मंगलवार, नवम्बर 24, 2020
होम ताज़ा ख़बर PBL 2020: पुणे को हराकर फाइनल में पहुंची बेंगलुरु रैप्टर्स

PBL 2020: पुणे को हराकर फाइनल में पहुंची बेंगलुरु रैप्टर्स

बेंगलुरू रैप्टर्स ने शनिवार को जीएमसी बालायोगी स्टेडियम में खेले गए प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के पांचवें सीजन के दूसरे सेमीफाइनल में पुणे 7 एसेस को 4-3 से हरा फाइनल में प्रवेश कर लिया। फाइनल में बेंगलुरू का सामना रविवार को नॉर्थईस्टर्न वॉरियर्स से होगा जिसने चेन्नई सुपरस्टार्ज को मात देकर फाइनल में जगह पक्की की है।

पुणे ने दिन के पहले ही मैच को ट्रम्प मैच बना दिया। चिराग शेट्टी और हेंड्रा सेतियावन की पुरुष युगल की जोड़ी पर बेंगलुरू की रियान अबुंग सापुत्रो और अरुण जॉर्ज की जोड़ी को मात दे अपनी टीम को दो अंक दिलाने की जिम्मेदारी थी जिसमें वो सफल रही। पुणे की जोड़ी ने यह मैच 15-12, 15-10 से अपने नाम कर 2-0 की बढ़त ले ली। गौरतलब है कि पीबीएल में ट्रम्प मैच जीतने वाली टीम को दो अंक मिलते हैं और जो टीम अपना ट्रम्प मैच हार जाती है उसे एक अंक का नुकसान होता है।

दिन का दूसरा मैच पुरुष एकल वर्ग का था। बेंगलुरू की उम्मीदें ब्रूस लेवराडेज से थीं तो वहीं पुणे मंजूनाथ से अपनी बढ़त को आगे ले जान की उम्मीद लगाए बैठी थी। लेवराडेज ने हालांकि यह मैच 15-14, 9-15 और 15-8 से अपने नाम किया और बेंगलुरू को पहला अंक दिलाया। पहले गेम में मिथुन ने 4-3 की बढ़त ले ली। ब्रेक में भी वह आगे रहे। ब्रेक के बाद मुकाबला कड़ा हो गया। स्कोर 10-10, 11-11, 12-12, 13-13 और 14-14 चल रहा था। यहां लेवराडेज गेम प्वाइंट अपने नाम कर ले गए। दूसरे गेम में हालांकि मिथुन अच्छी शुरुआत करते हुए 5-1 की बढ़त ली और फिर ब्रेक में 8-6 के स्कोर के साथ गए। ब्रेक के बाद मिथुन ने गेम अपने नाम करने में समय नहीं लिया। मैच निर्णायक तीसरे गेम में चला गया। तीसरे गेम में ब्रूस ने 5-3 की बढ़त ली और ब्रेक में दो अंक की बढ़त के साथ गए। ब्रेक बाज लेवराडेज ने मिथुन को वापसी का कोई मौका नहीं दिया और अपनी टीम के खाते में एक अंक डाला।

तीसरा मैच भी पुरुष एकल वर्ग का था। जहां साकाई के सामने बेंगलुरू के बी. साई प्रणीत थे। साकई ने यह मैच 15-11, 15-13 से अपने नाम कर पुणे को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। पुणे इस मैच के बाद 3-1 से आगे थी। पहले गेम में साकाई ने 3-1 की बढ़त के साथ आगाज किया लेकिन प्रणीत ने 4-4 से बराबरी कर ब्रेक में 8-6 के स्कोर के साथ प्रवेश किया। ब्रेक के बाद प्रणीत ने 10-8 की बढ़त ले ली लेकिन साकई ने स्कोर 11-11 से बराबर किया और फिर यहां से लगातार चार अंक ले गेम अपने नाम किया। दूसरे गेम में भी प्रणीत आगे थे और स्कोर उनके पक्ष में 3-0 था। साकई ने यहां से वापसी की और ब्रेक में 8-4 के स्कोर के साथ गए। ब्रेक के बाद प्रणीत अंक गंवाते रहे और साकई मैच जीत ले गए।

चौथा गेम महिला एकल वर्ग का था। बेंगलुरू की ओर से पूर्व वर्ल्ड नंबर-1 ताई जु यिंग और पुणे की ओर से रितपुर्णा दास कोर्ट पर उतरी थीं। रितुपर्णा ने यिंग को बेहतरीन टक्कर दी लेकिन वो 15-12, 15-12 से मैच जीत ले गईं। ट्रम्प मैच के कारण बेंगलुरू को दो अंक मिले और स्कोर 3-3 से बराबर हो गया। रितुपर्णा ने शुरुआत तो शानदार की और 4-3 की बढ़त लेने के बाद ब्रेक में 8-7 के स्कोर के साथ गईं। लेकिन यिंग ने अपने अनुभव और धैर्य से ब्रेक के बाद रितपुर्णा को ज्यादा आगे नहीं जाने दिया और 10-10 से स्कोर बराबर करने के बाद गेम अपने नाम किया। दूसरे गेम में भी रितुपर्णा ने यिंग को परेशानी में डालते हुए 5-3 की  बढ़त ली और फिर ब्रेक में 8-7 के स्कोर के साथ गईं। ब्रेक के बाद रितु हालांकि एक बार फिर यिगं के सामने ढेर हो गई और गेम के साथ मैच भी गंवा गई।

अब मिश्रित युगल का अंतिम मुकाबला निर्णायक बन गया था। बेंगलुरू से इस मैच को खेलने के लिए इयोम हय वोन और पेंग सुन चान का सामना पुणे की क्रिस एडकॉक और गैब्रिएल एडकॉक की जोड़ी से था। बेंगलुरू की जोड़ी ने यह मैच 15-13, 15-10 से जीतते हुए अपनी टीम को फाइनल में पहुंचा दिया।