Begin typing your search above and press return to search.

एथलेटिक्स

राष्ट्रमंडल खेलों के पहले देश को लगा झटका, भारत के दो खिलाड़ी हुए डोपिंग टेस्ट में फेल

जो खिलाड़ी डोपिंग में फेल हुए, वें दोनों खिलाड़ी एथलेटिक्स के दिग्गज खिलाड़ी है

doping
X
By

Amit Rajput

Updated: 2022-07-08T19:00:36+05:30

देश में खेलों पर हमेशा से डोपिंग का खतरा रहता है। कई बार भारत के कई खिलाड़ी डोपिंग के टेस्ट में फेल भी हो जाते है जिसके कारण उन्हें काफी समय तक प्रतिबन्ध भी झेलना पड़ता है। अब एक बार फिर भारत के कुछ खिलाड़ी डोपिंग के टेस्ट में फेल हो गए है।

दोनों ही खिलाड़ियों पर तीन साल का बैन भी लगाया जा सकता है, लेकिन फजीहत से बचने के लिए इस मामले में भारतीय एथलेटिक्स फेडेरेशन ने कोई खुलासा नहीं किया है। इन खिलाड़ियों में एक महिला है जबकि एक पुरुष है , दोनों ही खिलाड़ियों ने टोक्यो ओलम्पिक में भारत का प्रतिनिधत्व किया है।

वही आपको बता दे कि डोपिंग में खिलाड़ियों के फेल होने के मामले में भारत देश दुनिया में तीसरे नंबर पर आता है। विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी की 2021 में जारी रिपोर्ट के अनुसार डोपिंग के सबसे ज्यादा 167 मामले रूस में थे। इसके बाद इटली में 157 और भारत में 152 मामले पाए गए थे।

राष्ट्रमंडल खेलों के पहले लगा झटका

जो खिलाड़ी डोपिंग में फेल हुए, वें दोनों खिलाड़ी एथलेटिक्स के दिग्गज खिलाड़ी है। भारत की जिस महिला एथलीट की डोपिंग रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, वह राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर का हिस्सा थी और उससे इस साल कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में मेडल की उम्मीद थी। यह एथलीट विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप के फाइनल में भी पहुंचने की दावेदार थी। इस खिलाड़ी के शानदार प्रदर्शन के चलते देश को इससे पदक की उम्मीद थी। इसके लिए टोक्यो ओलंपिक के बाद एक विदेशी कोच भी रखा गया था।

पुरुष एथलीट अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत के लिए पदक जीत चुका है। उसकी हालिया फॉर्म कुछ खास नहीं थी, लेकिन भविष्य में उससे पदक की की उम्मीद थी। दोनों ही एथलीट भारत की ओलंपिक पोडियम स्कीम का हिस्सा थे। इस स्कीम के तहत खिलाड़ियों को खेल मंत्रालय की तरफ से अलग-अलग समय पर पैसे दिए जाते हैं।

Next Story
Share it