सोमवार, सितम्बर 28, 2020
होम ताज़ा ख़बर सिंगापुर ओपन : इस साल की निराशा दूर करने उतरेंगी सिंधु, बेहतर...

सिंगापुर ओपन : इस साल की निराशा दूर करने उतरेंगी सिंधु, बेहतर करना चाहेंगे श्रीकांत और साइना

टॉप इंडियन शटलर पीवी सिंधु आज से शुरू हो रहे सिंगापुर ओपन में आल इंग्लैंड ओपन और मलेशिया ओपन की निराशा से उबरकर अच्छा प्रदर्शन करना चाहेंगी। उनके साथ ही मलेशिया ओपन में निराशाजनक तरीके से हारीं साइना नेहवाल और टूर्नामेंट के क्वॉर्टर-फाइनिस्ट किदांबी श्रीकांत भी इस टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करना चाहेंगे।

पिछले दिसंबर में बी डब्ल्यू एफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स जीतने वाली सिंधु पिछले कुछ हफ्तों से लगातार खराब फॉर्म में चल रही हैं। ऑल इंग्लैंड ओपन के पहले और मलेशिया ओपन के दूसरे राउंड में कोरिया की सुंग जि ह्यून से हारने वाली सिंधु इस बार ऐसी गलतियों से बचना चाहेंगी। इंडोनेशिया की लियानी अलेसांद्रा मैनेकी के खिलाफ मैच से अपने अभियान की शुरुआत करने जा रही सिंधु पर इंडिया ओपन के सेमीफाइनल में चाइना की ही बिंगजियाओ के खिलाफ मिली हार से पार पाने की चुनौती भी होगी।

दूसरी तरफ इस सीजन टाइटल जीतने वाली इकलौती भारतीय शटलर साइना नेहवाल को पेट के इंफेक्शन से लौटने के बाद अच्छा प्रदर्शन ना कर पाने के दबाव से निपटना होगा। इस इंफेक्शन से लौटने के बाद उन्होंने ऑल इंग्लैड के क्वॉर्टर-फाइनल में एंट्री की थी लेकिन इसके बाद फिर उन्हें अपना इलाज कराना पड़ा था। इसके चलते साइना स्विस ओपन और इंडिया ओपन में नहीं खेली थीं।

आराम के बाद वापसी कर रही साइना के लिए मलेशिया ओपन बुरे सपने की तरह रहा। टूर्नामेंट के पहले ही राउंड में उन्हें थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवोंग ने बाहर का रास्ता दिखा दिया। सिंगापुर ओपन के पहले राउंड में साइना को डेनमार्क की होजमार्क कयारफेल्ट से भिड़ना है और उनके लिए यह मैच आसान नहीं रहेगा।

मेंस सिंगल्स में भारतीय चुनौती की अगुवाई कर रहे किदांबी श्रीकांत ने हाल में बेहतर प्रदर्शन तो किया है लेकिन उनका यह प्रदर्शन टाइटल जीतने के लिए पर्याप्त नहीं था। मलेशिया ओपन के क्वॉर्टर-फाइनल में ओलंपिक चैंपियन चेन लॉन्ग से हारने से पहले श्रीकांत इंडिया ओपन के फाइनल तक गए थे लेकिन वहां भी उनके हाथ निराशा ही लगी थी।

अन्य भारतीय शटलर्स की बात करें तो एच एस प्रणॉय को फ्रांस के ब्राइस लेवरडेज़ से जबकि स्विस ओपन के फाइनलिस्ट रहे बी साई प्रणीत को वर्ल्ड नंबर वन केंटो मोमोटा से भिड़ना है। मिक्स्ड डबल्स में प्रणव जेरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी, विमिंस डबल्स में अश्विनी पोनप्पा और सिक्की रेड्डी जबकि मेंस डबल्स में मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी भारतीय चुनौती पेश करेंगे।