Begin typing your search above and press return to search.

बैडमिंटन

बीएआई ने शंकर मुथुसामी, सात्विक और चिराग शेट्टी के लिए नकद पुरस्कारों की घोषणा की

शंकर और चिराग तथा सात्विक ने हाल ही में क्रमशः BWF वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप और फ्रेंच ओपन 750 वर्ल्ड टूर इवेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया है

Sankar Muthusamy Subramanian, Satwiksairaj Rankireddy and Chirag Shetty
X

शंकर मुथुसामी, सात्विक और चिराग शेट्टी

By

The Bridge Desk

Updated: 2022-10-31T18:47:21+05:30

भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को पुरस्कृत करने के अपने प्रयास को जारी रखते हुए शंकर मुथुसामी और सात्विक रेड्डी तथा चिराग शेट्टी की पुरुष युगल जोड़ी को 5-5 लाख रुपये के नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है। शंकर और चिराग तथा सात्विक ने हाल ही में क्रमशः BWF वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप और फ्रेंच ओपन 750 वर्ल्ड टूर इवेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

बीएआई के अध्यक्ष डॉ. हिमंता बिस्वा सरमा ने पुरस्कार राशि की घोषणा करते हुए कहा, "यह हम सभी के लिए गर्व का क्षण है कि हमारे जूनियर और सीनियर शटलरों ने टाप क्लास के खिलाड़ियों को हराकर पोडियम फिनिश सुनिश्चित किया। ऐसा करते हुए ये हमारे लिए गौरव के ध्वजवाहक बने हैं।"

सात्विक और चिराग की युगल जोड़ी ने चीनी ताइपे के लू चिंग याओ और यांग पो हान को हराकर फ्रेंच ओपन खिताब जीता और बीडब्ल्यूएफ सुपर 750 टूर्नामेंट जीतने वाली पहली भारतीय युगल जोड़ी बनी। इन दोनों ने क्वार्टर फाइनल में विश्व की नंबर-1 जोड़ी ताकुरो होकी और यूगो कोबायाशी को भी हराया था।

इस जोड़ी को पेरिस में ऐतिहासिक स्वर्ण जीतने पर पांच लाख रुपये मिलेंगे।

दूसरी ओर, पूर्व जूनियर वर्ल्ड नंबर-1 शंकर मुथुसामी ने चीनी ताइपे के कुओ कुआन लिन के खिलाफ फाइनल मुकाबले में उतरने से पहले विश्व जूनियर चैंपियनशिप के दौरान अपने शानदार खेल से सभी को प्रभावित किया था। वह हालांकि फाइनल में हार गए थे।

हार के बावजूद वह इस प्रीमियर जूनियर चैंपियनशिप में पदक जीतने वाले नौवें भारतीय शटलर बन गए। रजत पदक जीतने पर उन्हें पांच लाख रुपये के पुरस्कार से सम्मानित किया गया।। वह इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में रजत पदक जीतने वाले चौथे भारतीय भी बने।

बीएआई सचिव संजय मिश्रा ने कहा, "पिछले एक हफ्ते में हमारे लड़के निडर होकर खेले। हम इस तरह के प्रमुख वैश्विक आयोजनों में भारत को पदक जीतने वाले शीर्ष देशों में शुमार करते हुए देखकर वास्तव में खुश हैं। यह युवा पीढ़ी के लिए भी बहुत बड़ी प्रेरणा होगी।"

चिराग शेट्टी और सात्विक की युगल जोड़ी के लिए यह एक ड्रीम साल रहा है क्योंकि उन्होंने 2022 की शुरुआत इंडिया ओपन में स्वर्ण पदक के साथ की और उसके बाद ऐतिहासिक थॉमस कप और राष्ट्रमंडल खेलों में जीत हासिल की और फिर विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।

बीएआई ने पहले थॉमस कप विजेता टीम के लिए 1 करोड़ रुपये दिए थे और 2022 राष्ट्रमंडल खेलों के पदक विजेताओं के साथ-साथ 2021 और 2022 विश्व चैंपियनशिप पदक विजेताओं के लिए करीब 1.5 करोड़ के नकद पुरस्कारों की घोषणा की थी।

Next Story
Share it