-32 कश्यप का सामना पूर्व इंडिया ओपन चैंपियन और दुनिया की 26वें नंबर की खिलाड़ी अमेरिका की बेइवेन झांग से होगा।

पुरुषों के युगल वर्ग में पांचवीं वरीयता प्राप्त सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी डेनमार्क के जेप्पे बे और लासे मोल्हेडे के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेंगे, जो दुनिया में 31वें स्थान पर हैं। उन्हें क्वार्टर फाइनल में शीर्ष वरीयता प्राप्त ताकुरो होकी और जापान के युगो कोबायाशी के खिलाफ खेलना पड़ सकता है और यह जोड़ी खिताब की रक्षा के सफर में भारतीयों के लिए चुनौती बन सकती है।

अन्य भारतीय जोड़ियों में विश्व नंबर-21 एमआर अर्जुन और ध्रुव कपिला शुरुआती दौर में डेनमार्क के किम एस्ट्रुप और एंडर्स रासमुसेन की छठी वरीयता प्राप्त जोड़ी से भिड़ेंगे जबकि कृष्णा प्रसाद जी और विष्णुवर्धन गौड पी नीदरलैंड्स के रूबेन जिल और टाई वान डेर लेक के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेंगे।

महिला युगल के अन्य मुकाबलों में, 2022 ऑल इंग्लैंड सेमीफाइनलिस्ट ट्रीसा जॉली और गायत्री गोपीचंद पुलेला शुरुआती दौर में फ्रांस की मार्गोट लैंबर्ट और ऐनी ट्रान से भिड़ेंगी, जबकि अश्विनी भट के. और शिखा गौतम आठवीं वरीयता प्राप्त मलेशिया की पियरली टैन और थिनाह मुरलीधरन के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेंगी।

मिश्रित युगल वर्ग में भारत की एकमात्र एंट्री- ईशान भटनागर और तनीषा कास्त्रो का सामना नीदरलैंड्स के रॉबिन तबेलिंग और सेलेना पीक से होगा।

Next Story
Share it