मंगलवार, सितम्बर 22, 2020
होम एथलेटिक्स एथेलेटिक फेडरेशन ने किये कुछ नामों के खुलासे तो वहीं नीरज चोपड़ा...

एथेलेटिक फेडरेशन ने किये कुछ नामों के खुलासे तो वहीं नीरज चोपड़ा पर साधी चुप्पी

इंडियन ग्रैंड प्री के बाद एथलेटिक फेडरेशन ऑफ़ इंडिया ने वर्ल्ड एथेलेटिक चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों के नामों की घोषणा कर दी है पर नीरज चोपड़ा के नाम पर अभी भी चुप्पी बरक़रार है|

25 नामों की घोषणा करते हुए, फेडरेशन ने IAAF दोहा वर्ल्ड चैम्पियनशिप के लिए उन नामों का ज़िक्र नहीं किया जो चोट के कारण बाहर हैं या फिर नेशनल कैंप के बाहर के खिलाड़ी हैं| एक ऐसा ही नाम हैं नीरज चोपड़ा का जो अभी अभी अपने रेहाब के बाद मैदान पर वापस आएं हैं| पिछली बार जब नीरज ने एल्बो में दिक्कत की शिकायत की थी तो मानो फेडरेशन की साँस ही अटक गई हो| पर वापसी करने के बाद, नीरज अच्छे फॉर्म में नज़र आ रहे हैं| हालांकि यह कन्फर्म नहीं हुआ हैं कि वह वर्ल्ड चैम्पियनशिप का हिस्सा बनेंगे या नहीं पर इतने महीने आराम करने के बाद, सीधे वर्ल्ड चैम्पियनशिप के मैदान में उतरना उनके ऊपर दबाव बनाएगा| अर्चना सुसीतरन(200 मीटर्स) और हाई जम्पर तेजस्विनी शंकर का भाग लेना IAAF के आमंत्रण पर निर्भर करता हैं जो उनकी रैंकिंग के हिसाब से होगा|दुती चंद(100 मीटर्स) ने भी 25 नामों में जगह बना ली है|

जिन नामों की पुष्टि की गई हैं उसमे सबसे बड़े उम्मीदवार हैं जिनसन जॉनसन जिन्होंने ISTAF बर्लिन इवेंट में न सिर्फ नेशनल रिकॉर्ड बनाया बल्कि 3 मिनट और 35 . 24 सेकंड्स की दौड़ से वर्ल्ड चैम्पियनशिप में भी क्वालिफाई कर लिया| इनके आलावा मुरली श्रीशंकर, जो वर्ल्ड एथलेटिक चैम्पियनशिप के लिए क्वालिफाई करने वाली पहले खिलाड़ी थी, उन्होंने भी 8 मीटर की लॉन्ग जम्प से उम्मीदें बनाई रखी हैं| 19 वर्षीय श्रीशंकर ने भी अपनी हील इंजरी के बाद वापसी की है|

महिलाओं, पुरषों और मिक्स्ड रिले इवेंट्स से भी फेडरेशन को काफी उम्मीदें हैं| “हम सब ने रिले की टीम पर काफी समय निवेश किया है और गलिना बुखारिन से सीखना उनको वर्ल्ड चैम्पियनशिप के लिए और ज़्यादा तैयार करता है|”

अंजलि देवी ने भले ही क्वालिफाइंग मार्क टच कर लिया हो पर उनको पटियाला में फिर एक बार ट्राइयल देना पड़ेगा|